Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीति370 के लिए बिस्तर छोड़ा, राम मंदिर के लिए छोड़ी पुष्पमाला, अब मथुरा के...

370 के लिए बिस्तर छोड़ा, राम मंदिर के लिए छोड़ी पुष्पमाला, अब मथुरा के लिए एक समय ही भोजन करने का लिया संकल्प: BJP के एक मंत्री ऐसे भी

राम मंदिर का संकल्प पूरा होने के बाद बीजेपी नेता ने नई सौगंध ली है। उन्होंने कहा है कि जब तक मथुरा में भगवान श्री कृष्ण की जन्मस्थली पर भव्य मंदिर नहीं बन जाता, वे एक समय ही भोजन करेंगे। उन्होंने प्रभु में आस्था जताते हुए कहा कि जैसे अब तक सभी निश्चय पूरे हुए हैं, वैसे ही ये निश्चय भी पूरा होगा।

वे छह बार के विधायक हैं। 3 बार के मंत्री। राजस्थान की मौजूदा बीजेपी सरकार में वे शिक्षा मंत्री हैं। उनका नाम है- मदन दिलावर। उन्होंने मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि पर मंदिर का निर्माण नहीं होने तक एक समय के अन्न का त्याग करने का संकल्प लिया है। इससे पहले आर्टिकल 370 हटाने और अयोध्या में राम मंदिर बनाने को लेकर भी वे इसी तरह का संकल्प ले चुके हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मदन दिलावर ने फरवरी 1990 में संकल्प लिया था कि जब तक अयोध्या में मंदिर नहीं बनता वे फूलों की माला नहीं पहनेंगे। 22 जनवरी 2024 को अयोध्या के भव्य राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा हुई। इसके बाद कोटा के रामगंज मंडी में अयोजित कार्यक्रम के दौरान जय श्री राम के उद्घोष के बीच समर्थकों ने उन्हें 108 फीट लंबी फूलों की माला पहनाने की कोशिश की। लेकिन उन्होंने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि जब तक वे रामलला का दर्शन नहीं करते माला नहीं पहनेंगे।

राम मंदिर का संकल्प पूरा होने के बाद बीजेपी नेता ने नई सौगंध ली है। उन्होंने कहा है कि जब तक मथुरा में भगवान श्री कृष्ण की जन्मस्थली पर भव्य मंदिर नहीं बन जाता, वे एक समय ही भोजन करेंगे। उन्होंने प्रभु में आस्था जताते हुए कहा कि जैसे अब तक सभी निश्चय पूरे हुए हैं, वैसे ही ये निश्चय भी पूरा होगा।

मंच से श्रीकृष्ण जन्मस्थान को लेकर प्रतिज्ञा

रामगंज मंडी में आयोजित कार्यक्रम में मंत्री दिलावर ने बताया कि डॉ. किरोडीलाल मीना के साथ उन्होंने लंबा प्रदर्शन किया था। उसी दौरान फरवरी 1990 में भी कसम खाई थी कि जब तक अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं हो जाता, तब तक वह माला नहीं पहनेंगे। प्राण प्रतिष्ठा समारोह समाप्त के बाद उनके समर्थकों ने उन्हें माला पहनाने की कोशिश की तो उन्होंने रोक दिया। उन्होंने कहा कि वे माला तब पहनेंगे, जब 31 जनवरी को रामलला के दर्शन कर लेंगे। इसी कार्यक्रम के दौरान उन्होंने मंच से प्रतिज्ञा ली कि जब तक भगवान कृष्ण की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण नहीं हो जाता, तब तक वह दिन में केवल एक बार भोजन करेंगे।

साल 1990 से 2019 तक जमीन पर सोए मदन दिलावर

बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने फरवरी 1990 में एक और कसम खाई थी। ये कसम थी कि जब तक जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 निरस्त नहीं होता, तब तक वह बिस्तर पर नहीं सोएँगे। साल 2019 में जब अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया गया, तब जाकर वे बिस्तर पर सोए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -