Monday, May 20, 2024
Homeराजनीतिभ्रष्ट लोगों के खिलाफ चलता है ED का चाबुक, महज 3% नेताओं पर केस,...

भ्रष्ट लोगों के खिलाफ चलता है ED का चाबुक, महज 3% नेताओं पर केस, 97% पर क्यों बात नहीं करता विपक्ष? इंटरव्यू में PM मोदी ने उघेड़ी विपक्ष की बघिया

देश में ईडी का डंका भ्रष्ट लोगों के खिलाफ चलता रहा है। कुल 3 प्रतिशत लोग ही नेता हैं, जिनके खिलाफ ईडी ने कार्रवाई की है। 97 प्रतिशत लोगों का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं, विपक्ष उनके बारे में क्यों नहीं बात करता? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा कि ईडी भ्रष्ट लोगों के खिलाफ कार्रवाई करती है और ये कार्रवाई चलती रहेगी।

देश में ईडी का डंका भ्रष्ट लोगों के खिलाफ चलता रहा है। कुल 3 प्रतिशत लोग ही नेता हैं, जिनके खिलाफ ईडी ने कार्रवाई की है। 97 प्रतिशत लोगों का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं, विपक्ष उनके बारे में क्यों नहीं बात करता? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा कि ईडी भ्रष्ट लोगों के खिलाफ कार्रवाई करती है और ये कार्रवाई चलती रहेगी। प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्षी नेताओं पर भ्रष्टाचार के मामलों को राजनीतिक बदले की कार्रवाई कहे जाने जैसी बातों को गलत बताया है।

समाचार पत्र हिन्दुस्तान के साथ साक्षात्कार में पीएम मोदी ने कहा, ‘ईडी के पास भ्रष्टाचार के जितने मामले हैं, उनमें से केवल तीन फीसदी ही राजनीति से जुड़े व्यक्तियों के हैं। बाकी 97% मामले अधिकारियों और अन्य अपराधियों से संबंधित हैं। इनके विरुद्ध भी कार्रवाई हो रही है। जिन लोगों को भ्रष्ट व्यवस्था में फायदा दिखता है, वो लोगों के सामने गलत तस्वीर पेश कर रहे हैं।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ईडी ने भ्रष्ट अफसरों, नौकरशाहों, आतंकी फंडिंग से जुड़े अपराधियों, ड्रग्स तस्करों के खिलाफ कार्रवाई की है। ईडी ने हजारों करोड़ की संपत्तियाँ जब्त की है। ये कार्रवाई रुकने वाली नहीं है, बल्कि जारी रहेगी। पीएम मोदी ने बताया कि साल 2014 से पहले ईडी ने सिर्फ 5 हजार की संपत्ति अटैच की थी, जबकि पिछले 10 सालों में 1 लाख करोड़ से ज्यादा की संपत्तियाँ अटैच की गई हैं। वहीं, साल 2014 से पहले ईडी ने सिर्फ 34 लाख की नकदी बरामद की थी, ये बरामदगी पिछले 10 साल में 2200 करोड़ रुपए हो गई है।

पीएम मोदी कहा कि अगर इन पैसों को गरीबों के कल्याण में लगाया जाता, तो बहुत सारे लोगों को लाभ होता। इन पैसों से युवाओं को रोजगार मिल सकता था, तो कई इन्फ्रा परियोजनाओं को पूरा किया जा सकता था। भ्रष्टाचार की वजह से देश के लोगों को परेशानी होती है। पीएम मोदी ने कहा कि वो भ्रष्टाचारियों को छोड़ने वाले नहीं है।

बिचौलियों की भूमिका समाप्त करने के बारे में पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार के डीबीटी योजना के माध्यम से 10 करोड़ से ज्यादा फर्जी नाम वालों को हटाया है। ऐसे लोग दुनिया में आए ही नहीं, फिर भी कागजों पर उनके नाम से कोई पैसा बना रहा था। इससे करीब 3 हजार करोड़ रुपए बचे। अब बताइए, विपक्ष नरेटिव बना रहा है कि ईडी सिर्फ राजनीतिक भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। ये सच नहीं है। ईडी ने सभी भ्रष्टाचारियों के खिलाफ अभियान छेड़ा हुआ है। जो लोग गलत हैं, वो डर रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -