Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिमातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा रोकने को पुलिस-शिवसैनिक एक्टिव: नवनीत राणा को नोटिस, लाउडस्पीकर...

मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा रोकने को पुलिस-शिवसैनिक एक्टिव: नवनीत राणा को नोटिस, लाउडस्पीकर वाले मोहित कंबोज पर हमला

इससे पहले मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने राज्य सरकार को 3 मई तक मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों को हटाने का अल्टीमेटम दिया था। उन्होंने ऐसा नहीं करने पर मस्जिदों के सामने लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा पाठ करने की चेतावनी दी है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra CM Udaddhav Thackeray) के निजी आवास ‘मातोश्री’ के सामने हनुमान चालीसा का पाठ करने के ऐलान के बाद निर्दलीय विधायक रवि राणा (Ravi Rana) और उनकी पत्नी लोकसभा सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) को मुंबई पुलिस ने नोटिस भेजा है। वहीं, इस ऐलान के बाद कलानगर में स्थित मातोश्री के पास शिवसेना (Shiv sena) के सैकड़ों कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा है। इसी दौरान वहाँ से गुजर रहे भाजपा नेता मोहित कंबोज (Mohit Kamboj) की गाड़ी पर शिवसेना के सैनिकों ने हमला कर दिया और उनकी कार के शीशे तोड़ दिए।

महाराष्ट्र भाजपा के नेता मोहित कंबोज का कहना है कि वे एक शादी समारोह से लौट रहे थे। इसी दौरान उनकी गाड़ी मुंबई के बांद्रा उपनगर के कलानगर इलाके में शुक्रवार (22 अप्रैल 2022) की देर एक सिग्नल पर रूकी थी। इसी दौरान सैकड़ों लोगों की भीड़ ने उनकी कार पर हमला कर दिया। नवनीत राणा अमरावती से निर्दलीय सांसद हैं, जबकि रवि राणा बडनेरा विधानसभा से निर्दलीय विधायक हैं।

मोहित कंबोज ने इसका एक वीडियो शेयर करते हुए कहा कि इसकी शिकायत पुलिस में कर दी गई है। उन्होंने कहा कि उन्हें जान से मारने की साजिश रची गई। दोषियों के खिलाफ पुलिस को तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए। कंबोज ने कहा कि वे कायर नहीं हैं और BMC के भ्रष्टाचार को उजागर करते रहेंगे। डरेंगे नहीं।

कंबोज पर हमले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र में भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलने वालों पर हमला किया जाता है। यह नई सरकार की संस्कृति बन गई है। उन्होंने मुंबई पुलिस से पूछा कि इन्हें गिरफ्तार किया जाएगा या इन ‘कायरों‘ को बचाने के लिए वह कहानी बनाएगी।

नवनीत राणा और उनके पति को नोटिस

उधर उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री के सामने हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा के बाद नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा को मुंबई पुलिस ने शुक्रवार (22 अप्रैल 2022) को नोटिस जारी किया है। दोनों ने शनिवार (23 अप्रैल 2022) को हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा की थी।

हालात को देखते हुए इलाके में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं, रवि राणा और उनकी पत्नी के खार स्थित आवास के बाहर भी भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस उपायुक्त (DCP) मंजूनाथ सिंगे के नेतृत्व में एक टीम रवि राणा के आवास पर गई और उन्हें खेरवाड़ी पुलिस थाने से दंड प्रक्रिया संहिता (Cr.PC) की धारा 149 के तहत नोटिस दिया। उन्होंने कहा कि यह नोटिस संज्ञेय अपराध को रोकने के लिए जारी किया गया है।

रवि राणा ने बृहस्पतिवार (21 अप्रैल 2022) को कहा था कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के निजी आवास ‘मातोश्री’ के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की अपनी योजना पर वे दृढ़ हैं। उनकी घोषणा के बाद शुक्रवार (22 अप्रैल 2022) को मातोश्री के बाहर बड़ी संख्या में शिवसेना कार्यकर्ता इकट्ठा हो गए और ठाकरे के समर्थन में नारेबाजी की। इसके साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं ने धमकी दी कि अगर नवनीत राणा और रवि राणा आते हैं तो उन्हें सबक सिखाया जाएगा।

उधर शिवसेना के सांसद संजय राउत ने धमकी भरे अंदाज में कहा कि रवि राणा नहीं जानते कि मुंबई शिव सैनिक किस चीज से बने हैं। बता दें कि निर्दलीय विधायक रवि राणा ने 2014-19 में देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली भाजपा-शिवसेना सरकार को अपना समर्थन दिया था।

हनुमान चालीसा पाठ करने को लेकर नवनीत राणा का कहना था, “मैं भी मुंबई से ही हूँ और विदर्भ की बहू हूँ, उनमें कितना ताकत है ये हम देख लेंगे। भगवान का नाम स्मरण करने में कितनी ताकत है ये भी हम देख लेंगे।” नवनीत राणा ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से सवाल किया, “उन्हें हनुमान चालीसा पाठ करने से इतनी एलर्जी क्यों है? उद्धव ठाकरे को संकटमोचन के मंदिर जाने से एलर्जी क्यों है?”

नवनीत राणा का कहना है कि अगर उद्धव ठाकरे हनुमान जयंती के अवसर पर हनुमान चालीसा का पाठ करते या संकटमोचन के मंदिर जाते तो महाराष्ट्र पर चढ़ी साढ़े साती दूर होती। पर उन्होंने ऐसा नहीं किया जिससे पता चलता है कि उद्धव ठाकरे अपनी विचारधारा को पीछे छोड़कर दूसरे रास्तों पर चल पड़े हैं। साथ ही अमरावती की सांसद ने पुलिस से भी उनके रास्ते में नहीं आने के लिए कहा। उनका कहना है कि वे लोग शांति से भगवान का नाम स्मरण करने जा रहे हैं। ऐसे में जो भी उनके रास्ते में आएगा उसे उसी की भाषा में जवाब दिया जाएगा।

इससे पहले मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने राज्य सरकार को 3 मई तक मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों को हटाने का अल्टीमेटम दिया था। उन्होंने ऐसा नहीं करने पर मस्जिदों के सामने लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा पाठ करने की चेतावनी दे रखी है। अब नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा ने राज ठाकरे का समर्थन करते हुए हनुमान चालीसा पाठ करने की अपील की है।


Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -