Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीति'यूरिया के लिए किसानों पर लाठी चलवाने वाले उनका भला नहीं कर सकते': बिजनौर,...

‘यूरिया के लिए किसानों पर लाठी चलवाने वाले उनका भला नहीं कर सकते’: बिजनौर, अमरोहा और मोरादाबाद की जनता से बोले PM मोदी

"पीएम किसान सम्मान निधि हो, छोटे किसानों की आर्थिक मदद हो या किसान भाइयों की फसल का बीमा हो, हमारी सरकार ने ये सब बैंक खातों में सीधा उपलब्ध कराया है, कोई बिचौलिया नहीं है। आज ये लोग चौधरी चरण सिंह जी की विरासत की दुहाई देकर आपको बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उत्तर प्रदेश के बिजनौर, मोरादाबाद और अमरोहा के मतदाताओं को सम्बोधित किया। ‘जन चौपाल’ कार्यक्रम में उन्होंने वहाँ की जनता से क्षमा माँगते हुए कहा कि चुनाव आयोग की तरफ से कुछ मुक्ति मिलने के कारण वो सोच रहे थे कि बिजनौर से वो चुनाव अभियान का प्रारंभ करेंगे। उन्होंने जानकारी दी कि मौसम के कारण उनका हेलिकॉप्टर नहीं निकल पाया, और उसके कारण उन्हें फिर एक बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ही जनता के दर्शन करने का सौभाग्य मिला।

उन्होंने कहा, “अपनी बात की शुरुआत मैं इस क्षेत्र के ही मशहूर कवि दुष्यंत कुमार जी की दो लाइनों से करूँगा। उन्होंने कहा था- ‘यहाँ तक आते आते सूख जाती हैं कई नदियाँ, मुझे मालूम हैं पानी कहाँ ठहरा हुआ होगा।’ 2017 से पहले, उत्तर प्रदेश में भी विकास की नदी का पानी ठहरा हुआ था। ये पानी नकली समाजवादियों के परिवार में, उनके करीबियों में ठहरा हुआ था। इन लोगों को सामान्य मानवी की प्यास से कभी कोई मतलब नहीं रहा। वो सिर्फ अपनी प्यास बुझाते रहे, अपनी तिजोरियों की प्यास बुझाते रहे।”

पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी, प्रदेश के प्रत्येक व्यक्ति को अपना परिवार मानती है और इसका मंत्र है- सबका-साथ, सबका-विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास। उन्होंने कहा कि इसी कारण भाजपा की सरकार में भाई-भतीजावाद और तुष्टीकरण की कोई जगह नहीं है। उन्होंने कहा कि जब पीएम आवास योजना में घर मिलता है तो हर गरीब को घर मिलता है, उसकी जाति, उनका पंथ उसका क्षेत्र नहीं देखा जाता है। साथ ही कहा कि जब उज्ज्वला योजना से गैस का कनेक्शन मिलता है तो माताओं-बहनों से जाति नहीं पूछी जाती है।

बकौल पीएम मोदी, उनकी सरकार में जब मुफ्त राशन मिलता है तो किसी भी बिरादरी, किसी का समाज, कौन क्या है ये कुछ नहीं पूछा जाता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले पाँच साल में योगी जी की सरकार का प्रयास रहा है कि विकास कुछ इलाकों तक ही सीमित ना रहे और इसी सोच के साथ हमारी सरकार मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा जैसे शहरों में भी कनेक्टिविटी बढ़ा रही है। पीएम ने कहा कि आजादी के इस अमृत काल में हमने उत्तर प्रदेश को लेकर कई सपने देखे हैं।

उन्होंने बताया कि हम चाहते हैं कि आने वाले 25 वर्षों में जब देश आजादी के 100 साल पूरे करे तो यूपी विकास की सुनहरी गाथा के साथ अपना परचम लहराए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि हमारी सरकार लगातार कोशिश में जुटी है और यहाँ के व्यापारियों, उद्यमियों, किसानों को हर संभव सहायता दी जा रही है। उन्होंने बताया कि हमारी सरकार ने बिजनौर की नगीना काष्ठ कला को वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट योजना में शामिल किया है। इस वजह से आज बिजनौर की कला की पहचान विदेशों में और बढ़ रही है।

उन्होंने उदाहरण गिनाए कि दुनिया भर में मशहूर मुरादाबाद के पीतल को भी ‘वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट’ योजना से जोड़ा गया है। साथ ही कहा कि करीब 500 किमी का दिल्ली-लखनऊ इकोनॉमिक कॉरिडोर भी मुरादाबाद से ही होकर गुजरेगा। अलीगढ़-मुरादाबाद कॉरिडोर का काम भी तेजी से पूरा किया जा रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि डबल इंजन की भाजपा सरकार में मुरादाबाद-बरेली कॉरिडोर भी पूरा होने जा रहा है। गंगा एक्सप्रेस वे के रूप में इस इलाके को बहुत बड़ी सौगात मिलने वाली है। बिजनौर से मुरादाबाद तक के 4 लेन हाइवे पर भी तेजी से काम हो रहा है। इससे पूरा जिला आसपास के सभी प्रमुख स्थानों से जुड़ जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा, “उत्तर प्रदेश के कर्मठ योगी सरकार दिन रात मेहनत में लगी है। जिससे छोटे उद्यमियों को मदद मिल सके। बिजनौर, मुरादाबाद और अमरोहा के युवा के सामने अवसरों की कमी न हो। ये ही हमारी प्राथमिकता है। केंद्र सरकार और यूपी की भाजपा सरकार अपने किसान भाइयों के सम्मान और उनका अधिकार वापस दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। पिछले पाँच साल में गन्ना किसानों को डेढ़ लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का भुगतान किया गया है। इतना तो पहले की दो सरकारों में मिलाकर नहीं किया गया है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि चौधरी चरण सिंह जी के आदर्शों को अपनाते हुए हर किसान का सम्मान, ये हमारा ध्येय है। उन्होंने याद दिलाया कि पहले की सरकारों में यूरिया खाद के लिए यूपी के किसानों ने लाठियाँ तक खाई हैं। उन्होंने कहा कि जिन्होंने किसानों को ये दिन दिखाए थे वे कभी किसानों का भला नहीं कर सकते हैं, वो सिर्फ किसानों को धोखा दे सकते हैं। उन्होंने याद कराया कि पहले की सरकारों में गन्ने की पर्ची से लेकर गन्ना बकाए के भुगतान तक हर जगह नकली समाजवादियों का ही बोलबाला था।

उन्होंने कहा, “पीएम किसान सम्मान निधि हो, छोटे किसानों की आर्थिक मदद हो या किसान भाइयों की फसल का बीमा हो, हमारी सरकार ने ये सब बैंक खातों में सीधा उपलब्ध कराया है, कोई बिचौलिया नहीं है। आज ये लोग चौधरी चरण सिंह जी की विरासत की दुहाई देकर आपको बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा पहले की सरकार में गेहूँ की जितनी सरकारी खरीद हुई थी, योगी जी की सरकार ने उससे दोगुने से भी ज्यादा गेहूँ MSP पर खरीदा है।”

उन्होंने आगे कहा, “अपने किसानों को, और पूरे पश्चिमी यूपी को मैं एक बात और याद दिलाना चाहता हूँ। आज जो लोग आपको बहकाने की कोशिश कर रहे हैं, उनसे ये जरूर पूछिएगा। जब उनकी सरकार थी, तब वो इस इलाके में, आपके गाँवों में कितनी बिजली देते थे। यूपी और पश्चिमी यूपी में ये बात होती थी या नहीं कि हमारा किसान और युवा बिना बिजली के मात खा जाता है, घर घर में ये चर्चा होती थी कि बिजली के अभाव में नौजवानों के भविष्य कैसे रौंदा जा रहा है। पहले की सरकारों का मॉडल समस्या पैदा करो फिर सहानुभूति के नाम पर सब समेट लो का था। उनके इस मॉडल से किसान, नौजवान, गरीब, शोषित, दलित सब परेशान थे।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आप याद करिए, महिलाओं से, हमारी बहनों-बेटियों से छेड़छाड़ कितनी आम बात थी। हालात इतने खराब थे कि चेन लूटे जाने पर इस बात का शुक्र मनाया जाता था कि चलो जान तो बच गई। उन्होंने कहा कि योगी जी की सरकार ने बेटियों को उस भय से मुक्त करके दिखाया है और बेटियों को उनका असल सम्मान दिलाया है। उन्होंने कहा कि योगी जी के शासन में अपराधी किस तरह जेल गए और माँग करते रहे कि हमें बंद कर दो। वो अपराधी सालों से इस चुनाव का इंतजार कर रहे हैं। उन्हें एक ही उम्मीद है कि जल्दी से जल्दी चुनाव आए, कैसे भी सरकार बदल जाए ताकि वो जेल से बाहर आ सके।

उन्होंने कहा, “ये अपराधी मना रहे हैं कि किसी भी तरह पुरानी वाली माफियाराज वाली सरकार आ जाए। जो अपराधी यूपी छोड़कर भाग गए थे वो उम्मीद लगाए बैठे हैं कि सरकार बदले और वो लौटकर आएँ। ये अपराधी चाहते हैं कि लूट डकैती छिनैती का जो धंधा पाँच साल से ठप्प पड़ा है, यूपी की जनता से उसकी भरपाई करें। इनके गुर्गे भी पूरी ताकत लगाए हुए हैं। ये लोग जात-पात के नाम पर बँटवारा करके भाजपा को रोकना चाहते हैं। मैं आपसे कहना चाहता हूँ, इस खेल से सावधान रहिएगा। इस चुनाव में और कुछ नहीं देखना है, केवल कमल छाप देखना है, केवल भाजपा को देखना है। भाजपा आएगी तो आपकी सुरक्षा होगी।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

दलितों का गाँव सूना, भगवा झंडा लगाने पर महिला का घर तोड़ा… पूर्व DGP ने दिखाया ममता बनर्जी के भतीजे के क्षेत्र का हाल,...

दलित महिला की दुकान को तोड़ दिया गया, क्योंकि उसके बेटे ने पंचायत चुनाव में भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ा था। पश्चिम बंगाल में भयावह हालात।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -