Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीति'इन गद्दारों की बात सुन कैसे मान लूँ कि इनका खून यहाँ की मिट्टी...

‘इन गद्दारों की बात सुन कैसे मान लूँ कि इनका खून यहाँ की मिट्टी में शामिल है’

शरजील ने विवादित वीडियो में असम को हिंदुस्तान से परमानेंटली काटने की बात कही थी और साथ ही चिकन नेक इलाके को बंद करने के लिए कहा था। उसका कहना था कि चिकन चेक समुदाय विशेष का इलाका है। इस दौरान अल्लाह हू अकबर के नारे भी लगाए गए थे।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देश भर में कई जगहों पर भड़काऊ नारेबाजी और हिंसक विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। इसी बीच जेएनयू के पूर्व छात्र शरजील इमाम का आपत्तिजनक वीडियो सामने आया है। वीडियो में इस्तेमाल की गई भाषा हमारे संघीय ढाँचे पर प्रहार की तरह है। यह वीडियो अलगाववादी और देश को विभाजित करने के एजेंडे को दिखाती है। वीडियो में शरजील इमाम ने कहा है कि असम को भारत से अलग कर देना चाहिए। शरजील इमाम के इस भड़काऊ बयान पर राजनीति शुरू हो गई है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के बाद अब केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर शरजील को गद्दार करार दिया है।

गिरिराज सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा है, “यह कहते हैं सभी का खून है शामिल यहाँ की मिट्टी में, किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है। इन गद्दारों की बात सुनकर कैसे मान लूँ कि इनका खून शामिल है, यहाँ की मिट्टी में? कह रहा है असम को काट कर हिंदुस्तान से अलग कर देंगे।”

बता दें कि शरजील ने विवादित वीडियो में असम को हिंदुस्तान से परमानेंटली काटने की बात कही थी और साथ ही चिकन नेक इलाके को बंद करने के लिए कहा था। उसका कहना था कि चिकन नेक समुदाय विशेष का इलाका है। इस दौरान अल्लाह हू अकबर के नारे भी लगाए गए थे। अब बेहद आपत्तिजनक भाषण देकर शरजील इमाम बुरी तरह फँस चुका है। भड़काऊ बयान के मामले में शरजील के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

इससे पहले असम सरकार के मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने कहा था, “दिल्ली में शाहीन बाग विरोध-प्रदर्शन के मुख्य आयोजक शरजील ने कहा है कि असम को शेष भारत से काट दिया जाना चाहिए। असम सरकार ने इस देशद्रोही बयान का संज्ञान लिया है और उसके खिलाफ मामला दर्ज करने का फैसला किया है।”

इससे पहले संबित पात्रा ने शरजील इमाम का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “दोस्तों शाहीन बाग की असलियत देखें। पात्रा ने यह सवाल किया है कि क्या यह देशद्रोह नहीं है।” फिर बाद में पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि शाहीन बाग की साजिश पूरे विश्व के सामने आ गया है। शाहीन बाग को तौहीन बाग कहना चाहिए। शाहीन बाग में एंटी नेशनल बातें की गईं। असम को भारत से आज़ाद करने की बात कही गई हैं।

राम मंदिर का काम पूरा, जनसंख्या नियंत्रण का कानून बन जाए तो राजनीति से संन्यास ले लूॅं: गिरिराज सिंह

देश के विकास के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून जरूरी, रामदेव को मिला गिरिराज सिंह का समर्थन

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe