Tuesday, September 27, 2022
Homeराजनीतिराहुल गाँधी के 'झूठ' पर EC ने जारी किया नोटिस, माँगा 48 घंटे में...

राहुल गाँधी के ‘झूठ’ पर EC ने जारी किया नोटिस, माँगा 48 घंटे में जवाब

राहुल गाँधी के इस बयान पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और पार्टी उपाध्यक्ष प्रभात झा ने भी खासी नाराज़गी जताई थी और साथ ही उनको लीगल नोटिस भी भेजा था।

चुनाव आयोग ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी को आचार संहिता उल्लंघन के आरोप में बुधवार (मई 1, 2019) को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। ये नोटिस राहुल की उस टिप्पणी पर जारी किया गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार ने एक ऐसा कानून बनाया है जिसके तहत आदिवासियों को गोली मार दी जाएगी।

आयोग ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष को 48 घंटे के भीतर जवाब देने को कहा है। यदि राहुल गाँधी इस समय सीमा में जवाब नहीं देते हैं तो आयोग मामले पर अपनी तरफ से कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र होगा।

गौरतलब है कि भाजपा के नेता ओम पाठक और नीरज ने इस मामले पर आयोग से शिकायत की थी जिसके बाद मध्य प्रदेश के चुनाव अधिकारियों द्वारा चुनाव रिपोर्ट माँगी गई।

बता दें कि कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर राहुल गाँधी के बयान वाली वीडियो तेजी से वायरल हो रही थी। इस वीडियो में राहुल जनता के बीच खुलेआम झूठ बोलते नज़र आ रहे थे। इस वीडियो में वो कह रहे थे कि प्रधानमंत्री ने एक नया कानून बनाया है, जिसमें लिखा है कि आदिवासियों को गोली से मारा जा सकेगा। इस वीडियो में राहुल दावा कर रहे हैं कि कानून में लिखा है, “आदिवासियों पर आक्रमण होगा।”

राहुल गाँधी के इस बयान पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और पार्टी उपाध्यक्ष प्रभात झा ने भी खासी नाराज़गी जताई थी और साथ ही राहुल को लीगल नोटिस भी भेजा था। उन्होंने स्पष्ट किया था कि इस तरह कोई कानून नहीं बनाया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत जोड़ो यात्रा’ छोड़ कर दिल्ली पहुँचे कॉन्ग्रेस के महासचिव, कमलनाथ-प्रियंका से भी मिलीं सोनिया गाँधी: राजस्थान के बागी बोले- सड़कों पर बहा सकते...

राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कॉन्ग्रेस हाईकमान के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। वेणुगोपाल और कमलनाथ दिल्ली पहुँच गए हैं।

अब इटली में भी इस्लामी कट्टरपंथियों की खैर नहीं, वहाँ बन गई राष्ट्रवादी सरकार: देश को मिली पहली महिला PM, तानाशाह मुसोलिनी की हैं...

इटली के पूर्व तानाशाह बेनिटो मुसोलिनी की कभी समर्थक रहीं जॉर्जिया मेलोनी इटली की पहली प्रधानमंत्री बनने जा रही हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,450FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe