Sunday, May 29, 2022
Homeराजनीति'मुझ पर अत्याचार करते हैं, गरीबों की जमीन कब्जाते हैं': सपा प्रत्याशी रोशनलाल वर्मा...

‘मुझ पर अत्याचार करते हैं, गरीबों की जमीन कब्जाते हैं’: सपा प्रत्याशी रोशनलाल वर्मा पर बहू ने लगाया आरोप, कहा- उन्हें वोट ना दें

बता दें कि वर्मा जनवरी में भाजपा छोड़कर समाजवादी पार्टी में चले गए थे। उन्हें अपना टिकट कटने का डर सता रहा था। वर्मा ने कहा था कि उनका टिकट अंत तक बना रहता, इस बात का उन्हें भरोसा नहीं था। उनका हाल ही में एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिनमें वह अभद्र भाषा का प्रयोग करते दिख रहे थे।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (Uttar Pradesh Assembly Election) से ठीक पहले भाजपा (BJP) छोड़कर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) में शामिल हुए रोशन लाल वर्मा (Roshan Lal Verma) को उनके घर से ही चुनौती मिल रही है। वर्मा की बहू ने आरोप लगाया है कि उनके ससुर ने विधायक रहते गरीबों पर बहुत अत्याचार किए। गरीबों की जमीनों पर कब्जे किए।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, रोशन लाल की बहू ने उन्हें अत्याचारी बताया है। कहा कि वर्मा उन पर अत्याचार किए, उन्हें बहुत परेशान किए, क्योंकि वे उन्हें बहू नहीं मानते हैं। उनकी बहू ने इलाके के लोगों से वर्मा को वोट नहीं देने की अपील की।

बता दें कि रोशन लाल वर्मा शाहजहाँपुर के तिलहर विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी हैं। वहीं, उनकी बहू सरिता राष्ट्रीय समाज पक्ष पार्टी के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं। बहू सरिता ने वर्मा के खिलाफ गाँव-गाँव प्रचार करना शुरू कर दिया है। इस दौरान वह अपने ससुर के अत्याचारों की कथा लोगों को सुना रही हैं।

सरिता का कहना है कि वह चुनावी मैदान में इसलिए उतरी हैं, ताकि उनके ससुर द्वारा कब्जा की गई जमीनों को वापस गरीबों को दिला सकें। उन्होंने कहा कि अगर वह जीतती हैं इलाके की जनता को अपने ससुर के अत्याचारों से बचाएँगी।

बता दें कि रोशन लाल वर्मा जनवरी में भाजपा छोड़कर समाजवादी पार्टी में चले गए थे। उन्हें अपना टिकट कटने का डर सता रहा था। वर्मा ने कहा था कि उनका टिकट अंत तक बना रहता, इस बात का उन्हें भरोसा नहीं था। अभी हाल ही में उनका दो वीडियो भी वायरल हुआ था, जिनमें वह मीडिया पर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं और कुछ नेताओं के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते दिख रहे हैं।

बता दें कि वर्मा पर निगोही थाने में दो और रोजा थाने में एक मुकदमा दर्ज है। इनमें से एक केस पुलिस के साथ मारपीट करने के संबंधित है। अगर उनकी संपत्ति की बात करें तो 2017 में रोशन लाल की कुल संपत्ति 37,29,059 रुपए और उनकी पत्नी के पास कुल 7,83,291 थी। इन 5 सालों में वर्मा और उनकी पत्नी की संपत्ति में बड़ा इजाफा हुआ है। वर्मा की संपत्ति 5 साल में दुगनी से अधिक होकर 48,45,685 रुपए हो गई है। वहीं, उनकी पत्नी की संपत्ति में भी दोगुनी बढ़ोत्तरी हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नूपुर शर्मा का सिर कलम करने वाले को ₹20 लाख इनाम का ऐलान, बताया ‘गुस्ताख़-ए-रसूल’: मुस्लिमों को उकसा रहा AltNews वाला जुबैर

तहरीक-ए-लब्बैक (TLP) वही समूह है जिसने कुछ दिनों सियालकोट में पहले श्रीलंकाई नागरिक की हत्या कर दी थी। अब नूपुर शर्मा का सिर कलम करने पर रखा इनाम।

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe