ओवैसी के MLA कौशर मोईनुद्दीन ने की डंडे से पिटाई, वीडियो वायरल होने पर कहा- सही किया

विधायक मोईनुद्दीन ने कहा कि जिस व्यक्ति की उन्होंने पिटाई की, वह उनके लिए काम करता है। विधायक ने पीड़ित पर आरोप लगाया कि वह शराबी है और शराब पीने के बाद वह आसपास के लोगों को परेशान किया करता था।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी के विधायक कौशर मोईनुद्दीन एक व्यक्ति को छड़ी से पीटते नजर आ रहे हैं। ये वीडियो मोईनुद्दीन के दफ्तर का है। जब एआईएमआईएम विधायक सर्फार अहमद नामक व्यक्ति को पीट रहे थे, तब दफ्तर में बैठा कॉर्पोरेटर हँस रहा है, ऐसा वीडियो में देखा जा सकता है। हैदराबाद के कारवाँ से विधायक मोईनुद्दीन ने न सिर्फ़ पीड़ित की पिटाई की बल्कि अपने इस कृत्य को सही ठहराया।

‘द न्यूज़ मिनट’ से बात करते हुए विधायक मोईनुद्दीन ने कहा कि जिस व्यक्ति की उन्होंने पिटाई की, वह उनके लिए काम करता है। विधायक ने पीड़ित पर आरोप लगाया कि वह शराबी है और शराब पीने के बाद वह आसपास के लोगों को परेशान किया करता था। उन्होंने बताया कि वह पीड़ित को धमका रहे थे। विधायक ने कहा, “अगर आप वीडियो ध्यान से देखेंगे तो पता चलेगा कि मैं मजाक-मजाक में ऐसा कर रहा हूँ। इसमें कुछ भी गंभीर मामला नहीं है।

विधायक ने वीडियो को नकारा तो नहीं लेकिन बताया कि ये बहुत पुराना मामला है और उन्हें ख़ुद याद नहीं है कि ऐसा कब हुआ था? विधायक ने अपने विरोधियों पर आरोप लगाया कि उन्होंने किसी तरह वीडियो को हासिल कर लिया है ताकि उन्हें बदनाम किया जा सके। उन्होंने इसे विरोधियों की साजिश करार दिया। वीडियो के वायरल होने के बाद पीड़ित अहमद ने भी एक अन्य वीडियो जारी किया, जिसमें वह विधायक मोईनुद्दीन को क्लीन चिट देता दिख रहा है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

ताज़ा वीडियो में सर्फार ने बताया कि वह शराबी था और विधायक से रुपए माँग कर शराब पी जाया करता था। उसने विधायक की तारीफों के पुल बाँधते हुए कहा कि वह उनके लिए एक दशक से काम कर रहा है और उन्होंने उसकी खूब मदद की है। उसने कहा कि विधायक उसे अपने बेटे से भी अधिक प्यार करते हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बरखा दत्त
मीडिया गिरोह ऐसे आंदोलनों की तलाश में रहता है, जहाँ अपना कुछ दाँव पर न लगे और मलाई काटने को खूब मिले। बरखा दत्त का ट्वीट इसकी प्रतिध्वनि है। यूॅं ही नहीं कहते- तू चल मैं आता हूँ, चुपड़ी रोटी खाता हूँ, ठण्डा पानी पीता हूँ, हरी डाल पर बैठा हूँ।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,018फैंसलाइक करें
26,176फॉलोवर्सफॉलो करें
126,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: