Friday, June 21, 2024
Homeराजनीति'फादर और चादर से दूर रहो, जय श्री राम कहो': BJP विधायक की हिन्दुओं...

‘फादर और चादर से दूर रहो, जय श्री राम कहो’: BJP विधायक की हिन्दुओं को सलाह, कॉन्ग्रेस ने बताया अल्पसंख्यकों का अपमान

"अपनी संस्कृति को याद रखो। सुबह 'गुड मॉर्निंग' भूल जाओ। उसके बदले सुबह उठ कर हाथ देखते हुए ये श्लोक पढ़ो - प्रात: कर-दर्शनम् कराग्रे वसते लक्ष्मी करमध्ये सरस्वती। करमूले तू गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम्॥"

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के एक कार्यक्रम में बोलते हुए भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने लोगों को ‘फादर और चादर वालों’ से दूर रहने की सलाह दी है। उनका इशारा ईसाई और इस्लामी धर्मांतरण की तरफ था। उन्होंने कहा कि ये दोनों तुम्हें बर्बाद कर देंगे, पीर बाबाओं से दूर रहो क्योंकि वो तुम्हारे हनुमान मंदिर जाने में बाधा हैं। उन्होंने कहा कि ये पीर बाबा जमीन में दफ़न करने वालों पर भरोसा करते हैं, हम लंका को जलाने वाले बजरंग बली पर भरोसा करते हैं।

रामेश्वर शर्मा ने भोपाल के नदीमपुर रोड में आयोजित दशहरा कार्यक्रम में बोलते हुए कहा, “अपनी संस्कृति को याद रखो। सुबह ‘गुड मॉर्निंग’ भूल जाओ। उसके बदले सुबह उठ कर हाथ देखते हुए ये श्लोक पढ़ो – प्रात: कर-दर्शनम् कराग्रे वसते लक्ष्मी करमध्ये सरस्वती। करमूले तू गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम्॥ पलंग छोड़ने से पहले धरती को प्रणाम करो- ऐ कोख में पैदा करने वाली माँ, तुम्हें प्रणाम है।”

हुजूर विधानसभा बात से लगातार दूसरी बार विधायक बने रामेश्वर शर्मा ने लोगों को सलाह दी कि सूबा-सुबह भारत माँ को प्रणाम कीजिए, क्योंकि ये भारत भूमि है जिसे कान्हा ने जीभ से चाटा था, जब यशोदा ने चाँटा मारा था। उन्होंने आगे कहा कि ये वही भारत भूमि है, जिसे श्रीराम ने माथे पर लगा कर कहा था कि उन्हें सोने की लंका नहीं, अवध की धूल चाहिए। विधायक ने कहा कि ये वही भूमि है, जो केवल जमीन का टुकड़ा नहीं बल्कि परमात्मा है, साक्षात् देवी है।

दशहरा के मौके पर भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा का सम्बोधन

विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि नवरात्री के मौके पर हमने इसी भूमि को पूजा है और हमेशा पूजते रहेंगे। उन्होंने कहा, “आज राम जय-जयकार कीजिए। मैं जब आपसे मिलूँ, तो क्या होना चाहिए?” इसके बाद भीड़ ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगवाया। उन्होंने बार-बार ‘जय श्री राम’ का नारा लगवाते हुए कहा कि हमें अड़ोस-पड़ोस में भी मिलने पर यही बोलना चाहिए। रामेश्वर शर्मा 2013 और 2018 में हुजूर क्षेत्र से जीत दर्ज कर चुके हैं।

वहीं अब विधायक के इस भाषण पर विवाद भी खड़ा हो गया है। कॉन्ग्रेस पार्टी ने उनके बयान को अल्पसंख्यकों का अपमान बताते हुए माफ़ी माँगने की माँग की है। कॉन्ग्रेस ने कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता स्पष्ट करें कि क्या वो भी ऐसा ही सोचते हैं। कार्रवाई की माँग करते हुए कॉन्ग्रेस ने कहा कि विधायक राजनीतिक लाभ के लिए विभिन्न समुदायों में वैमनस्य पैदा कर रहे हैं। पार्टी ने माहौल बिगाड़ने का आरोप भाजपा पर मढ़ा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पास में थी सिर्फ 11 बोतल इसलिए छोड़ दिया… तमिलनाडु में जिसने घर-घर बाँटा ‘जहर’, उसे गिरफ्तारी के तुरंत बाद छोड़ा गया था: रिपोर्ट,...

छानबीन में पता चला है कि आरोपित गोविंदराज कुछ दिन पहले ही गिरफ्तार किया गया था, लेकिन तब उसके पास कम बोतल थी, इसलिए उसे तुरंत छोड़ दिया गया था।

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -