Friday, July 19, 2024
Homeराजनीतिमोदी कैबिनेट से निशंक, हर्षवर्धन समेत कई की विदाई: नए मंत्रियों की लिस्ट राष्ट्रपति...

मोदी कैबिनेट से निशंक, हर्षवर्धन समेत कई की विदाई: नए मंत्रियों की लिस्ट राष्ट्रपति को भेजी गई, अनुराग ठाकुर को प्रमोशन की चर्चा

कैबिनेट विस्तार से पहले मोदी सरकार के अब तक 11 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है जिसमें संजय धोत्रे, थावरचंद गहलोत और राव साहब पाटिल, रतन लाल कटारिया और बाबुल सुप्रियो ने भी इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही प्रताप सारंगी और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी इस्तीफा दे दिया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह आज शाम छह बजे होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय द्वारा भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को उनकी सहमति के लिए नए कैबिनेट मंत्रियों की सूची भेज दी गई है।

इसके साथ ही मोदी कैबिनेट में बड़े फेरबदल और विस्तार का काउंटडाउन भी शुरू हो गया है। जिनकी मंत्रिमंडल से छुट्टी हुई है उनमें केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री देबश्री चौधरी प्रमुख हैं। इसके साथ ही सदानंद गौड़ा ने भी इस्तीफा दे दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कैबिनेट विस्तार से पहले मोदी सरकार के अब तक 11 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है जिसमें संजय धोत्रे, थावरचंद गहलोत और राव साहब पाटिल, रतन लाल कटारिया और बाबुल सुप्रियो ने भी इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही प्रताप सारंगी और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी इस्तीफा दे दिया है।

शपथ ग्रहण समारोह आज 7 जुलाई, 2021 को शाम 6 बजे राष्ट्रपति भवन, नई दिल्ली में होगा। भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनोवाल, नारायण राणे, अनुप्रिया पटेल, अजय भट, मीनाक्षी लेखी, अनुराग ठाकुर, भूपेंद्र यादव, शोभा करंदलाजे सहित वो 24 संभावित नाम है जिनके मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की संभावना है।

साथ ही टीम मोदी में जदयू नेता रामनाथ ठाकुर, चंद्रेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी, दिलेश्वर कामत और आरएसपी सिंह के भी शामिल होने की उम्मीद है। अभी तक के रिपोर्टों के अनुसार, मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार में 19 नए चेहरों को शामिल किया जा सकता है। इसके साथ ही मंत्रिपरिषद की संख्या 53 से बढ़़कर 72 हो होने की सम्भावना है। कैबिनेट फेरबदल में कुछ मंत्रियों का कद भी बढ़ाया जा सकता है। इनमें प्रमुख नाम नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का भी चल रहा है।

कुछ मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, यह अनुमान लगाया जा रहा है कि नए मंत्रिमंडल में 12 मंत्री अनुसूचित जाति समुदाय से, 8 मंत्री अनुसूचित जनजाति से और 27 मंत्री ओबीसी समुदाय के शामिल हो सकते हैं। कैबिनेट में 11 महिलाओं के भी होने की उम्मीद है। कयास लगाए जा रहे हैं कि मौजूदा कुछ मंत्रियों को भी हटाया जा सकता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -