Saturday, October 1, 2022
Homeराजनीतिहमारी सरकार का पहला फैसला रक्षकों को समर्पित: मोदी कैबिनेट

हमारी सरकार का पहला फैसला रक्षकों को समर्पित: मोदी कैबिनेट

मोदी कैबिनेट की पहली बैठक शुरू हो चुकी है। गृहमंत्री अमित शाह बैठक में पहुँच गए हैं। मुख्तार अब्बास नकवी और सदानंद गौड़ा भी बैठक में उपस्थित हैं। बैठक दिल्ली के साउथ ब्लॉक में शुरू हुई।

आखिरकार तीन महीने की चुनावी प्रक्रिया खत्म होने के बाद सरकार का गठन हो गया है। बृहस्पतिवार को नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली और उनके साथ कुल 58 मंत्रियों ने शपथ ली है। इसमें कुल 25 कैबिनेट मंत्री हैं (PM समेत) जबकि 9 स्वतंत्र प्रभार, 24 राज्य मंत्री शामिल हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कार्यभार संभालने के बाद पहले फैसले के रूप में ‘पीएम स्कॉलरशिप स्कीम‘ में बड़े बदलाव को मंजूरी दी है। इसकी जानकारी नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर हैंडल से दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार का पहला बड़ा फैसला लिया है। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, “हमारी सरकार का पहला फैसला भारत की रक्षा करने वालों को समर्पित है!” पहले फैसले में राष्ट्रीय रक्षा कोष के तहत प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना में बदलाव करते हुए पीएम मोदी ने आतंकी, माओवादी हमलों में बलिदान हुए जवानों के बच्चों की छात्रवृत्ति बढ़ाने का फैसला लिया।

लड़कों के लिए मासिक स्कॉलरशिप 25% बढ़ोत्तरी के साथ ₹2500 कर दी गई है जो कि पहले ₹2000 प्रति माह थी। वहीं, लड़कियों के लिए यह 33.33% बढाकर ₹3000 प्रति माह कर दी गई है, जो कि पहले ₹2250 प्रति माह थी। इस स्कॉलरशिप का दायरा पुलिसकर्मियों के लिए बढ़ा दिया गया है, जो कि किसी भी प्रकार की आतंकी और माओवादी गतिविधियों में बलिदान हुए थे। नई स्कॉलरशिप का कोटा राज्य पुलिस अधिकारियों के लिए 500/वर्ष कर दिया गया है। गृह मंत्रालय इन मामलों की निगरानी करेगा।

शपथ ग्रहण के साथ ही पीएम मोदी ने काम भी शुरू कर दिया है, इसके अलावा सभी मंत्रियों के कामकाज का बँटवारा भी हो गया है। मोदी कैबिनेट की पहली बैठक शुरू हो चुकी है। गृहमंत्री अमित शाह बैठक में पहुँच गए हैं। मुख्तार अब्बास नकवी और सदानंद गौड़ा भी बैठक में उपस्थित हैं। बैठक दिल्ली के साउथ ब्लॉक में शुरू हुई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दुर्गा पूजा कार्यक्रम में गरबा करता दिखा मुनव्वर फारूकी, सेल्फी लेने के लिए होड़: वीडियो आया सामने, लोगों ने पूछा – हिन्दू धर्म का...

कॉमेडी के नाम पर हिन्दू देवी-देवताओं को गाली देकर शो करने वाला मुनव्वर फारुकी गरबा के कार्यक्रम में देखा गया, जिसके बाद लोग आक्रोशित हैं।

धर्म ही नहीं जमीन भी गँवा रहे हिंदू: कब्जे की भूमि पर चर्च-कब्रिस्तान से लेकर मिशनरी स्कूल तक, पहाड़ों का भी हो रहा धर्मांतरण

जमीनी स्थिति भयावह है। सरकारी से लेकर जनजातीय समाज की जमीनों पर ईसाई मिशनरियों का कब्जा है। अदालती आदेशों के बाद भी जमीन खाली नहीं हो रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,570FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe