Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीति'लापता' पोस्टर पर स्मृति ईरानी ने महिला कॉन्ग्रेस को दिखाया आईना, खुद के दौरे...

‘लापता’ पोस्टर पर स्मृति ईरानी ने महिला कॉन्ग्रेस को दिखाया आईना, खुद के दौरे गिनाए, सोनिया के पूछ लिए

महिला कॉन्ग्रेस ने एक पोस्टर शेयर करते हुए दावा किया कि अमेठी की जनता अपने सांसद को खोज रही है। उनके झूठ की पोल खोलते हुए स्मृति ईरानी ने अपने दौरे गिनाते हुए कॉन्ग्रेसियों से उनकी अध्यक्ष सोनिया गॉंधी के रायबरेली दौरे को लेकर सवाल पूछा है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की मोदी सरकार की मेहनतकश मंत्रियों में गिनी जाती हैं। मंत्रालय के साथ-साथ अपने संसदीय क्षेत्र की जनता से भी लगातार संपर्क में रहती हैं। बावजूद इसके महिला कॉन्ग्रेस ने एक झूठा दावा कर लोगों को गुमराह करने का प्रयास किया।

महिला कॉन्ग्रेस ने एक पोस्टर शेयर करते हुए दावा किया कि अमेठी की जनता अपने सांसद को खोज रही है। उनके झूठ की पोल खोलते हुए स्मृति ईरानी ने अपने दौरे गिनाते हुए कॉन्ग्रेसियों से उनकी अध्यक्ष सोनिया गॉंधी के रायबरेली दौरे को लेकर सवाल पूछा है।

स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर कहा, “8 महीने 10 बार 14 दिन का हिसाब मेरे पास है। लेकिन ये बताएँ कि सोनिया गाँधी कितनी बार अपने क्षेत्र रायबरेली में गई हैं।” इससे पहले महिला कांग्रेस ने पोस्टर शेयर करते हुए ट्वीट क्या था, “अमेठी ढूंढ रही है अपनी लापता सांसद स्मृति ईरानी को।”

इस ट्वीट के जवाब में स्मृति ईरानी ने लिखा, “आपको मुझसे इतनी मोहब्बत थी ये पता नहीं था… चलें अब कुछ आपको भी हिसाब दिया जाए। 8 महीने 10 बार 14 दिन का हिसाब है मेरे पास है, लेकिन ये बताएँ सोनिया गाँधी इस दौरान कितनी बार अपने क्षेत्र (रायबरेली) में गईं।”

दरअसल अमेठी जिले में चिपकाए गए पर्चे में लिखा है कि सांसद बनने के बाद स्मृति ईरानी ने साल भर में दो दिन कुछ घंटों के लिए ही अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। हमने कोरोना संकट के बीच ट्विटर के माध्यम से उनको अन्ताक्षरी खलते और एकाध व्यक्ति के साथ लंच करते हुए देखा है, लेकिन इस विपरीत परिस्थिति में उनको मासूम जनता ढूंढ रही है। अमेठी की जनता को यूँ ही छोड़ देना यह दर्शाता है कि अमेठी आपके लिए महज टूर है और पर्चे के आखिर में सवाल किया गया कि क्या आप अमेठी में सिर्फ कन्धा ही देने आएँगी?

आपको बता दें कि यह कोई पहला मौका नहीं कि जब स्मृति ईरानी ने अपनी हाजिरजवाबी से विपक्ष को को निरुत्तर कर दिया है। हाल ही में कॉन्ग्रेस का राष्ट्रीय समन्वयक होने का दावा करने वाले पांधी ने ट्विटर पर स्मृति ईरानी का मजाक उड़ाने की कोशिश करते हुए उन्हें भारत के इतिहास का सबसे ‘मूर्ख’ और ‘बेवकूफ’ सांसद बताया था।

पांधी के अपमानजनक ट्वीट का एक दिन बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बेहद विनम्र अंदाज में जवाब देकर सोशल मीडिया यूजर्स का दिल जीत लिया था। स्मृति ईरानी ने अपने जवाब में पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए लिखा था कि वो इस बात सहमत हैं, लेकिन कल्पना कीजिए कि उनके जैसे मूर्ख ने सुपर इंटेलीजेंट राहुल गाँधी को हरा दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,104FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe