Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिलाल मोहम्मद से शाहीना बेगम तक, सब हुए PM मोदी के कायल, जम्मू को...

लाल मोहम्मद से शाहीना बेगम तक, सब हुए PM मोदी के कायल, जम्मू को PM मोदी ने दी ₹32000 करोड़ की सौगात, बोले – ‘आर्टिकल 370’ फिल्म से सामने आएगी सच्चाई

"सिर्फ अपने परिवार के बारे में सोचने वाले लोग कभी आपके परिवार की चिंता नहीं करेंगे। मुझे खुशी है कि जम्मू-कश्मीर को इस परिवार राजनीति से मुक्ति मिल रही है। नया भारत अपनी वर्तमान पीढ़ी को आधुनिक शिक्षा देने के लिए ज्यादा से ज्यादा खर्च कर रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (20 फरवरी, 2024) को जम्मू का दौरा किया। उन्होंने न सिर्फ जन-कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों से बातचीत की, बल्कि मौलाना आज़ाद मैदान में एक विशाल रैली को भी संबोधित किया। उन्होंने इस दौरान 32,000 करोड़ रुपए से भी अधिक की विकास परियोजनाओं की सौगात प्रदेश को दी। आवास योजना के लाभार्थी पुँछ के लाल मोहम्मद से लेकर सेल्फ-हेल्प ग्रुप की लाभार्थी बाँदीपोरा की शाहीना बेगम तक, सबने एक सुर से पीएम मोदी की तारीफ़ की।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि जब वो लखपति दीदी की बात करते हैं, तो दिल्ली के AC कमरों में बैठकर जो दुनियाभर की गंध उछालते रहते हैं, उनके गले से उतरता ही नहीं हैं कि कोई गाँव में लखपति दीदी बन सकता है। लाभार्थियों से बात करने के बाद उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को अब समझ आएगा कि ये हो सकता है। पीएम मोदी ने कहा कि अब हमने विकसित जम्मू-कश्मीर का संकल्प लिया है। उन्होंने वहाँ की जनता पर विश्वास जताते हुए कहा कि हम सब विकसित जम्मू-कश्मीर बनाकर रहेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 70-70 साल से अधूरे आपके सपने आने वाले कुछ ही वर्षों में मोदी पूरे करके देगा। पीएम मोदी ने याद किया कि एक वो दिन भी थे, जब जम्मू-कश्मीर से सिर्फ निराशा की खबरें आती थीं – बम, बंदूक, अपहरण, अलगाव… ऐसी ही बातें जम्मू-कश्मीर का दुर्भाग्य बना दी गई थीं, लेकिन आज जम्मू-कश्मीर विकसित होने के संकल्प के साथ आगे बढ़ रहा है। बकौल पीएम मोदी, जम्मू-कश्मीर बहुत दशकों तक परिवारवाद की राजनीति का शिकार रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि परिवारवाद की राजनीति करने वालों ने हमेशा सिर्फ अपना स्वार्थ देखा है, आपके हितों की चिंता नहीं की है। उन्होंने कहा कि परिवारवाद की राजनीति का सबसे ज्यादा अगर कोई नुकसान उठाता है, तो हमारे युवा उठाते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जो सरकारें सिर्फ एक परिवार को आगे बढ़ाने में जुटी रहती हैं, वो सरकारें अपने राज्य के दूसरे युवाओं का भविष्य ताक पर रख देती हैं और ऐसी परिवारवादी सरकारें युवाओं के लिए योजनाएँ बनाने पर भी प्राथमिकता नहीं देती।

पीएम मोदी ने कहा, “सिर्फ अपने परिवार के बारे में सोचने वाले लोग कभी आपके परिवार की चिंता नहीं करेंगे। मुझे खुशी है कि जम्मू-कश्मीर को इस परिवार राजनीति से मुक्ति मिल रही है। नया भारत अपनी वर्तमान पीढ़ी को आधुनिक शिक्षा देने के लिए ज्यादा से ज्यादा खर्च कर रहा है। बीते 10 साल में देश में रिकॉर्ड संख्या में स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटीज का निर्माण हुआ है। आज हम एक नया जम्मू-कश्मीर बनते हुए देख रहे हैं। प्रदेश के विकास में सबसे बड़ी दीवार अनुच्छेद-370 की थी, इस दीवार को भाजपा सरकार ने हटा दिया है। अब जम्मू कश्मीर संतुलित विकास की ओर बढ़ रहा है।”

पीएम मोदी ने इस दौरान यामी गौतम की आने वाली फिल्म ‘आर्टिकल 370’ का भी जिक्र किया और जम्मू की जनता से कहा कि पूरे देश में आपकी जय जयकार होने वाली है। उन्होंने कहा कि ये अच्छा है, लोगों को सही जानकारी मिलेगी। प्रधानमंत्री ने विश्वास दिलाया कि अब जम्मू-कश्मीर का कोई भी इलाका पीछे नहीं रहेगा, सब मिलकर आगे बढ़ेंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि जो लोग दशकों तक अभाव में जी रहे थे, उन्हें भी आज सरकार के होने का एहसास हुआ है।

पीएम मोदी ने कहा, “भारत के संविधान में जिस सामाजिक न्याय का भरोसा दिया गया है, वो भरोसा पहली बार जम्मू-कश्मीर के सामान्य जन को भी मिला है। हमारे शरणार्थी परिवार हों, वाल्मीकि समुदाय हो, सफाई कर्मचारी हों, उनको लोकतांत्रिक हक मिला है। आज जब दुनिया, जम्मू-कश्मीर में G-20 का आयोजन होते देखती है, तो इसकी गूँज बहुत दूर तक पहुँचती है। पूरी दुनिया, जम्मू-कश्मीर की सुंदरता, यहाँ की परंपरा-संस्कृति और आप सभी के स्वागत से बहुत प्रभावित हुई है। आज हर कोई जम्मू-कश्मीर आने के लिए तत्पर है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -