‘रेप इन इंडिया’ पर घिरे राहुल गाँधी, स्मृति ईरानी बोलीं- बपौती नहीं देश की महिलाएँ

"मैं आहत हूँ, पूरा देश आहत हुआ है। क्या इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करने वाले लोग सदन में आ सकते हैं? क्या उनको पूरा सदन ही नहीं, बल्कि पूरे देश से माफी नहीं माँगनी चाहिए?"

रेप इन इंडिया वाले बयान को लेकर कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गॉंधी बुरी तरह फॅंस गए है। लोकसभा में उनके इस बयान पर शुक्रवार को काफी हंगामा हुआ। इसके बाद लोकसभा की कार्रवाई अनिश्चित काल के लिए स्थगित करनी पड़ी। इससे पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई महिला सांसदों ने राहुल गाँधी के बयान पर आपत्ति जताई और उनसे माँफी की माँग की। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी राहुल के बयान को आधार बनाकर पूछा है कि क्या ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करने वाले लोगों को सदन में आना चाहिए?

गौरतलब है कि झारखंड के राजमहल में गुरुवार को राहुल गाँधी ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए विवादित बयान दिया था। उन्होंने देश में बढ़ रही यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर अपनी चिंता व्यक्त करते-करते प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया था कि उन्होंने केंद्र की ‘मेक इन इंडिया’ को ‘रेप इन इंडिया’ बना दिया है। इससे वैश्विक स्तर पर देश की बदनामी हो रही है।

उनके इस बयान पर आज लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा सदस्यों ने आपत्ति जताई। प्रश्नकाल आरंभ होने से पहले ही भाजपा की कई महिला सदस्य अपने स्थान पर खड़ी हो गईं और राहुल गाँधी से माफी की माँग करने लगीं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

स्मृति ईरानी ने कहा, “गाँधी खानदान के सदस्य ने कहा है कि महिलाओं का बलात्कार होना चाहिए, देश में हर कोई बलात्कारी नहीं है। जो बलात्कारी है, उसे कानून सजा देता है। हर महिला को कलंकित नहीं किया जा सकता है, इस पर एक्शन लेना चाहिए।”

ईरानी ने कहा, “देश की महिलाएँ उनकी बपौती नहीं हैं, रेप इन इंडिया का बयान देने का जो दुस्साहस उन्होंने किया है, उस पर एक्शन होना चाहिए।”

राजनाथ सिंह ने भी जाहिर की नाराजी

राहुल गाँधी के रेप इन इंडिया के बयान को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सदन में अपना विरोध दर्ज कराते हुए कहा, “मैं आहत हूँ, पूरा देश आहत हुआ है, क्या ऐसे लोग सदन में आ सकते हैं जो ऐसे शब्द इस्तेमाल करते हैं? क्या उनको पूरा सदन ही नहीं, बल्कि पूरे देश से माफी नहीं माँगनी चाहिए?”

महिला सांसदों और रक्षा मंत्री के अलावा केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने भी इस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “राहुल खुलेआम कह रहे हैं कि रेप इन इंडिया, तो क्या वो दुनिया को भारत में आकर बलात्कार करने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं।”

वहीं, महिला भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने कहा,”मोदी जी ने कहा मेक इन इंडिया लेकिन राहुल गाँधी ने कहा रेप इन इंडिया, यानी वो स्वागत करते हैं उन लोगों का जो आएँ और बलात्कार करें। ये भारतीय महिलाओं और भारत माता का अपमान हैं।”

दरअसल, राहुल गांधी ने गुरुवार को झारखंड की मेहराना रैली में मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था, “देश में नरेंद्र मोदी ने कहा था मेक इन इंडिया, अब जहाँ भी देखो वहाँ मेक इन इंडिया नहीं, बल्कि रेप इन इंडिया है। अखबार खोलो तो झारखंड में महिला से बलात्कार, यूपी में नरेंद्र मोदी के विधायक ने महिला का रेप किया…हर प्रदेश में हर रोज रेप इन इंडिया।”

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी से पहले सदन में कॉन्ग्रेस नेता अधीर रंदन चौधपी ने भी ऐसा ही बयान दिया था। जहाँ उन्होंने भारत को रेप इन इंडिया बताया था। लेकिन काफी विरोध और आालोचनाएँ झेलने के बाद उन्होंने इस पर माफी माँग ली थी

मेक इन इंडिया बन रहा रेप इन इंडिया: अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में फिर की बदजुबानी

लोकसभा में सो रहे थे राहुल गाँधी, भारत-चीन पर बोल रहे थे अधीर रंजन: देखें वीडियो

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शरजील इमाम
शरजील इमाम वामपंथियों के प्रोपेगंडा पोर्टल 'द वायर' में कॉलम भी लिखता है। प्रोपेगंडा पोर्टल न्यूजलॉन्ड्री के शरजील उस्मानी ने इमाम का समर्थन किया है। जेएनयू छात्र संघ की काउंसलर आफरीन फातिमा ने भी इमाम का समर्थन करते हुए लिखा कि सरकार उससे डर गई है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,507फैंसलाइक करें
36,393फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: