Saturday, January 28, 2023
Homeदेश-समाजहमें पाँच एकड़ अलॉट कीजिए, हम बनाएँगे अस्पताल: शिया वक्फ बोर्ड

हमें पाँच एकड़ अलॉट कीजिए, हम बनाएँगे अस्पताल: शिया वक्फ बोर्ड

"शिया वक्फ बोर्ड का मानना है कि लम्बे समय से चले आ रहे इस विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला आया है वह देशहित में है, इसीलिए इस मामले में अब पुनर्विचार याचिका डालकर हम इसे और बढ़ाना नहीं चाहते।"

अयोध्या में सुप्रीम कोर्ट द्वारा मस्जिद के लिए निर्धारित पाँच एकड़ ज़मीन न लेने के सुन्नी वक्फ बोर्ड के बयान पर शिया वक्फ बोर्ड ने कहा है कि ज़मीन कोर्ट उन्हें (शिया वक्फ बोर्ड को) अलॉट कर दें। इस जगह पर वह अस्पताल बनवा देंगे। एक रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में बोलते हुए शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिज़वी ने कहा कि पाँच एकड़ की इस ज़मीन पर शिया वक्फ बोर्ड एक अस्पताल बनवाएगा जिसमें कि सभी धर्म के लोगों का इलाज मुफ्त में किया जाएगा। रिज़वी ने आगे कहा कि आज हुई बोर्ड की मीटिंग में यह तय किया गया है कि शिया वक्फ बोर्ड अयोध्या मामले में पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करेगा।

अपने एक बयान में उन्होंने कहा कि, “शिया वक्फ बोर्ड का मानना है कि लम्बे समय से चले आ रहे इस विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला आया है वह देशहित में है, इसीलिए इस मामले में अब पुनर्विचार याचिका डालकर हम इसे और बढ़ाना नहीं चाहते।” उन्होंने आगे कहा कि शिया वक्फ बोर्ड ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के फैसले से बिलकुल इत्तेफाक नहीं रखता, न ही वह एआईएमपीएलबी का हिस्सा है। रिज़वी ने यह भी कहा कि देशभर में उनके मजहब के लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है।

वहीं दूसरी ओर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने जन्मभूमि केस में पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का फैसला किया है। बता दें कि 9 नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट ने लम्बे समय से चले आ रहे अयोध्या विवाद पर अपना फैसला सुना दिया था। कोर्ट ने अपने इस फैसले में विवादित भूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए हिन्दुओं के पक्ष को सही ठहराया था वहीं मुसलामान पक्ष को धर्मनगरी अयोध्या में मस्जिद बनाने के लिए अलग से पाँच एकड़ ज़मीन देने की बात अपने फैसले में कही थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हमारा सनातन धर्म भारत का राष्ट्रीय धर्म: बोले CM योगी, ऐतिहासिक नीलकंठ महादेव मंदिर में की पूजा

सीएम योगी ने देश की सुरक्षा और विरासत की रक्षा के लिए लोगों से व्यक्तिगत स्वार्थ से ऊपर उठकर राष्ट्रीय धर्म के साथ जुड़ने का आह्वान किया।

शेयर गिराओ, उससे अरबों कमाओ: अडानी पर आरोप लगाने वाला Hindenburg रिसर्च का काला चिट्ठा, अमेरिका में चल रही जाँच

Hindenburg रिसर्च: संस्थापक रह चुका है ड्राइवर। जानिए उस कंपनी के बारे में जिसने अडानी समूह के 2 लाख करोड़ रुपए डूबा दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
242,733FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe