Monday, May 16, 2022
Homeराजनीति'चुनाव आयोग EVM में कर रहा है गड़बड़ी': एग्जिट पोल्स पर बरसते हुए 'रोते-रोते...

‘चुनाव आयोग EVM में कर रहा है गड़बड़ी’: एग्जिट पोल्स पर बरसते हुए ‘रोते-रोते बचे’ अखिलेश यादव, कहा – किसानों की तरह बैठे सपा कार्यकर्ता

उन्होंने आरोप लगाया कि एग्जिट पोल्स ये धारणा बनाना चाहते हैं कि एग्जिट पोल्स में भाजपा जीत रही है। उन्होंने चुनाव आयोग पर EVM के साथ छेड़छाड़ के आरोप भी मढ़ दिए।

समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल्स पर सवाल खड़े किए हैं। बता दें कि गुरुवार (10 मार्च, 2022) को आने वाले चुनाव परिणाम से पहले लगभग सभी एग्जिट पोल्स में भाजपा की बड़ी जीत दिखाई जा रही है, जिससे पता चल रहा है कि योगी आदित्यनाथ दोबारा देश के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में लौटने वाले हैं। साया लगा कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में नाराज़ दिखे अखिलेश यादव ‘रोते-रोते’ बचे।

उन्होंने आरोप लगाया कि एग्जिट पोल्स ये धारणा बनाना चाहते हैं कि एग्जिट पोल्स में भाजपा जीत रही है। उन्होंने चुनाव आयोग पर EVM के साथ छेड़छाड़ के आरोप भी मढ़ दिए। उन्होंने कहा कि ईवीएम को गलत तरीके से ले जाया जा रहा है और हमें सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने आरोप लगाया कि ईवीएम को उम्मीदवारों को बिना बताए ले जाया जा रहा है। उन्होंने इसे ‘चोरी’ बताते हुए कहा कि हमें अपने वोट बचाने की ज़रूरत है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इसे ‘लोकतंत्र बचाने का आखिरी मौका’ बताते हुए कहा कि वो इसके खिलाफ न्यायपालिका का दरवाजा खटखटाएँगे। उन्होंने दावा किया कि उनकी पार्टी अयोध्या में जीत दर्ज करने जा रही है और इसीलिए भाजपा नाराज़ है। उन्होंने चुनाव आयोग के अधिकारियों को भी ‘साजिश में शामिल’ बताया। उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को ‘वोट बचाने’ का सन्देश दिया। उन्होंने ‘किसान आंदोलन’ की तरह अपने कार्यकर्ताओं को बैठने के लिए कहा।

अखिलेश यादव ने ट्विटर के माध्यम से भी अपील की, “वाराणसी में EVM पकड़े जाने का समाचार राज्य की हर विधानसभा को चौकन्ना रहने का संदेश दे रहा है। मतगणना में धाँधली की कोशिश को नाकाम करने के लिए सपा-गठबंधन के सभी प्रत्याशी और समर्थक अपने-अपने कैमरों के साथ तैयार रहें। युवा लोकतंत्र व भविष्य की रक्षा के लिए मतगणना में सिपाही बने! आज से,अभी से हर युवा, हर मतदाता अगले 3 दिन तक मत की रक्षा के लिए मतगणना केंद्र की क़िलेबंदी कर दे और ढोल-मंजीरा लेकर आज़ादी के अफ़साने गाए।”

अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों की तरह उनके लिए भी लोकतंत्र के लंगर लगेंगे व दुनिया देखेगी लोकतंत्र को कैसे बचाया जाता है। उन्होंने दावा किया कि राजनीति बाहुबल के आगे जनबल झुकेगा नहीं। बता दें कि एग्जिट पोल्स में भाजपा को 250 से भी अधिक सीटें मिलती हुई दिखाई जा रही हैं। उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा, कॉन्ग्रेस और सत्ताधारी भाजपा में ही मुख्य लड़ाई है। हालाँकि, कॉन्ग्रेस के खाता खोलने पर भी आफत दिख रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

योगी सरकार के कारण टूटा संगठन: BKU से निकलने के बाद टिकैत भाइयों के बयानों में फूट, एक ने मढ़ा BJP पर इल्जाम, दूसरा...

भारतीय किसान यूनियन में हुई फूट के मुद्दे पर राकेश टिकैत ने सरकार को दिया दोष, तो नरेश टिकैत ने किसी भी प्रकार की राजनीति होने से इंकार किया।

बॉलीवुड फिल्मों के फेल होने के पीछे कंगना ने स्टार किड्स को बताया जिम्मेदार, बोलीं- उबले अंडे जैसी शक्ल होती है इनकी, कौन देखेगा

कंगना रनौत ने एक बार फिर से स्टार किड्स को लेकर टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि स्टार किड्स दर्शकों से कनेक्ट नहीं कर पाते। उनके चेहरे उबले अंडे जैसे लगते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
185,988FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe