Friday, July 1, 2022
Homeराजनीतिशिवसेना गुंडों ने बुजुर्ग के साथ मारपीट कर पहनाई साड़ी, बनाया वीडियो: CM ठाकरे...

शिवसेना गुंडों ने बुजुर्ग के साथ मारपीट कर पहनाई साड़ी, बनाया वीडियो: CM ठाकरे की आलोचना पर राजनीतिक गुंडई

सार्वजनिक रूप से एक वरिष्ठ नागरिक के साथ मारपीट की जाती है, चेहरे पर कालिख पोती, चूड़ियों की माला पहना कर साड़ी पहना दी... और हद यह कि इस घटना के बारे में शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में भी खबर भी प्रकाशित की गई।

महाराष्ट्र में सत्ताधारी पार्टी शिवसेना के गुंडों ने वरिष्ठ नागरिक शिरीष कटेकर के चेहरे पर कालिख पोत दी। शिवसेना कार्यकर्ताओं का आरोप था कि शिरीष कटेकर ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की आलोचना की है। ये घटना पंढरपुर की है।

इससे पहले भी कई बार ऐसी घटनाएँ हो चुकी हैं, जब शिवसेना के गुंडों ने विरोधियों के बाल मुँड़ दिए हों या फिर उनके चेहरे पर स्याही की पुताई कर दी हो। शिरीष कटेकर न सिर्फ वरिष्ठ नागरिक हैं बल्कि भाजपा के नेता भी हैं।

सार्वजनिक रूप से एक वरिष्ठ नागरिक के साथ मारपीट की जाती है और हद यह कि इस घटना के बारे में शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में भी खबर भी प्रकाशित की गई। इतना ही नहीं, उक्त भाजपा नेता को जबरदस्ती साड़ी भी पहनाया गया।

पीड़ित वरिष्ठ नागरिक और भाजपा नेता का नाम शिरीष कटेकर है, जो जिले में पार्टी के उपाध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं। भाजपा यहाँ बिजली बिल में बढ़ोतरी के खिलाफ आंदोलन कर रही थी, जिसके बाद शिवसेना ने आक्रामक रुख अपना लिया।

पंढरपुर की पुलिस ने बीच-बचाव और हस्तक्षेप किया, जिसके बाद मामला शांत हुआ। हालाँकि, इस घटना के कारण इलाके में तनाव व्याप्त है। शुक्रवार (फ़रवरी 5, 2021) को पूरे राज्य में भाजपा ने बिल बिल बढ़ोतरी के खिलाफ आंदोलन किया था। ‘महाराष्ट्र राज्य विद्युत् वितरण कंपनी लिमिटेड (MSEDCL)’ के दफ्तरों का घेराव किया गया। इसमें शिरीष कटेकर भी शामिल थे।

उन्होंने भाषण देते हुए आरोप लगाया था कि उद्धव ठाकरे घर में ही बैठे रहते हैं और बाहर नहीं निकलते। इसके बाद कुछ शिवसैनिक पहुँचे और उनके साथ मारपीट की। उन्होंने पूरे पंढरपुर में भी बंद की चेतावनी दी है।

पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में भी इस सम्बन्ध में खबर प्रकाशित किया गया। भाजपा का आरोप है कि अब तक किसी शिवसेना नेता द्वारा घटना की निंदा न करना दर्शाता है कि इस घटना को उनका समर्थन प्राप्त है।

इसी तरह दिसंबर 2019 में शिवसेना की एक कार्यकर्ता ने पूरे बोतल भर इंक एक बुजुर्ग व्यक्ति के ऊपर सिर्फ़ इसीलिए उड़ेल दिया था, क्योंकि उसने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना करते हुए पोस्ट लिखा था। महिला ने जब उस व्यक्ति पर इंक डाला, तब वो फोन से बात कर रहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,242FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe