Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीतिबंगाल: PM मोदी ने जिस मैदान में रैली की, TMC नेताओं ने वहाँ किया...

बंगाल: PM मोदी ने जिस मैदान में रैली की, TMC नेताओं ने वहाँ किया गंगाजल छिड़ककर ‘शुद्धिकरण’

ममता बनर्जी को भी इसी मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करना था। ऐसे में, टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा गंगाजल छिड़क कर मैदान को साफ सुथरा किया गया ताकि मोदी के बाद रैली करने पहुँची सीएम ममता बनर्जी साफ सुथरे मैदान में जनसभा को संबोधित करे।

बंगाल में आगामी चुनावों को लेकर सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस किस स्तर की राजनीति पर उतर आई है, इसका एक बेहद घिनौना उदाहरण सामने आया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (फ़रवरी 22, 2021) को पश्चिम बंगाल के हुगली में जिस मैदान में जनसभा को संबोधित किया था वहाँ रैली के अगले ही दिन TMC के कार्यकर्ताओं ने जाकर गंगाजल छिड़का और उसका ‘शुद्धिकरण’ किया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 24 फरवरी को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी इसी मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करना था। ऐसे में टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा गंगाजल छिड़क कर मैदान को साफ सुथरा किया गया ताकि मोदी के बाद रैली करने पहुँची सीएम ममता बनर्जी ‘साफ-सुथरे’ मैदान में जनसभा को संबोधित करे। टीएमसी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा मंगलवार को गंगाजल छिड़ककर पूरे मैदान का शुद्धिकरण किया गया था। हुगली में TMC के जिलाध्यक्ष दिलीप यादव की अगुवाई में यह अभियान चला गया।

वहीं, जनसभा स्थल के शुद्धिकरण को लेकर टीएमसी के समर्थकों का कहना था कि बीजेपी के इस मैदान में पैर पड़ते ही मैदान अपवित्र हो गया। भाजपा एक अशुभ शक्ति है, जिसे बंगाल से भगान के लिए छिड़क कर शुद्धिकरण किया जा रहा है, ताकि अशुभ शक्ति के प्रभाव से बंगाल को मुक्ति मिल सके। इसके अलावा, तृणमूल कॉन्ग्रेस के समर्थकों ने गंगाजल का छिड़काव करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘मोदी सरकार दूर हटो’ के नारे लगाए।

गौरतलब है कि आज पश्चिम बंगाल की सीएम एवं तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी ने जहाँ एक तरफ पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर प्रदेश सरकार की तरफ से कोरोना के टीकों की खरीद को लेकर मदद माँगी है तो वहीं दूसरी ओर, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘सबसे बड़ा दंगाबाज’ करार दिया है।

दरअसल, टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हुगली जिले के जिस मैदान पर गंगाजल छिड़क कर उसे शुद्ध किया था, वहाँ मुख्यमंत्री ने एक रैली को संबोधित करते हुए भारत के पीएम के खिलाफ काफी अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। उन्होंने कहा, मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पूरे देश में झूठ और नफरत फैला रहे हैं। “नरेंद्र मोदी देश के सबसे बड़े दंगाबाज हैं। ट्रंप के साथ जो हुआ, उनके (मोदी के) साथ उससे भी बुरा होगा। हिंसा से कुछ हासिल नहीं किया जा सकता।”

उन्होंने आगे कहा, “हमेशा आप (बीजेपी) कहते हैं कि तृणमूल कॉन्ग्रेस ‘तोलाबाज’ है, लेकिन मैं आज कहती हूँ आप (बीजेपी) ‘दंगाबाज और ढंगाबाज’ है। बंगाल पर बंगाल शासन करेगा। बंगाल पर गुजरात शासन नहीं करेगा। हमें बंगाल नहीं, बांग्ला चाहिए। मोदी बंगाल पर राज नहीं करेंगे। बंगाल पर गुंडे और बदमाश राज नहीं करेंगे।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से लड़ रही लालू की बेटी, वहाँ यूँ ही नहीं हुई हिंसा: रामचरितमानस को गाली और ‘ठाकुर का कुआँ’ से ही शुरू हो...

रामचरितमानस विवाद और 'ठाकुर का कुआँ' विवाद से उपजी जातीय घृणा ने लालू यादव की बेटी के क्षेत्र में जंगलराज की यादों को ताज़ा कर दिया है।

निजी प्रतिशोध के लिए हो रहा SC/ST एक्ट का इस्तेमाल: जानिए इलाहाबाद हाई कोर्ट को क्यों करनी पड़ी ये टिप्पणी, रद्द किया केस

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए SC/ST Act के झूठे आरोपों पर चिंता जताई है और इसे कानून प्रक्रिया का दुरुपयोग माना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -