Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजराबड़ी देवी ने मेरे बाल नोचे, पीटा, घर से निकाल दिया, सैंडल तक नहीं...

राबड़ी देवी ने मेरे बाल नोचे, पीटा, घर से निकाल दिया, सैंडल तक नहीं लेने दिया: लालू की बहू ने लगाए गंभीर आरोप

''वो (राबड़ी देवी) गुस्से में उठ गई और मुझे गाली देने लगी और अपनी महिला सुरक्षा गार्ड के साथ मिलकर मुझ पर शारीरिक हमला किया। इस दौरान मेरे सिर, घुटनों और पैरों में चोटें आई, मेरे बालों को खींचा और बंगले से बाहर निकालने से पहले अपनी सैंडल और शॉल तक नहीं लेने दिया।''

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) प्रमुख लालू प्रसाद की बहू ऐश्वर्या रॉय ने रविवार (15 दिसंबर) को अपनी सास और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी पर उनकी पिटाई करने, उनके बाल पकड़कर घसीटने, उन्हें घर से बाहर निकालने और उनका मोबाइल फोन व अन्य सामान छीनने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं। बता दें कि तेजप्रताप के साथ ऐश्वर्या की शादी 12 मई 2018 में हुई थी, लेकिन शादी के कुछ ही दिनों के बाद ही दोनों के बीच तलाक की नौबत आ गई थी। उसी साल दो नवंबर को तेज प्रताप ने अदालत में तलाक की अर्जी दे दी थी।

ख़बर के अनुसार, ऐश्वर्या के पिता और राजद विधायक चंद्रिका राय, माँ पूर्णिमा रॉय और छोटे भाई-बहन जो कुछ सौ मीटर दूर रहते हैं वो घटना की जानकारी पाते ही मौक़े पर पहुँचे। ऐश्वर्या के पिता ने कहा कि जिस तरह से लालू परिवार ने उनकी पुत्री को प्रताड़ित किया है उसका वह अब करारा जवाब देंगे। हम राजनीतिक लड़ाई तो लडेंगे ही, राबड़ी देवी को एक्सपोज भी करेंगे। जो घर की महिला को सुरक्षा नहीं दे सकती है, वह बाहर की महिलाओं को क्या सुरक्षा देगी। ऐश्वर्या की माँ पूर्णिमा राय ने आरोप लगाया कि ऐश्वर्या को घर में खाना नहीं दिया जाता था। वह अपने घर से खाना उसे भेजती थी। चंद्रिका राय ने अपने दामाद तेजप्रताप को एक पागल लड़का बताया।

ऐश्वर्या रॉय ने संवाददाताओं से कहा, “जब मुझे मोबाइल फोन के एक मैसेज से पता चला कि तेजप्रताप यादव के समर्थकों ने पटना विश्वविद्यालय परिसर में मेरे और मेरे माता-पिता के बारे में आपत्तिजनक पोस्टर चिपकाए गए हैं, तो उस समय मैं अपने कमरे के अंदर टीवी देख रही था। मैंने अपनी सास से इस बारे कहा कि सार्वजनिक रूप से मेरी प्रतिष्ठा को धूमिल करने का काम है, मैं बस अपने माता-पिता को इन सब मामले में घसीटना नहीं चाहती थी।”

इसके आगे ऐश्वर्या ने बताया,

”वो (राबड़ी देवी) गुस्से में उठ गई और मुझे गाली देने लगी और अपनी महिला सुरक्षा गार्ड के साथ मिलकर मुझ पर शारीरिक हमला किया। इस दौरान मेरे सिर, घुटनों और पैरों में चोटें आई, मेरे बालों को खींचा और बंगले से बाहर निकालने से पहले अपनी सैंडल और शॉल तक नहीं लेने दिया।”

उन्होंने कहा, ”उन्होंने मेरा मोबाइल फोन भी छीन लिया था क्योंकि मैंने उनके दुर्व्यवहार का वीडियो बना लिया था। ऐसा उन्होंने इसलिए किया जिससे वो सबूतों को मिटा सकें।”

इसके अलावा, एश्वर्या ने अपनी सास पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो उन्हें खाना भी नहीं देती। उन्होंने बताया, ”इससे पहले सितंबर महीने में भारी बारिश के दौरान भी मुझे घर से निकाल दिया था पर अदालत के हस्तक्षेप के बाद वे अपने घर में वापस लौट पाई थीं।”  

हालाँकि, ऐश्वर्या की माँ चंद्रिका राय ने अफसोस जताते हुए कहा:

”अब हम आपसी तालमेल के लिए कोई प्रयास नहीं करेंगे और न ही हम उनकी तरफ से सुलह की कोई उम्मीद रखेंगे। हमने अपने बच्चे की शादी को पटरी पर लाने की बहुत कोशिशें की हैं, लेकिन इसका कोई फ़ायदा नहीं हुआ।”

महिला थाने की एसएचओ आरती कुमारी जायसवाल मौके पर पहुँची और उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “लड़की सदमे में है और इसलिए हम उन्हें पुलिस स्टेशन ले जा रहे हैं और जब तक वह अपने बयान को रिकॉर्ड कराने में सक्षम नहीं हो जाती तब तक आप प्रतीक्षा करें। उनकी गवाही और जाँच के आधार पर FIR दर्ज की जाएगी और आगे की कार्रवाई होगी।”

पूर्व CM राबड़ी देवी के आवास पर तैनात CRPF जवान ने की आत्महत्या

राबड़ी देवी ने पूछा, लीची कैसे खाते हैं… ‘चारा कहीं भी कैसे भी खा लीजिए’ परेश रावल ने लिए मजे

राबड़ी ने PM मोदी को बताया ‘जल्लाद’, कहा ‘वो जजों और पत्रकारों को मरवाते हैं’

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe