Thursday, June 30, 2022
HomeराजनीतिUP को 1 ट्रिलियन डॉलर इकॉनोमी बनाने के लिए CM योगी का ग्राउंड ब्रेकिंग...

UP को 1 ट्रिलियन डॉलर इकॉनोमी बनाने के लिए CM योगी का ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी: ₹80 हजार करोड़ की योजनाओं का PM मोदी करेंगे शिलान्यास

साल 2017 में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद 2018 में लखनऊ में इन्वेस्टर समिट (Investor Summit) का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में देश भर के औद्योगिक घरानों को आमंत्रित किया गया था, जिसमें पाँच लाख करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा हुई थीं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) के नेतृत्व में तीसरे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (Ground Breaking Ceremony) का आयोजन प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार (3 जून 2022) को किया जाएगा। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सहित कई क्षेत्रों के गणमान्य लोग शामिल होंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि इस दौरान प्रदेश में 80,000 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश होगा।

इस ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में लगभग 1406 कंपनियाँ शामिल होंगी। 500 करोड़ रुपए से अधिक की वैल्यूएशन वाली 30 कंपनियाँ कुल 43,906 करोड़ रुपए का निवेश करेंगी। वहीं, 100 से 499 करोड़ रुपए वाली 108 कंपनियाँ 24,028 करोड़ रुपए का निवेश करेंगी। इन निवेशों से 1400 से अधिक परियोजनाओं को पूरा किया जाएगा, जो प्रदेश को 1 ट्रिलियन डॉलर (लगभग 80,000 अरब रुपए) इकोनॉमी बनाने में मददगार साबित होंगी। 

इसके तहत प्रदेश के डेटा सेंटर, एग्री एंड एलाईड, आईटी एंड इलेक्ट्रानिक्स, इंफ्रास्ट्रक्चर, मैन्युफैक्चरिंग, हैंडलूम एंड टेक्सटाइल, रिन्यूबल एनर्जी, एमएसएमई, हाउसिंग एंड कमर्शियल, हेल्थ केयर, वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक, डिफेंस एंड एयरोस्पेस फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल सप्लाई, एजुकेशन, डेयरी समेत कई क्षेत्र में निवेश होगा। इस दौरान पीएम मोदी कई योजनाओं का शिलान्यास करेंगे।

उद्योगपतियों (Industrialists) और निवेशकों (Investors) के बीच प्रदेश को आकर्षक निवेश गंतव्य के रूप में पेश करने के लिए सरकार ने इस आयोजन के लिए भव्य तैयारियाँ की हैं। सीएम योगी इस सेरेमनी में शामिल होने वाले विशिष्ट अतिथियों और उद्योगपतियों को आज गुरुवार (2 जून 2022) की शाम 7:00 बजे अपने सरकारी आवास पर रात्रिभोज देंगे।

इस रात्रिभोज में 250 मेहमान आमंत्रित हैं, जिनमें 170 प्रतिष्ठित उद्योगपति शामिल हैं। इस दौरान राज्य सरकार के विभिन्न मंत्री और शासकीय अधिकारी के साथ-साथ प्रदेश के 75 जिलों के औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि भी रहेंगे।

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में आने वाले मेहमानों का अमौसी हवाई अड्डे पर पारंपरिक कलाकारों द्वारा स्वागत किया गया। वहीं, इन मेहमानों को ठहरने के लिए प्रदेश के उद्योग विभाग की ओर से सभी फाइव स्टार और थ्री स्टार होटलों को अपने 40 प्रतिशत कमरे खाली रखने को कहा गया है।

इस भव्य आयोजन में आने वाले अतिथियों को स्थानीय उत्पादों के विशिष्ट उपहार भी दिए जाएँगे, जो एक जिला, एक उत्पाद योजना को प्रोत्साहित करेगा। इन उपहारों के जरिए सरकार प्रदेश के हस्तशिल्प उद्योग की ब्रांडिंग करेगी। इन उपहारों में मीनाकारी के उत्कृष्ट उत्पाद, फिरोजाबाद की काँच की गणेश प्रतिमा, लखनवी चिकनकारी के स्टोन, अलीगढ़ के पीतल के दीए, सेरामिक मग व आजमगढ़ की ब्लैक पाटरी के सजावटी हस्तशिल्प शामिल हैं। 

बता देें कि साल 2017 में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद 2018 में लखनऊ में इन्वेस्टर समिट (Investor Summit) का आयोजन किया गया था। इस आयोजन में देश भर के औद्योगिक घरानों को आमंत्रित किया गया था, जिसमें पाँच लाख करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा हुई थी। एक जिला-एक उत्पाद के तहत नई औद्योगिक इकाइयों को लगाने के लिए प्रोत्साहित किया गया था।

योगी आदित्यनाथ ने केंद्र में पीएम मोदी के आठ साल पूरे होने को लेकर बुधवार (1 जून 2022) को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सरकारी योजनाओं का सबसे अधिक लाभ उत्तर प्रदेश को हुआ है, जो प्रदेश की अर्थव्यवस्था को नई ऊँचाई तक पहुँचाने में मददगार साबित होगा।

उन्होंने कहा, “पिछले 8 वर्षों में सेवा, सुशासन, विकास और गरीबों के लिए जो कल्याणकारी योजनाएँ लागू की गईं, वो अभूतपूर्व है। इस दौरान डिजिटल इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसी योजनाओं ने देश में क्रांति ला दी। शासकीय योजनाओं में बंदरबाँट को रोका गया और विश्व की सबसे बड़ी महामारी कोरोना के दौरान सरकारी योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक पहुँचाया गया।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe