Friday, June 25, 2021
Home राजनीति EXIT Poll: इंतजार होगा खत्म, इन 8 जगहों से मिलेगी पूरी जानकारी

EXIT Poll: इंतजार होगा खत्म, इन 8 जगहों से मिलेगी पूरी जानकारी

News18-IPSOS, India Today-Axis, Times Now-CNX, NewsX-Neta, Republic Bharat-Jan Ki Baat, Republic-CVoter, ABP-CSDS और Today’s Chanakya आज अपना-अपना एग्जिट पोल जारी करेंगे।

लोकसभा चुनाव-2019 रविवार (मई 19) को सातवें चरण के मतदान के साथ 6 बजे तक सम्पन्न हो जाएगा। सातवें-चरण के मतदान में 7 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के 543 में से शेष 59 निर्वाचन क्षेत्र शामिल हैं।

अभी से लोग मतदान के शाम 6 बजे के आसपास समाप्त होने का इंतज़ार कर रहे हैं। तमाम मीडिया ग्रुप एग्जिट पोल की तैयारी कर चुके हैं, सबका दावा है कि सबसे सही एग्जिट पोल उन्हीं का है। वैसे देखा जाए तो आज तक कभी भी किसी का एग्जिट पोल पूरी तरह से सही नहीं (एकाध मौकों को छोड़कर) हुआ है। आपको 2014 का एग्जिट पोल भी याद होगा, तब भी एक को छोड़ बाकी सभी बहुत बड़े पैमाने पर गलत साबित हुए थे, खैर इस बार भी, News18-IPSOS, India Today-Axis, Times Now-CNX, NewsX-Neta, Republic Bharat-Jan Ki Baat, Republic-CVoter, ABP-CSDS और Today’s Chanakya आज अपना-अपना एग्जिट पोल जारी करेंगे। 23 मई को चुनाव आयोग द्वारा अंतिम परिणाम घोषित किए जाने से पहले और 19 मई (रविवार) शाम 6 बजे के बाद से सब की अपनी-अपनी भविष्यवाणियाँ जारी होंगी। इस बार किसका एग्जिट पोल सही है, है तो कितना और किसका अंतिम परिणाम से बहुत दूर रहा, इसका पता भी 23 को काउंटिग के बाद ही चलेगा।

क्या होता है एक्जिट पोल

एग्जिट पोल मतदान केंद्रों से बाहर निकलने के तुरंत बाद मतदाताओं के सर्वेक्षण पर आधारित होता है। आमतौर पर, समाचार पत्रों और TV चैनलों के लिए काम करने वाली निजी सर्वेक्षण फर्म या संस्थाएँ मतदाताओं से पूछती हैं कि उन्होंने वास्तव में किसे वोट दिया और यह मानते हुए कि उन्हें सही उत्तर मिले हैं, वे परिणाम के रुझान की भविष्यवाणी करते हैं। एग्जिट पोल पर आधारित चुनावी भविष्यवाणियों ने पिछले एक दशक में टेलीविजन की पहुँच को भारत में डिजिटल समाचार पोर्टलों के बढ़ने के साथ काफी बढ़ा दिया है। यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ऐसे एग्जिट पोल अक्सर फेल होते हैं, जिसकी बड़ी वजह है सैंपल साइज का छोटा होना और दूसरा जिनसे पूछा गया – उन्होंने कितना सही जवाब दिया। उदाहरण के लिए, 2014 में टुडे चाणक्य ने एनडीए के लिए 340 सीटें और भाजपा के लिए 291 का अनुमान लगाया था, जो लगभग सही परिणाम के करीब थे। इसके अलावा अन्य सभी एग्जिट पोल एकदम गलत साबित हुए थे।

यह जानना जरूरी है कि एग्जिट पोल पर चुनाव आयोग बेहद सख्त है। लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के आधे घंटे बाद, अर्थात 19 मई को एग्जिट पोल का प्रसारण शाम 6 बजे के आसपास किया जा सकता है। चुनाव आयोग के द्वारा पहली बार, 2019 के लोकसभा चुनावों में, वेबसाइटों और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों को भी कवर किया गया है। चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों में यह स्पष्ट है कि टीवी, रेडियो चैनल, केबल नेटवर्क, वेबसाइट या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रत्येक चरण के मतदान से पहले के 48 घंटे की अवधि के दौरान उनके द्वारा प्रसारित किए जाने वाले कार्यक्रमों की सामग्री में किसी भी पार्टी या उम्मीदवार की जीत की संभावना को बढ़ावा देने या कम करने के रूप में कोई भी विचार या अपील संबंधी सामग्री प्रसारित नहीं की जा सकती है।

खैर, कुछ ही घंटों में एग्जिट पोल आने वाले हैं, इसके बाद 23 मई तक तरह-तरह के एनालिसिस किए जाएँगे, कौन कितना सही या गलत है इसका पता तो अंतिम परिणाम के साथ ही चलेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अपनी मर्जी से मंतोष सहनी के साथ गई, कोई जबरदस्ती नहीं’ – फजीलत खातून ने मधुबनी अपहरण मामले पर लगाया विराम

मधुबनी जिले के बिस्फी की फजीलत खातून के कथित अपहरण मामले में नया मोड़। फजीलत खातून ने खुद ही सामने आकर बताया कि वो मंतोष सहनी के साथ...

चित्रकूट का पर्वत जो श्री राम के वरदान से बना कामदगिरि, यहाँ विराजमान कामतानाथ करते हैं भक्तों की हर इच्छा पूरी

भगवान राम ने अपने वनवास के दौरान लगभग 11 वर्ष मंदाकिनी नदी के किनारे स्थित चित्रकूट में गुजारे। चित्रकूट एक प्रमुख तीर्थ स्थल माना जाता है...

फतेहपुर के अंग्रेजी मीडियम स्कूल में हिंदू बच्चे पढ़ते थे नमाज: महिला टीचर ने खोली मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण गैंग की पोल

फतेहपुर के नूरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में मौलाना उमर के गिरोह की सक्रियता का खुलासा वहाँ की ही एक महिला टीचर ने किया है।

‘सत्यनारायण और भागवत कथा फालतू, हिजड़ों की तरह बजाते हैं ताली’: AAP नेता का वीडियो वायरल

AAP की गुजरात इकाई के नेता गोपाल इटालिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वे हिन्दू परंपराओं का अपमान करते दिख रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर: PM मोदी का ग्रासरूट डेमोक्रेसी पर जोर, जानिए राज्य का दर्जा और विधानसभा चुनाव कब

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह 'दिल्ली की दूरी' और 'दिल की दूरी' को मिटाना चाहते हैं। परिसीमन के बाद विधानसभा चुनाव उनकी प्राथमिकता में है।

₹60000 करोड़, सबसे सस्ता स्मार्टफोन, 109 शहरों में वैक्सीनेशन सेंटर: नीता अंबानी ने बताया कोरोना काल का ‘धर्म’

रिलायंस इंडस्ट्रीज की AGM में कई बड़ी घोषणाएँ की गई। कोविड संकट से देश को उबारने के प्रति प्रतिबद्धता दिखाई गई।

प्रचलित ख़बरें

‘सत्यनारायण और भागवत कथा फालतू, हिजड़ों की तरह बजाते हैं ताली’: AAP नेता का वीडियो वायरल

AAP की गुजरात इकाई के नेता गोपाल इटालिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वे हिन्दू परंपराओं का अपमान करते दिख रहे हैं।

फतेहपुर के अंग्रेजी मीडियम स्कूल में हिंदू बच्चे पढ़ते थे नमाज: महिला टीचर ने खोली मौलाना उमर गौतम के धर्मांतरण गैंग की पोल

फतेहपुर के नूरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में मौलाना उमर के गिरोह की सक्रियता का खुलासा वहाँ की ही एक महिला टीचर ने किया है।

TMC के गुंडों ने किया गैंगरेप, कहा- तेरी काली माँ न*गी है, तुझे भी न*गा करेंगे, चाकू से स्तन पर हमला: पीड़ित महिलाओं की...

"उस्मान ने मेरा रेप किया। मैं उससे दया की भीख माँगती रही कि मैं तुम्हारी माँ जैसी हूँ मेरे साथ ऐसा मत करो, लेकिन मेरी चीख-पुकार उसके बहरे कानों तक नहीं पहुँची। वह मेरा बलात्कार करता रहा। उस दिन एक मुस्लिम गुंडे ने एक हिंदू महिला का सम्मान लूट लिया।"

‘हरा$ज*, हरा%$, चू$%’: ‘कुत्ते’ के प्रेम में मेनका गाँधी ने पशु चिकित्सक को दी गालियाँ, ऑडियो वायरल

गाँधी ने कहा, “तुम्हारा बाप क्या करता है? कोई माली है चौकीदार है क्या हैं?” डॉक्टर बताते भी हैं कि उनके पिता एक टीचर हैं। इस पर वो पूछती हैं कि तुम इस धंधे में क्यों आए पैसे कमाने के लिए।

‘हर चोर का मोदी सरनेम क्यों’: सूरत की कोर्ट में पेश हुए राहुल गाँधी, कहा- कटाक्ष किया था, अब याद नहीं

कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी सूरत की एक अदालत में पेश हुए। मामला 'सारे मोदी चोर' वाले बयान पर दर्ज आपराधिक मानहानि के मामले से जुड़ा है।

जम्मू-कश्मीर के लोग अपने पूर्व मुख्यमंत्री को जेल में डालने के लिए धरने पर बैठे, कर रही थीं पाकिस्तान की वकालत

"महबूबा मुफ्ती से बातचीत के बजाय उन्हें तिहाड़ जेल भेजा जाना चाहिए। दिल्ली से उन्हें वापस जम्मू कश्मीर नहीं आने दिया जाना चाहिए।”
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
105,792FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe