Sunday, June 23, 2024
Homeराजनीति'अतीक अहमद की तरह कोई गोली न मार दे': चुनाव प्रचार के बीच आजम...

‘अतीक अहमद की तरह कोई गोली न मार दे’: चुनाव प्रचार के बीच आजम खान को सताया डर, विरोधियों को कहा ‘राजनीतिक किन्नर’

सभा में आए लोगों की ओर इशारा करते हुए सपा नेता ने कहा, "बताओ इस महफिल में कोई कमी है? अगर इस गली से चार भोंकने वाले चले गए हैं तो 40 और आ जाएँगे। बस इतना ही हुआ है। मगर हम भी ढेला मार रहे हैं। खजाने के जिस बटन पर उंगली रख दी हमने, उस तिजोरी का ताला खुल गया रामपुर वालों तुम्हारे लिए।"

समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मंत्री आजम खान ने एक फिर सनसनीखेज बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मारे गए गैंगस्टर अतीक अहमद की तरह उनकी भी कनपटी पर कोई मारकर चला जाएगा। उन्होंने एक बार फिर मर्यादा को लाँघते हुए भाजपा के विरोधियों को ‘राजनीतिक किन्नर’ कह दिया। दरअसल, आजम खान ने यूपी नगर निकाय चुनाव के प्रचार के दौरान रामपुर में यह बात कही।

चुनाव प्रचार के दौरान आजम खान ने कहा, “मुझसे, मेरी बीवी, मेरी औलाद और चाहने वालों से क्या चाहते हो? कोई आए कनपटी पर गोली चलाकर चला जाए? बस इतना ही तो रह गया है। बचा लो आज भी निजाम-ए-हिंद को… कानून को बचा लो…।”

मतदाताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “आपको कुछ नहीं देना है सिर्फ अपने आप को हौसला देना है। जहां रोके जाओ वहीं बैठ जाओ कि आगे बढेंगे, वापस नहीं जाएँगे। वोट डालेंगे। ये हमारा पैदाइशी हक है। इस हमारे हक को दो बार छीना गया है और तीसरी बार छीना गया तो जान लेना, शायद साँस लेने का हक भी बाकी नहीं रह पाएगा।”

रामपुर नगरपालिका अध्यक्ष पद की उम्मीदवार फातिमा जबी के समर्थन में प्रचार करते हुए आजम खान ने भाजपा सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि लाल किला बिक चुका है, हवाई अड्डे बिक चुके हैं। पूरा देश संविदा पर है। बचा ही क्या, सिर्फ फौज रह गई है। वह भी हुकूमत-ए-हिंद के पास है। वह रहनी चाहिए।

आजम खान ने कहा, “हमने जो तीन साल बाहर काटी है, वो जेल से भी खतरनाक और भयानक गुजरे हैं। इनकी हमारे सामने पर्चा भरने तक की हिम्मत नहीं है। रामपुर वालों, तुम्हारे सब्र की जीत होगी। तुम्हारी खुद्दारी और खैरत की जीत होगी। ये लोग गलत थे और गलत हैं।” भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, “विकास करोगे और विकास लिख नहीं सकोगे। कागज पर तुम्हारे कलम में रोशनाई ही कहाँ है, जो लिख सको।” 

आजम खान ने कहा, “हमने उत्तर प्रदेश पर चार बार कब्जा यूँ ही नहीं किया। घर की मुर्गी दाल बराबर कुछ समझ लो, लेकिन चार बार हुकूमत तुम्हारी (मुस्लिमों की) मजबूत मुट्ठी के बगैर नहीं बनी है।” रामपुर उपचुनाव को लेकर कहा, “चुनौती देते हैं… ऐ आसमां तुझे गवाह करके कहते हैं कि हिंदुस्तान के 150 करोड़ में कोई आओ और रामपुर वालों से चुनाव लड़ो। अगर जीत गए तो पूरा रामपुर खाली कर देंगे। यह चुनाव पुलिस की ताकत पर था।”

सभा में आए लोगों की ओर इशारा करते हुए सपा नेता ने कहा, “बताओ इस महफिल में कोई कमी है? अगर इस गली से चार भोंकने वाले चले गए हैं तो 40 और आ जाएँगे। बस इतना ही हुआ है। मगर हम भी ढेला मार रहे हैं। खजाने के जिस बटन पर उंगली रख दी हमने, उस तिजोरी का ताला खुल गया रामपुर वालों तुम्हारे लिए।”

आजम खान ने अपशब्दों का प्रयोग करते हुए भाजपा के अपने विरोधियों को राजनीतिक किन्नर तक कह दिया। बता दें कि इसी तरह की अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करने के कारण कोर्ट ने उन्हें तीन साल की सजा सुनाई थी। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अधिकारियों के लिए अपशब्द कहे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मोदी के दिए घरों में रहते हैं, 100% वोट कॉन्ग्रेस को देते हैं’: बोले असम CM सरमा – राज्य पर कब्ज़ा करना चाहते हैं...

सीएम हिमंता ने कहा कि बांग्लादेशी मूल के अल्पसंख्यकों ने कॉन्ग्रेस को इसलिए वोट दिया, क्योंकि अगले 10 सालों में वे राज्य को कब्जा चाहते हैं।

NEET पीपर लीक की जाँच अब CBI के हवाले, केंद्रीय जाँच एजेंसी ने दर्ज की FIR: PG की परीक्षा के लिए नई तारीखों का...

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि विवाद की समीक्षा के बाद मंत्रालय ने मामले की व्यापक जाँच के लिए इसे सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -