Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीति'जनता के आशीर्वाद को ब्याज समेत लौटाऊँगा' : शिवमोगा में PM मोदी ने किया...

‘जनता के आशीर्वाद को ब्याज समेत लौटाऊँगा’ : शिवमोगा में PM मोदी ने किया वादा, बोले- कर्नाटक को कॉन्ग्रेस से सतर्क रहने की जरूरत

पीएम मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "मैं हमेशा कर्नाटक का ऋणी रहूँगा। शिवमोगा की इस धरती से मैं पूरे कर्नाटक को विश्वास दिलाना चाहता हूँ, असली गारंटी देना चाहता हूँ कि आपने मुझे जो प्यार दिया है, आपने मुझे जो आशीर्वाद दिया है। मैं कर्नाटक का विकास करके आपको ब्याज समेत लौटाऊँगा।"

कर्नाटक विधानसभा चुनाव प्रचार अब आखिरी दौर में चल रहा है। सभी पार्टियाँ पूरी ताकत के साथ प्रचार में जुटी हुई हैं। पीएम मोदी ने बीजेपी के प्रचार का जिम्मा सँभाल रखा है। इस बीच प्रधानमंत्री ने शिवमोगा ग्रामीण में जनसभा को संबोधित किया। इसमें उन्होंने कहा है कि कर्नाटक की जनता ने उन्हें आशीर्वाद दिया है। वह राज्य का विकास करके इसे ब्याज समेत लौटाएँगे।

इस जनसभा से पहले पीएम ने बेंगलुरु में 10 किलोमीटर लंबा रोड शो किया। बेंगलुरु में यह उनका लगातार दूसरा रोड शो था। इससे पहले उन्होंने शनिवार (6 मई 2023) को 26 किलोमीटर लंबा रोड शो किया था। पीएम ने शिवमोगा ग्रामीण में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा है कि यहाँ की जनता ने बीजेपी को बार-बार बहुत प्रेम, स्नेह और आशीर्वाद दिया है। यहाँ बैठी जनता के उत्साह ने उनका यह विश्वास पक्का कर दिया है कि कर्नाटक में बीजेपी सरकार की वापसी होने जा रही है।

पीएम ने आगे कहा है, “आज पूरा कर्नाटक कह रहा है कि ‘ई बारिया निर्धारा, बहुमाताड़ा बीजेपी सरकारा’। मेरे रोड शो के दौरान, बेंगलुरु ने अपार प्यार और विश्वास दिखाया है, और इसने मेरे दिल को छू लिया है। मैं हमेशा कर्नाटक का ऋणी रहूँगा। शिवमोगा की इस धरती से मैं पूरे कर्नाटक को विश्वास दिलाना चाहता हूँ, असली गारंटी देना चाहता हूँ कि आपने मुझे जो प्यार दिया है, आपने मुझे जो आशीर्वाद दिया है। मैं कर्नाटक का विकास करके आपको ब्याज समेत लौटाऊँगा।”

उन्होंने आगे कहा है, “यहाँ के किसान सुपारी के किसान विदेश से आने वाली सुपारी से चिंतित थे। यहाँ के किसानों के साथ अन्याय और षड्यंत्र हो रहा था। विदेशों से कम कीमत वाली सुपारी का आयात हो रहा था। इससे किसानों की कमाई होती जा रही थी। लेकिन कॉन्ग्रेस ने इस पर ध्यान नहीं दिया। साल 2014 से पहले सुपारी पर न्यूनतम आयात मूल्य ₹100/ किलोग्राम के आसपास था। हमने सोचा यह तो हमारे कर्नाटक के किसानों को मार देगा। इसके बाद हमने सुपारी पर न्यूनतम आयात मूल्य ₹350 प्रति किलोग्राम कर दिया।”

पीएम ने कॉन्ग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र की पोल खोलते हुए कहा है, “कॉन्ग्रेस ने कर्नाटक में वादा किया है कि वह अगले 5 सालों में 10 लाख लोगों को नौकरी देंगे। इसका मतलब यह है कि हर साल 2 लाख लोगों नौकरी मिलेगी। कॉन्ग्रेस के इस झूठ को समझिए। कर्नाटक में बीजेपी की सरकार पिछले साढ़े तीन सालों से है। इस दौरान पूरी दुनिया विभिन्न संकटों से जूझ रही थी। इसके बाद भी कर्नाटक में हर साल 13 लाख से ज्यादा नौकरियाँ बनाईं हैं। इसलिए मैं कहता हूँ कर्नाटक के लोगों को कॉन्ग्रेस से बहुत सावधान रहने की जरूरत है।”

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार सोमवार (8 मई 2023) को थम जाएगा। राज्य की सभी 224 सीटों पर 10 मई को मतदान होना है। चुनाव परिणाम 13 मई को सामने आएँगे। अब तक सामने आए अधिकांश एक्जिट पोल में बीजेपी कॉन्ग्रेस से कहीं अधिक आगे दिखाई दे रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -