Wednesday, June 29, 2022
Homeराजनीतिभड़काऊ भाषण को लेकर सोनिया, राहुल और प्रियंका समेत 7 नेताओं पर FIR को...

भड़काऊ भाषण को लेकर सोनिया, राहुल और प्रियंका समेत 7 नेताओं पर FIR को लेकर दिल्ली HC में याचिका

याचिका में कहा गया है कि 'नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के लिए सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी ने लोगों को भड़काया। भड़काऊ भाषण देकर उन्हें सड़कों पर उतरने के लिए कहा। इस तरह के भड़काऊ भाषणों के चलते कई जगह हिंसा की घटनाएँ भी देखने को मिली।

कॉन्ग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा पर भड़काऊ भाषण देने के आरोप में दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। याचिका में तीनों पर शिकायत दर्ज कर कार्रवाई करने की माँग की गई है।

जानकारी के अनुसार, हाईकोर्ट इस याचिका पर सुनवाई करने के लिए राजी हो गया है। अब इस मामले पर शुक्रवार को सुनवाई होगी। कॉन्ग्रेस नेताओं के अलावा इस याचिका में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, आप विधायक अमानतुल्ला खान, AIMIM नेता अकबरुद्दीन ओवैसी और वारिस पठान का भी नाम शामिल है।

इस याचिका को दिल्ली हाईकोर्ट के सीनियर एडवोकेट चेतन शर्मा ने दर्ज किया। इस याचिका में कहा गया है कि ‘नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के लिए सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी ने लोगों को भड़काया। भड़काऊ भाषण देकर उन्हें सड़कों पर उतरने के लिए कहा। इस तरह के भड़काऊ भाषणों के चलते कई जगह हिंसा की घटनाएँ भी देखने को मिली।

गौरतलब है कि इस मामले में हाईकोर्ट के अलावा सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दायर की गई है। बीजेपी नेता और वकील अश्विनी कुमार उपाध्याय ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की। बीजेपी नेता ने याचिका में लॉ
कमीशन के अनुसार भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है। साथ ही हेट स्पीच पर लॉ कमीशन की सिफारिशें लागू करने की माँग की गई है।

यहाँ बता दें कि एएनआई के ट्वीट के अनुसार वारिस पठान को उनके भड़काऊ बयान “15 करोड़ हैं मगर 100 करोड़ के ऊपर भारी हैं” पर नोटिस जारी कर दिया गया है। नोटिस में उन्हें 29 फरवरी से पहले जाँच अधिकारी पेश होकर अपना बयान देने को कहा गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इस्लाम ज़िंदाबाद! नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं’: कन्हैया लाल का सिर कलम करने का जश्न मना रहे कट्टरवादी, कह रहे – गुड...

ट्विटर पर एमडी आलमगिर रज्वी मोहम्मद रफीक और अब्दुल जब्बार के समर्थन में लिखता है, "नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं।"

कमलेश तिवारी होते हुए कन्हैया लाल तक पहुँचा हकीकत राय से शुरू हुआ सिलसिला, कातिल ‘मासूम भटके हुए जवान’: जुबैर समर्थकों के पंजों पर...

कन्हैयालाल की हत्या राजस्थान की ये घटना राज्य की कोई पहली घटना भी नहीं है। रामनवमी के शांतिपूर्ण जुलूसों पर इस राज्य में पथराव किए गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
200,225FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe