25 नवंबर को महाराष्ट्र में बन जाएगी सरकार! मोदी से मिलेंगे शरद पवार

कॉन्ग्रेस ने अहमद पटेल, एके एंटोनी, वेणुगोपाल राव और मल्लिकार्जुन खड़गे को शिवसेना के साथ मिल कर सरकार गठन की दिशा में बातचीत करने का टास्क सौंपा है। कॉन्ग्रेस पूर्ण आश्वासन चाहती है कि शिवसेना अपना हिंदुत्व वाला रुख त्याग दे।

शिवसेना विधायक अब्दुल सत्तार ने दावा किया है कि उनकी पार्टी 25 नवम्बर के आसपास सरकार बना लेगी। शिवसेना ने अपने सभी विधायकों को 5 दिनों के कपड़े और आधार कार्ड के साथ मुंबई आने को कहा है। मीडिया में चल रही ख़बरों के अनुसार, शिवसेना सरकार गठन के प्रयास में जोर-शोर से लग गई है। अब्दुल सत्तार महारष्ट्र की कॉन्ग्रेस सरकार में मंत्री रहे हैं और उन्होंने इस वर्ष लोकसभा चुनाव से ऐन पहले उद्धव ठाकरे की मौजूदगी में शिवसेना ज्वाइन की थी।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी कहा है कि दिसंबर से पहले सरकार गठन का काम पूरा हो जाएगा, क्योंकि एनसीपी और कॉन्ग्रेस से बातचीत एकदम सही रास्ते पर है। बुधवार (अक्टूबर 20, 2019) को कॉन्ग्रेस और एनसीपी के बीच बैठक भी होने वाली है। ये बैठक पहले मंगलवार को ही होनी थी, लेकिन कॉन्ग्रेस नेताओं के इंदिरा गाँधी के जयंती कार्यक्रमों में व्यस्त रहने के कारण यह संभव नहीं हो सका। कॉन्ग्रेस ने अहमद पटेल, एके एंटोनी, वेणुगोपाल राव और मल्लिकार्जुन खड़गे को शिवसेना के साथ मिल कर सरकार गठन की दिशा में बातचीत करने का टास्क सौंपा है।

कॉन्ग्रेस पूर्ण आश्वासन चाहती है कि शिवसेना अपना हिंदुत्व वाला रुख त्याग दे। यही कारण है कि उद्धव ठाकरे ने अपना प्रस्तावित अयोध्या दौरा भी रद्द कर दिया। इस बात को लेकर भी चर्चा चल रही है कि शिवसेना को पूरे 5 वर्षों के लिए मुख्यमंत्री का पद दिया जाना चाहिए या नहीं। महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस के कई नेता दिल्ली में कैम्प कर रहे हैं।उधर शिवसेना ने भी अपने मुखपत्र ‘सामना’ के जरिए भाजपा पर निशाना साधा। शिवसेना ने महाराष्ट्र में पिछले कुछ महीनों में किसानों द्वारा की गई आत्महत्या के आँकड़े गिनाते हुए फडणवीस सरकार पर निशाना साधा। शिवसेना ने दावा किया कि पिछले 1 महीने में राज्य में 68 किसानों ने आत्महत्या की है।

>
- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

उधर संसद में एनसीपी के मुखिया शरद पवार की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बैठक तय हो गई है। बुधवार को दोनों नेता मुलाक़ात करेंगे। एनसीपी ने कहा है कि ये बैठक किसानों के मुद्दे पर होगी। आज राज्यसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की रिपोर्ट भी सदन के टेबल पर रखेंगे। महाराष्ट्र में फ़िलहाल राष्ट्रपति शासन लगा हुआ है। अब देखना यह है कि दिल्ली में एनसीपी और कॉन्ग्रेस के नेताओं के बीच होने वाली बैठक में क्या नतीजा निकलता है?

इन सियासी हलचलों के बीच राउत ने कहा है कि अगले 5-6 दिन में सरकार बन जाएगी। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में जो भी समस्याएँ आई हैं, वो सभी अगले कुछ दिनों में ख़त्म हो जाएँगी।

ये भी पढ़ें: दिल्ली पहुँच पवार का यू टर्न: हमारे खिलाफ लड़ी शिवसेना, उसके साथ सरकार कैसे बना लें
ये भी पढ़ें: रात तक थी डील पक्की, अब पवार ने कहा– अभी और वक्त लगेगा: बिगड़ रही बात

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बरखा दत्त
मीडिया गिरोह ऐसे आंदोलनों की तलाश में रहता है, जहाँ अपना कुछ दाँव पर न लगे और मलाई काटने को खूब मिले। बरखा दत्त का ट्वीट इसकी प्रतिध्वनि है। यूॅं ही नहीं कहते- तू चल मैं आता हूँ, चुपड़ी रोटी खाता हूँ, ठण्डा पानी पीता हूँ, हरी डाल पर बैठा हूँ।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,018फैंसलाइक करें
26,176फॉलोवर्सफॉलो करें
126,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: