Tuesday, September 28, 2021
Homeराजनीतिशिवसैनिकों ने की मशीनों में तोड़फोड़, लगाई आग: राष्ट्रीय राजमार्गों के काम रुकने पर...

शिवसैनिकों ने की मशीनों में तोड़फोड़, लगाई आग: राष्ट्रीय राजमार्गों के काम रुकने पर नितिन गडकरी ने CM उद्धव को दी चेतावनी

गडकरी ने अपने पत्र में लिखा कि अगर शिवसैनिक ऐसा ही बर्ताव करते रहे तो महाराष्ट्र में नेशनल हाइवे के कार्यों को मंजूरी देने से पहले उनके मंत्रालय को इस पर गंभीरता से विचार करना पड़ेगा।

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री व शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे को पत्र लिख कर शिवसैनिकों के बर्ताव पर अपनी नाराजगी जाहिर की है। पत्र में उन्होंने मुख्यमंत्री से उन शिवसैनिकों को नियंत्रित करने को कहा है जो विदर्भा में चल रहे राजमार्ग कार्य को ब्लॉक करके बैठ गए हैं।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शिवसेना के जनप्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं द्वारा राष्ट्रीय महामार्ग के काम में रुकावटें डालने और तोड़-फोड़ किए जाने की शिकायत मुख्यमंत्री से की है। इस पत्र में नितिन गडकरी ने उल्लेख किया है कि शिवसेना के कार्यकर्ता कॉन्ट्रैक्टरों की मशीनों और सामानों को तोड़-फोड़ और जला कर अधिकारी, कर्मचारी और मजदूरों के दिलों में दहशत पैदा कर रहे हैं। इस तरह वे अक्सर आकर काम बंद करवा देते हैं।

गडकरी ने अपने पत्र में लिखा कि अगर शिवसैनिक ऐसा ही बर्ताव करते रहे तो महाराष्ट्र में नेशनल हाइवे के कार्यों को मंजूरी देने से पहले उनके मंत्रालय को इस पर गंभीरता से विचार करना पड़ेगा। उन्होंने सीएम को लिखे अपने पत्र में कहा कि अगर कार्य को आगे बढ़ाना है तो इसमें उनके (सीएम) हस्तक्षेप की आवश्यकता है।

पत्र के मुताबिक, राज्य में 3 जगह पर नेशनल हाईवे के कार्यों में बाधा डालने का काम किया जा रहा है, ऐसे में अगर कोई भी काम आधे में छोड़ा गया तो इससे दुर्घटना होने की संभावना बढ़ जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दी कि अकोला और नांदेड़ के बीच 202 किमी लंबे राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण का काम चल रहा है। इनमें मेदाशी से वाशिम और वाशिम शहर के लिए 12 किलोमीटर लंबे बायपास का निर्माण कार्य भी शामिल है। लेकिन शिवसेना के नेताओं और कार्यकर्ताओं के हस्तक्षेप की वजह से बायपास और उसे जोड़ने वाली मुख्य सड़क के काम को रोकना पड़ा।

ऐसे ही मालेगाँव-रिसोड राष्ट्रीय महामार्ग पर पैनगंगा नदी के ऊपर ब्रिज बनाने का काम आधा पूरा हुआ है। यहाँ भी शिवसैनिकों द्वारा कार्य पूरा नहीं होने दिया जा रहा। इसके अलावा वाशिम जिले के सेलू बाजार गाँव से होकर जाने वाली सड़क का काम भी शिवसेना के नेताओं और कार्यकर्ताओं की वजह से रुक गया है। इन शिवसैनिकों ने मशीनों को जलाया है और सामानों को तोड़ दिया है।

अपने पत्र में नितिन गडकरी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से पत्र मिलते ही एक्शन लेने की माँग करते हैं। उन्होंने इस मामले में गृह विभाग से आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है। जानकारी के मुताबिक, इस पत्र के मिलने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने तुरंत इस मामले में पहल करते हुए राज्य के गृह विभाग को तत्काल जाँच करने और आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दे दिए हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe