Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीतिसरकारी नौकरी पर मिशन मोड में मोदी सरकार: 1.5 साल में 10 लाख लोगों...

सरकारी नौकरी पर मिशन मोड में मोदी सरकार: 1.5 साल में 10 लाख लोगों की बहाली होगी, सभी विभागों का रिव्यू कर PM ने दिए निर्देश

पीएमओ इंडिया ने आज ट्वीट करके जानकारी दी, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों की समीक्षा की और निर्देश दिया है कि मिशन मोड में अगले डेढ़ वर्षों में दस लाख लोगों की भर्ती की जाए।"

मोदी सरकार ने लोगों को रोजगार देने के क्रम में बड़ी घोषणा की है। प्रधानमंत्री कार्यालय से ट्वीट करके बताया गया कि अगले डेढ़ साल यानी कि 18 महीनों में सरकार अलग-अलग विभाग में लोगों को 10 लाख नौकरियाँ देगी।

पीएमओ इंडिया ने आज (14 जून 2022) इस संबंध में ट्वीट करके जानकारी दी। ट्वीट में लिखा था, “प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों की समीक्षा की और निर्देश दिया है कि मिशन मोड में अगले डेढ़ वर्षों में दस लाख लोगों की भर्ती की जाए।”

बता दें कि बीते साल केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में बताया था कि केंद्र सरकार के विभागों में 1 मार्च, 2020 तक 8.72 लाख पद खाली थे। अब ऐसे में साफ है कि फिलहाल यह रिक्त पद बढ़कर 10 लाख के करीब हो गया होगा, जिन पर भर्ती के लिए समीक्षा के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने आदेश दिया है। जितेंद्र सिंह ने बताया था कि केंद्र सरकार के समस्त विभागों में कुल 40 लाख 4 हजार पद हैं, जिनमें से 31 लाख 32 हजार के करीब कर्मचारी नियुक्त हैं। इस तरह 8.72 लाख पदों पर भर्ती की जरूरत है।

उल्लेखनीय है कि सरकार में नौकरी की भर्ती के लिए दो संगठन हैं। पहला- संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) और दूसरा कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी)। यूपीएससी का गठन संविधान में निहित प्रावाधात के तहत किया गया था जो केंद्र सरकार के तहत उच्च सिविल सेवाओं और सिविल पदों पर नियुक्ति के लिए परीक्षा आयोजित करता है। किसी भी नौकरी की भर्ती की प्रक्रिया में आयोग से कंसल्टेशन अनिवार्य है। इसके अलावा पदोन्नति और ट्रांसफर वाले केसों में भी नियमों का पालन होता है। देश के कई राज्यों में पिछले दिनों कई युवा लंबे समय से सरकारी नौकरियों की माँग कर रहे थे। कई जगह इनके लिए प्रदर्शन भी हुए थे। ऐसे में मोदी सरकार का यह फैसला उनके लिए किसी बड़ी खुशखबरी से कम नहीं है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -