Wednesday, May 27, 2020
होम राजनीति पिछले 70 सालों में कुछ नहीं हुआ, पूरा सिस्टम नष्ट कर दिया: राहुल गाँधी;...

पिछले 70 सालों में कुछ नहीं हुआ, पूरा सिस्टम नष्ट कर दिया: राहुल गाँधी; देखें ‘मनोरंजक’ VIDEO

सबसे ज्यादा मजा तो लोगों ने राफेल पर उनके बयान का लिया। राहुल गाँधी का कहना था कि राजनाथ सिंह फ्रांस में जाकर राफेल को औपचारिक रूप से प्राप्त करने इसीलिए गए क्योंकि भाजपा नेताओं को राफेल 'चुभता' है।

ये भी पढ़ें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान ऐसी-ऐसी बातें कही, जो तुरंत मजाक की विषय-वस्तु बन गई। लोगों ने उनके बयानों को हाथों-हाथ लिया और वे सोशल मीडिया पर वायरल भी होने लगे। कई लोगों ने तो यहाँ तक कहा कि राहुल गाँधी ने बैंकॉक से लौटते ही चुनाव प्रचार अभियान संभाल लिया है और अब भाजपा को जीतने से कोई नहीं रोक सकता। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को चुनाव होने हैं और 24 अक्टूबर को मतगणना के साथ ही चुनाव परिणाम भी आ जाएँगे। प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने भी महारष्ट्र में रैली की। आइए आपको राहुल गाँधी के भाषण के कुछ मनोरंजक अंश से रूबरू कराते हैं।

सबसे पहले तो राहुल गाँधी ने भारत के स्पेस प्रोग्राम की महत्ता को ही नकार दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार मूल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए युवाओं को ‘चाँद देखने’ के लिए कह रही है। इससे उनका आशय चंद्रयान-2 कार्यक्रम से था, जिसमें पूरे भारत की जनता ने उत्साहित होकर इसरो वैज्ञानिकों की हौसला-आफजाई की। उन्होंने साथ ही यह भी याद दिलाया कि कॉन्ग्रेस ने इसरो की स्थापना की थी। कुल मिला कर पुराने राग को रागा ने नए अंदाज में और मजाकिया तरीके से छेड़ा।

सबसे ज्यादा मजा तो लोगों ने राफेल पर उनके बयान का लिया। राहुल गाँधी का कहना था कि राजनाथ सिंह फ्रांस में जाकर राफेल को औपचारिक रूप से प्राप्त करने इसीलिए गए क्योंकि भाजपा नेताओं को राफेल ‘चुभता’ है। ये बेतुका है क्योंकि कोई चीज अगर किसी को चुभती है तो वो उस चीज से दूर भागेगा न? लोकसभा चुनाव 2019 में राफेल मुद्दा फेल हो चुका है। फिर भी, राहुल यह कहना नहीं भूले कि राफेल में चोरी हुई है। उन्होंने दावा किया कि रक्षा मंत्रालय ने लिख कर दिया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राफेल मामले में टाँग अड़ाई है।

पूरे भाषण बेहद मनोरंजक कहकर इसे टुकड़ों में शेयर किया जा रहा है। आप यहाँ मजा ले सकते हैं

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

महाबलिपुरम में भारत-चीन के बीच अनौपचारिक समिट को खूब मीडिया कवरेज मिला और मोदी-जिनपिंग ने कई प्राचीन भारतीय कला प्रस्तुतियों का आनंद लिया। राहुल गाँधी ने आरोप लगाया कि ‘मेड इन चीन’ से भारतीय युवाओं का रोजगार छिन रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि चीनी कम्पनियाँ भारत में घुस आई हैं, जिससे यहाँ के लोगों को नुकसान होता है। जब कोई विदेशी कम्पनी किसी अन्य देश में इंडस्ट्री सेट करती है तो उस देश को फायदा होता है लेकिन राहुल का अलग ही अर्थशास्त्र चलता है। खैर, मजे के लिए यही सही है।

क्या किसी पार्टी का पूर्व अध्यक्ष और सर्वेसर्वा ऐसा कह सकता है कि उसकी पार्टी ने कुछ नहीं किया? राहुल गाँधी कह सकते हैं। उन्होंने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि जनता ने अब बहुत देख लिया है और पिछले 70 सालों में कुछ नहीं हुआ। इन 70 सालों में उन्होंने 5 दशक से भी कॉन्ग्रेसी शासन को भी लपेटे में ले लिया। भाई, अगर 70 सालों में कॉन्ग्रेस ने कुछ नहीं किया तो अब लोग क्यों वोट देंगे? राहुल ने यह भी कहा कि पूरे सिस्टम को नष्ट कर दिया गया। उनके इस बयान का समर्थन ख़ुद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी किया।

उन्होंने राजस्थान और मध्य प्रदेश की कॉन्ग्रेस सरकारों का उदाहरण दिया। दोनों ही राज्यों में क़ानून-व्यवस्था की पोल खुल चुकी है। उन्होंने हास्यास्पद दावा किया कि दोनों ही राज्यों में कॉन्ग्रेस सरकारों ने क़र्ज़माफ़ी की प्रक्रिया पूरी कर दी है। जहाँ मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई और कॉन्ग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने क़र्ज़माफ़ी को नकार दिया, राजस्थान में किसानों ने कई प्रदर्शन किए। राहुल गाँधी के ताज़ा भाषण में अगर मनोरंजन में कोई कमी रह गई होगी तो शायद अगली रैली में पूरी हो जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ख़ास ख़बरें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

‘उत्तराखंड जल रहा है… जंगलों में फैल गई है आग’ – वायरल तस्वीरों की सच्चाई का Fact Check

क्या उत्तराखंड के जंगल इस साल की गर्मियों में वास्तव में आग में झुलस रहे हैं? जवाब है- नहीं।

ईद का जश्न मनाने के लिए दी विशेष छूट: उद्धव के तुष्टिकरण की शिवसेना के मुखपत्र सामना ने ही खोली पोल

शिवसेना के मुखपत्र सामना में प्रकाशित एक लेख के मुताबिक मुंब्रा में समुदाय विशेष के लोगों को ईद मनाने के लिए विशेष रियायत दी गई थी।

‘मोदी मंदिर’ बनाने की खबर फर्जी: MLA गणेश जोशी ने कॉन्ग्रेस को बताया ‘मोदीफोबिया’ से ग्रसित

"मोदी मंदिर' बनाने की खबर पूरी तरह फर्जी है। जबकि मोदी-आरती लिखने वाली डॉ. रेनू पंत का भाजपा से कोई लेना-देना नहीं है और वो सिर्फ..."

चुनाव से पहले फिर ‘विशेष राज्य’ के दर्जे का शिगूफा, आखिर इस राजनीतिक जुमले से कब बाहर निकलेगा बिहार

बिहार के नेता और राजनीतिक दल कब तक विशेष राज्य का दर्जा माँगते रहेंगे, जबकि वे जानते हैं कि यह मिलना नहीं है और इसके बिना भी विकास संभव है।

‘पूरी डायन हो, तुझे आत्महत्या कर लेनी चाहिए’: रुबिका लियाकत की ईद वाली फोटो पर टूट पड़े इस्लामी कट्टरपंथी

रुबिका लियाकत ने पीले परिधान वाली अपनी फोटो ट्वीट करते हुए ईद की मुबारकबाद दी। इसके बाद कट्टरपंथियों की पूरी फौज उन पर टूट पड़ी।

श्रमिक ट्रेनों में मौत की खबरों पर मीडिया ने फिर से फैलाया भ्रम, रेलवे ने लापरवाही के दावों को नकारा

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में मौत को लेकर मीडिया लगातार भ्रामक खबरें प्रकाशित कर रहा है। रेलवे ने एक बार फिर ऐसी ख़बरों का खंडन किया है।

प्रचलित ख़बरें

‘चीन, पाक, इस्लामिक जिहादी ताकतें हो या नक्सली कम्युनिस्ट गैंग, सबको एहसास है भारत को अभी न रोक पाए, तो नहीं रोक पाएँगे’

मोदी 2.0 का प्रथम वर्ष पूरा हुआ। क्या शानदार एक साल, शायद स्वतंत्र भारत के इतिहास का सबसे ज्यादा अदभुत और ऐतिहासिक साल। इस शानदार एक वर्ष की बधाई, अगले चार साल अद्भुत होंगे। आइए इस यात्रा में उत्साह और संकल्प के साथ बढ़ते रहें।

लगातार 3 फेक न्यूज शेयर कर रवीश कुमार ने लगाई हैट्रिक: रेलवे पहले ही बता चुका है फर्जी

रवीश कुमार ने अपने फेसबुक पेज पर ‘दैनिक भास्कर’ अखबार की एक ऐसी ही भावुक किन्तु फ़ेक तस्वीर शेयर की है जिसे कि भारतीय रेलवे एकदम बेबुनियाद बताते हुए पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि ये पूरी की पूरी रिपोर्ट अर्धसत्य और गलत सूचनाओं से भरी हुई है।

मोदी-योगी को बताया ‘नपुंसक’, स्मृति ईरानी को कहा ‘दोगली’: अलका लाम्बा की गिरफ्तारी की उठी माँग

अलका लाम्बा PM मोदी और CM योगी के मुँह पर थूकने की बात करते हुए उन्हें नपुंसक बता रहीं। उन्होंने स्मृति ईरानी को 'दोगली' तक कहा और...

‘राम मंदिर की जगह बौद्ध विहार, सुप्रीम कोर्ट ने माना’ – शुभ कार्य में विघ्न डालने को वामपंथन ने शेयर की पुरानी खबर

पहले ये कहते थे कि अयोध्या में मस्जिद था। अब कह रहे हैं कि बौद्ध विहार था। सुभाषिनी अली पुरानी ख़बर शेयर कर के राम मंदिर के खिलाफ...

38 लाख फॉलोवर वाले आमिर सिद्दीकी का TikTok अकॉउंट सस्पेंड, दे रहा था कास्टिंग डायरेक्टर को धमकी

जब आमिर सिद्दीकी का अकॉउंट सस्पेंड हुआ, उस समय तक उसके 3.8 मिलियन फॉलोवर्स थे। आमिर पर ये कार्रवाई कास्टिंग डायरेक्टर को धमकी...

हमसे जुड़ें

207,939FansLike
60,325FollowersFollow
242,000SubscribersSubscribe
Advertisements