Tuesday, July 27, 2021
Homeबड़ी ख़बरदिग्विजय के 'ओसामा जी' के बाद अब राहुल गाँधी का 'मसूद अज़हर जी', देखें...

दिग्विजय के ‘ओसामा जी’ के बाद अब राहुल गाँधी का ‘मसूद अज़हर जी’, देखें वीडियो

स्मृति ईरानी ने राहुल गाँधी पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गाँधी और पाकिस्तान के बीच एक चीज कॉमन है और वह है- आतंकवादियों के प्रति उनका प्रेम।

देश की सबसे पुरानी पार्टी के अध्यक्ष राहुल गाँधी ने आतंकी मसूद अज़हर को ‘मसूद अज़हर जी’ कह कर सम्बोधित किया है। दिल्ली में कॉन्ग्रेस के ‘मेरा बूथ, मेरा गौरव’ कार्यक्रम के दौरान सभा को सम्बोधित करते हुए राहुल गाँधी ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार ने मसूद अज़हर को रिहा किया। कंधार विमान हाईजैक कांड की चर्चा करते हुए राहुल गाँधी ने कहा कि अजीत डोभाल ख़ुद ‘मसूद अज़हर जी’ को कंधार छोड़ने एयरक्राफ्ट से गए थे। राहुल गाँधी द्वारा एक आतंकी को सम्मान देने के कारण सोशल मीडिया पर लोगों ने उन्हें निशाना बनाया। केंद्रीय टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गाँधी पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गाँधी और पाकिस्तान के बीच एक चीज कॉमन है और वह है- आतंकवादियों के प्रति उनका प्रेम।

भारतीय जनता पार्टी ने भी राहुल को निशाना बनाते हुए पूछा कि आख़िर राहुल के मन में आतंकियों के प्रति इतना सम्मान क्यों है?

ट्विटर पर कई लोगों ने राहुल को उनके इस बयान के लिए आड़े हाथों लिया। बता दें कि मसूद अज़हर ही आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का संस्थापक है, जिसने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में 40 सीआरपीएफ जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे। इसके अलावा पठानकोट हमले सहित अन्य आतंकी हमलों में भी मसूद अज़हर का हाथ था। ऐसे में उसके लिए सम्मानसूचक शब्द का प्रयोग करना राहुल को चुनावी मौसम में भारी पड़ सकता है।

इस से पहले कॉन्ग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अलक़ायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को ‘लादेन जी’ कह कर सम्बोधित कर चुके हैं। ओसामा बिन लादेन को दुनिया के सबसे खूँखार आतंकवादियों में से एक गिना जाता है। पाकिस्तान में छिपे ओसामा को अमेरिका ने मार गिराया था। इसके अलावा दिग्विजय सिंह मुंबई हमलों के साज़िशकर्ता आतंकी हाफिज सईद को ‘साहब’ कह कर भी सम्बोधित कर चुके हैं।

जैसा कि आप देख सकते हैं, एक ट्विटर यूजर ने कार्टून के माध्यम से राहुल गाँधी, पाकिस्तान और नवजोत सिद्धू पर निशाना साधा। राहुल गाँधी द्वारा भारत में ख़ून बहाने वाले पाकिस्तानी आतंकी को ‘जी’ कह कर पुकारने पर ट्विटर पर लोगों ने उनकी क्लास लगाई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,363FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe