‘इटैलियन और उनकी संतानों को हटाएँ, ममता बनर्जी संयुक्त कॉन्ग्रेस की अध्यक्ष बनें’

"राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी को भी इसी राह पर चलना चाहिए और शामिल (कॉन्ग्रेस में) हो जाना चाहिए।"

अपने बयानों के कारण भाजपा को अक्सर परेशानी में डालने वाले BJP नेता सुब्रमण्यम स्वामी एक बार फिर से अपने बयान के कारण चर्चा में आ गए हैं। स्वामी ने कर्नाटक और गोवा की राजनैतिक परिस्थितियों को देखते हुए कॉन्ग्रेस के हाई कमान पर तंज कसा है, साथ ही अपनी पार्टी पर भी निशाना साधा है।

उन्होंने ट्वीट करके लिखा, “गोवा और कश्मीर के हालातों को देखते हुए मुझे लगता है कि यदि देश में भाजपा एकमात्र पार्टी बच गई तो इससे राष्ट्र का लोकतंत्र कमजोर हो जाएगा। इसका हल क्या है? इटैलियन और उनकी संतानों को हटने के लिए कहें, ताकि उसके बाद ममता संयुक्त कॉन्ग्रेस की अध्यक्ष बनें। राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (NCP) को भी इसी राह पर चलना चाहिए और शामिल (कॉन्ग्रेस में) हो जाना चाहिए।”

गौरतलब है स्वामी का यह बयान उस समय चर्चा में आया है जब कर्नाटक और गोवा में अपनी बिगड़ती स्थिति के लिए कॉन्ग्रेस खुलकर भाजपा को जिम्मेदार ठहरा रही है। इतना ही नहीं, कॉन्ग्रेस नेता गुलाब नबी आजाद तो राज्यसभा में भाजपा पर संविधान की परवाह न करने का आरोप भी लगा चुके हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

स्वामी द्वारा दिए गए विवादित बयान ‘बीजेपी में शराब बैन हो‘; ‘बीजेपी के नेता वेस्टर्न कपड़ों में क्यों‘; ‘राजीव की हत्या से सोनिया को फायदा हुआ’ आदि पहले भी सुर्खियों में रह चुके हैं। उस दौरान भी स्वामी के कारण पार्टी को आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था और अब फिर वैसा ही हो रहा है।

बता दें कि इन दिनों कर्नाटक में जहाँ बागी विधायकों के कारण कॉन्ग्रेस और जेडीएस सरकार पर संकट गहरा गया है, वहीं गोवा में भी कॉन्ग्रेस के 15 में से 10 विधायक भाजपा से जुड़ गए हैं, जिस कारण कॉन्ग्रेस के पास विधानसभा में सिर्फ़ 5 विधायक बचे हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

गौरी लंकेश, कमलेश तिवारी
गौरी लंकेश की हत्या के बाद पूरे राइट विंग को गाली देने वाले नहीं बता रहे कि कमलेश तिवारी की हत्या का जश्न मना रहे किस मज़हब के हैं, किसके समर्थक हैं? कमलेश तिवारी की हत्या से ख़ुश लोगों के प्रोफाइल क्यों नहीं खंगाले जा रहे?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

100,227फैंसलाइक करें
18,920फॉलोवर्सफॉलो करें
106,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: