Tuesday, October 19, 2021
HomeराजनीतिSC/ST और OBC का 'कॉमेडियन' कुणाल कामरा ने उड़ाया मजाक, संजय राउत के...

SC/ST और OBC का ‘कॉमेडियन’ कुणाल कामरा ने उड़ाया मजाक, संजय राउत के इंटरव्यू में बताया ‘चूहा’

इस साक्षात्कार के एक और हिस्से में एडोल्फ हिटलर को भाषण देते हुए सुना जा सकता है, लेकिन पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की आवाज़ सुनाई देती है। इसके अलावा सर्वोच्च न्यायालय को भगवा रंग में दिखाया गया है और उसके ऊपर भाजपा का झंडा है।

कॉमेडियन कुणाल कामरा एक बार फिर विवादों में घिर गया है। कुणाल कामरा द्वारा किए गए संजय राउत के एक साक्षात्कार की क्लिप सोशल मीडिया पर काफी सुर्ख़ियाँ बटोर रही है। इसमें वह अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग (SC, ST, OBC) के लोगों की रैट्स (चूहों) से तुलना करता है। साक्षात्कार के दौरान वह एक कैरिकेचर दिखाता है जिसमें लाल कृष्ण आडवाणी को ‘विचित्र बांसुरी वाले’ की तरह बनाया गया है, जो कई चूहों की अगुवाई कर रहे हैं और उन पर SC, ST, OBC लिखा हुआ है।

इस दौरान मंदिर वहीं बनाएँगे की धुन भी बज रही है। कुणाल कामरा के यूट्यूब चैनल पर यह एपिसोड 13 नवंबर को साझा किया गया था। 

श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन में हिस्सा लेने वाले हिंदुओं को चूहे की तरह दर्शाने के लिए सोशल मीडिया पर लोग जम कर नाराज हुए और उन्होंने इस अपमानजनक चित्रण के लिए कुणाल कामरा को खूब लताड़ लगाई। लोग बस इतना जानना चाहते थे कि क्या शिवसेना, एनसीपी और कॉन्ग्रेस SC, ST, OBC के इस घृणित चित्रण से सहमत है। 

पूरे साक्षात्कार के दौरान कुणाल कामरा ने संजय राउत का मज़ाक उड़ाने का प्रयास किया। शिवसेना सांसद इस बात से बेख़बर नज़र आ रहे थे कि उनके दल के नेताओं द्वारा अतीत में दिए गए बयानों और साक्षात्कार के दौरान दिए गए उनके बयानों की तुलना की जा रही थी। संभावित तौर पर ऐसा साक्षात्कार रिकॉर्ड करने के बाद किया गया होगा। 

मसलन अतीत में शिवसेना, उद्धव ठाकरे, संजय राउत द्वारा हिंदुत्व, संविधान और राजनीति में धर्म पर की गई टिप्पणी की, शिवसेना नेता द्वारा साक्षात्कार के दौरान की गई टिप्पणी से तुलना की गई। कुणाल कामरा ने इस बात का भी मज़ाक बनाया कि शिवसेना महाराष्ट्र में मंदिरों को खोलने की अनुमति नहीं दे रही थी। 

इस साक्षात्कार के एक और हिस्से में एडोल्फ हिटलर को भाषण देते हुए सुना जा सकता है, लेकिन पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की आवाज़ सुनाई देती है। यानी इसके माध्यम से कुणाल कामरा दिखाना चाहता है कि मोदी हिटलर जैसे हैं। इसके बाद सुशांत सिंह राजपूत के मामले पर चर्चा करते हुए संजय राउत ने कहा कि मुंबई पुलिस ‘बेस्ट पुलिस’ है। 

इसके अलावा सर्वोच्च न्यायालय को भगवा रंग में दिखाया गया है और उसके ऊपर भाजपा का झंडा है। उल्लेखनीय है कि ट्विटर पर सर्वोच्च न्यायालय के संबंध में आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद कुणाल कामरा पर न्यायालय की अवमानना का मामला दर्ज किया जा चुका है। इस साक्षात्कार की शुरुआत में देखा जा सकता है कि संजय राउत और कुणाल कामरा ने एक खिलौने वाला बुलडोजर लिया है और फिर शिवसेना सांसद बॉलीवुड अभिनेत्री पर अपरोक्ष रूप से टिप्पणी करते हैं। 

इसके बाद कंगना रनौत के दफ्तर पर की गई महाराष्ट्र प्रशासन की कार्रवाई को लेकर डींग भी मारते हैं। एक जगह संजय राउत कहते हैं कि महाराष्ट्र सरकार जानकारी देते-देते थक गई थी। बुलडोजर अपने आप सही समय पर निर्धारित पते पर जाता है, इसके बाद स्क्रीन पर गूगल मैप पर रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के पूरे पते का पॉपअप (जानकारी) आता है।  

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान हारे भी न और टीम इंडिया गँवा दे 2 अंक: खुद को ‘देशभक्त’ साबित करने में लगे नेता, भूले यह विश्व कप है-द्विपक्षीय...

सृजिकल स्ट्राइक का सबूत माँगने वाले और मंच से 'पाकिस्तान ज़िंदाबाद' का नारा लगवाने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच रद्द कराने की माँग कर 'देशभक्त' बन जाएँगे?

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe