Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीति'इंडिया गठबंधन का मंत्र- जहाँ सत्ता वहाँ मलाई खाओ': महाराष्ट्र के चंद्रपुर में गरजे...

‘इंडिया गठबंधन का मंत्र- जहाँ सत्ता वहाँ मलाई खाओ’: महाराष्ट्र के चंद्रपुर में गरजे पीएम मोदी, कहा- ‘जनसमर्थन खो चुकी है कॉन्ग्रेस’

पीएम मोदी ने कहा, "कॉन्ग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी किया है, और इसमें मुस्लिम लीग की भाषा भी शामिल है। उनके सांसद भारत के एक और विभाजन की बात कर रहे हैं। इंडी गठबंधन के लोग दक्षिण भारत को अलग करने की धमकी दे रहे हैं। INDI गठबंधन में DMK पार्टी इसे डेंगू मलेरिया कहकर सनातन को खत्म करने की बात करती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के चंद्रपुर में जनसभा को संबोधित किया। महाराष्ट्र के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने आगामी लोकसभा चुनावों में बीजेपी-एनडीए उम्मीदवारों के लिए समर्थन की अपील करते हुए देश की राजनीतिक स्थिरता और विकास के महत्व पर जोर दिया। उत्साही भीड़ को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने देश में बढ़ती राजनीतिक सरगर्मी को स्वीकार किया लेकिन लोगों के अटूट उत्साह और भावना की सराहना की। उन्होंने समर्थन के लिए चंद्रपुर के निवासियों के प्रति आभार व्यक्त किया और नए भारत की एकता और प्रगति के प्रतीक, अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण में उनके योगदान को याद किया। इस दौरान उन्होंने कॉन्ग्रेस पर जोरदार हमला भी बोला।

पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ये पार्टी खुद की समस्याओं की जननी है। देश का विभाजन हुआ मजहब के नाम पर, ये विभाजन किसने करवाया, कश्मीर में समस्या किसने पैदा की? हमारे साथ और दुनिया के कई देश आजाद हुए, लेकिन वो कहाँ से कहाँ चले गए पर हमारा भारत पिछड़ता है। दशकों तक देश आतंकवाद का शिकार रहा। आए दिन कहीं भी बम ब्लास्ट हो जाते थे।

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के सात दशक बाद तक राम मंदिर का 500 साल पुराना विवाद बना हुआ था। अयोध्या में राम मंदिर विवाद पर अड़ंगा कौन लगाता था? कौन सी पार्टी के वकील के सुप्रीम कोर्ट में कहते थे अदालत इस पर फैसला न सुनाए? कॉन्ग्रेस पार्टी देश में अपना जनसमर्थन खो चुकी है। उसकी घोषणा पत्र में मुस्लिम लीग की भाषा लिखी गई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ”इंडी गठबंधन ने हमेशा देश को अस्थिरता की ओर धकेला है। स्थिर सरकार कितनी महत्वपूर्ण और आवश्यक है, यह महाराष्ट्र से बेहतर कौन जानता होगा? जब तक केंद्र में इंडी गठबंधन सत्ता में था, महाराष्ट्र की लगातार उपेक्षा की गई। जब इन भारतीय गठबंधन के लोगों ने साजिश रचकर जनादेश छीन लिया और राज्य के शीर्ष पर पहुँच गए, तो उन्होंने केवल अपने विकास के लिए काम किया। पीएम मोदी ने कहा, “हमारी सरकार ने महाराष्ट्र और विदर्भ के विकास के लिए इन सभी योजनाओं को फिर से शुरू किया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस और अजित पवार समेत पूरी सरकार दिन-रात मेहनत कर रही है। बड़े-बड़े विकास कार्य तेजी से पूरे किये जा रहे हैं। जब इरादा सही होता है तो नतीजे भी सही होते हैं।”

चंद्रपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “चंद्रपुर से इतना स्नेह मिलना मेरे लिए बहुत विशेष है। एक चंद्रपुर ही है जिसने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए लकड़ी भेजी। संसद की नई इमारत में भी चंद्रपुर की लकड़ी लगी है। चंद्रपुर की प्रसिद्धि पूरे देश तक पहुंची है, मैं चंद्रपुर के लोगों को बधाई देता हूँ।”

पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पार्टी के इतिहास की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए देश के विभाजन, तुष्टिकरण और उपेक्षा के उदाहरणों पर प्रकाश डाला, जो आजादी के बाद से उनके शासन की विशेषता है। उन्होंने कॉन्ग्रेस पर प्रगति में बाधा डालने और विभाजनकारी राजनीति करने का आरोप लगाया और मतदाताओं से ऐसी विभाजनकारी विचारधाराओं को खारिज करने की अपील की। पीएम मोदी ने कहा, “पिछले 10 साल से कॉन्ग्रेस सत्ता से बाहर है। आपने एनडीए को पूर्ण बहुमत दिया है। हमने देश की प्रमुख समस्याओं का स्थाई समाधान किया है। आज न केवल महाराष्ट्र बल्कि पूरे देश में नक्सलवाद कमजोर हो गया है।”

पीएम मोदी ने कहा, “कॉन्ग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी किया है, और इसमें मुस्लिम लीग की भाषा भी शामिल है। उनके सांसद भारत के एक और विभाजन की बात कर रहे हैं। इंडी गठबंधन के लोग दक्षिण भारत को अलग करने की धमकी दे रहे हैं। INDI गठबंधन में DMK पार्टी इसे डेंगू मलेरिया कहकर सनातन को खत्म करने की बात करती है।” अपने संबोधन के आखिर में पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के लोगों से परिणाम देने और विकास को आगे बढ़ाने के उनके ट्रैक रिकॉर्ड का हवाला देते हुए आगामी चुनावों में बीजेपी-एनडीए उम्मीदवारों का समर्थन करने का आग्रह किया। उन्होंने मतदाताओं से स्थिरता और प्रगति के लिए निर्णायक जनादेश सुनिश्चित करने के लिए 19 अप्रैल और 26 अप्रैल को बड़ी संख्या में अपने मताधिकार का प्रयोग करने का आह्वान किया।

महाराष्ट्र में पाँच चरणों में मतदान

चंद्रपुर लोकसभा सीट पर बीजेपी के सुधीर मुनगंटीवार का मुकाबला कॉन्ग्रेस उम्मीदवार प्रतिभा धानोरकर से है। 2019 के लोकसभा चुनाव में चंद्रपुर में कॉन्ग्रेस उम्मीदवार सुरेश धनोरकर जीत दर्ज की थी। हालाँकि, मई 2023 में सुरेश धनोरकर का 47 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। कॉन्ग्रेस ने इस बार उनकी पत्नी को इस सीट से उम्मीदवार बनाया है। महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव पाँच चरणों में 19 अप्रैल, 26 अप्रैल, 7 मई, 13 मई और 20 मई को होंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को 10% आरक्षण: हरियाणा के CM सैनी का ऐलान- आयुसीमा में भी मिलेगी छूट, बंदूक का लाइसेंस भी मिलेगा

हरियाणा के सीएम सैनी ने कहा कि राज्य में अग्निवीरों को पुलिस भर्ती और माइनिंग गार्ड समेत कई अन्य पदों की भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।

12वीं पास को ₹6000, डिप्लोमा वाले को ₹8000, ग्रेजुएट को ₹10000: क्या है महाराष्ट्र की ‘लाडला भाई योजना’, कैसे और किनको मिलेगा फायदा?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने 'लाडला भाई योजना' की घोषणा की है। इस लाडला भाई योजना में युवाओं को फैक्ट्रियों में अप्रेंटिसशिप मिलेगी और सरकार की तरफ से उन्हें वजीफा दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -