Tuesday, December 6, 2022
Homeराजनीतिराहुल टाइगर रिजर्व में नाईट ट्रैफिक प्रतिबंध के ख़िलाफ़, मंत्री ने कहा- उन्हें माफ़ियाओं...

राहुल टाइगर रिजर्व में नाईट ट्रैफिक प्रतिबंध के ख़िलाफ़, मंत्री ने कहा- उन्हें माफ़ियाओं के हितों की अधिक चिंता

बुधवार को, मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था, "रात में वाहनों को अनुमति नहीं देने के संबंध में अदालत का आदेश है। मैं अदालत के आदेश का उल्लंघन नहीं कर सकता। राहुल गाँधी को इसके बारे में पता होना चाहिए।"

कर्नाटक राज्य के बांदीपुर टाइगर रिजर्व से गुज़रने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर रात के यातायात प्रतिबंध के ख़िलाफ़ कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी के रुख़ पर सवाल उठाते हुए, कर्नाटक के पर्यटन मंत्री सीटी रवि ने गुरुवार (3 अक्टूबर) को आरोप लगाया कि उन्हें जंगली जानवरों के जीवन की सुरक्षा की तुलना में विभिन्न माफ़ियाओं के हितों की चिंता अधिक है।

पर्यटन मंत्री ट्वीट किया, “कॉन्ग्रेस सांसद राहुल गाँधी चाहते हैं कि राष्ट्रीय राजमार्ग बांदीपुर वन से गुज़रने वाले वाहनों को रात के समय भी वाहनों के आवागमन के लिए खोला जाए। इससे स्पष्ट है कि जंगली जानवरों की सुरक्षा और जीवन की तुलना में कॉन्ग्रेस के लिए विभिन्न माफ़ियाओं के हित अधिक महत्वपूर्ण हैं।” 

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी इस मुद्दे पर यहाँ ‘राजनीति खेल रहे थे‘ और इस संबंध में उन्होंने एक अदालत के आदेश का उल्लेख भी किया। वन्य जीवन की रक्षा करना राज्य सरकार की ज़िम्मेदारी होती है।

बुधवार (2 अक्टूबर) को, मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था, “रात में वाहनों को अनुमति नहीं देने के संबंध में अदालत का आदेश है। मैं अदालत के आदेश का उल्लंघन नहीं कर सकता। राहुल गाँधी को इसके बारे में पता होना चाहिए।”

वन्यजीवों के प्रति डर को कम करने के लिए बाघ रिजर्व के माध्यम से यातायात की आवाजाही पर रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक रोक लगाई गई है।

राहुल गाँधी, जो केरल में वायनाड लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, उन्होंने हाल ही में नई दिल्ली में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन से मुलाक़ात की थी और उन्हें रात्रि यातायात प्रतिबंध होने के कारण वायनाड के लोगों की कठिनाइयों से अवगत कराया था।

उन्होंने वायनाड के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त की है जो इस मुद्दे पर पिछले कई दिनों से विरोध कर रहे हैं। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि राहुल गाँधी के शुक्रवार (4 अक्टूबर) को वायनाड में प्रदर्शनकारियों के साथ शामिल हो सकते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गुरुद्वारे पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने जमाया कब्ज़ा, जड़ दिया ताला: सिखों के आने-जाने पर भी रोक, कह रहे – ये हमारी मस्जिद...

लाहौर स्थित गुरुद्वारे को पाकिस्तान की इवेक्‍यू ट्रस्‍ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) ने कट्टरपंथियों के साथ मिलकर सिख समुदाय के लिए बंद कर दिया है।

‘भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?’: पटना HC के जज के सवाल पर वकीलों ने लगाए ठहाके, ₹24 लाख की गड़बड़ी...

पटना हाईकोर्ट के जज संदीप कुमार ने एक घोटाला आरोपित अधिकारी से पूछा कि क्या उन्होंने रिजर्वेशन पर नौकरी प्राप्त किया है? अधिकारी ने 'हाँ' में जवाब दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
237,080FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe