Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिलोकसभा में सो रहे थे राहुल गाँधी, भारत-चीन पर बोल रहे थे अधीर रंजन:...

लोकसभा में सो रहे थे राहुल गाँधी, भारत-चीन पर बोल रहे थे अधीर रंजन: देखें वीडियो

वीडियो में साफ-साफ़ दिख रहा है कि अधीर रंजन के भाषण के दौरान राहुल गाँधी काफ़ी देर तक सोते रहे। जब अधीर रंजन चौधरी ने अपना सम्बोधन शुरू किया, तभी राहुल झपकी लेने लगे और काफ़ी देर बार उनकी तन्द्रा टूटी।

लोकसभा में जब कॉन्ग्रेस संसदीय दल के नेता भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर बोल रहे थे, तब उनकी पार्टी के मुखिया रहे राहुल गाँधी सदन में सोते हुए नज़र आए। अधीर रंजन चौधरी के सम्बोधन के दौरान पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी काफी देर तक सोते हुए दिखे। उस समय लोकसभाध्यक्ष ओम बिरला चेयर पर मौजूद थे। नीचे संग्लन की गई तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि कैसे सदन की कार्यवाही के दौरान राहुल सोते दिखे:

राहुल गाँधी केरल के वायनाड से सांसद हैं। उन्होंने इस वर्ष 2 सीटों से लोकसभा चुनाव लड़ा था लेकिन उन्हें अपने पारम्परिक गढ़ अमेठी से स्मृति ईरानी के हाथों हार का समाना करना पड़ा। राहुल गाँधी कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष रहे हैं और उनकी माँ सोनिया गाँधी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष हैं। ऐसे में, अपनी ही पार्टी के नेता के सम्बोधन के दौरान सदन में नींद लेने के कारण सोशल मीडिया पर राहुल गाँधी की ख़ासी आलोचना हुई। कई लोगों ने उनका मज़ाक भी बनाया।

ऊपर संलग्न किए गए वीडियो में साफ-साफ़ दिख रहा है कि अधीर रंजन के भाषण के दौरान राहुल गाँधी काफ़ी देर तक सोते रहे। जब अधीर रंजन चौधरी ने अपना सम्बोधन शुरू किया, तभी राहुल झपकी लेने लगे और काफ़ी देर बार उनकी तन्द्रा टूटी।

वे गायब हैं, मैं चिंतित हूँ: वायनाड में सांसद राहुल गाँधी को लेकर दर्ज कराई गई ‘मिसिंग कंप्लेंट’

राहुल गाँधी ने आँख मारी तो उनके विधायक जी ने भरी सभा में दे दी फ्लाइंग किस

मंदसौर गोलीकांड: कॉन्ग्रेस की पूर्व MLA ने कहा था- आग लगा दो, राहुल गाँधी ने भाजपा सरकार को बताया था कसूरवार

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe