Wednesday, August 4, 2021
Homeराजनीतिबार डांसर के साथ मादक डांस करते दरगाह के सदर अरब अली का वीडियो...

बार डांसर के साथ मादक डांस करते दरगाह के सदर अरब अली का वीडियो वायरल, मजहबी संगठनों का पारा गरम

इस वीडियो पर जिला हज कमेटी के पूर्व अध्यक्ष फारुक राइन ने भी आपत्ति जताई और कहा कि इस घटना के बाद वक्फ बोर्ड को सदर को बर्खास्त करने के लिए पत्र लिखेंगे।

इंदौर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर बड़े स्तर पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में खजराना स्थित नाहरशाहवली दरगाह के सदर, अरब अली पटेल बार डांसर के साथ डांस करते और उसे गले लगाते हुए देखे जा रहे हैं।

बृहस्पतिवार (फरवरी 11, 2021) को इस वीडियो के वायरल होने के बाद इस पर विवाद गहराता जा रहा है। बताया जा रहा है कि इस वीडियो के सामने आने के बाद शहर काजी भी इस हरक़त से बहुत नाराज हैं।

रिपोर्ट्स के अनुसार, वीडियो में बार डांसर के साथ नजर आ रहे सदर अरब अली पटेल ने कहा कि ये दो साल पुराना वीडियो उनके भांजे की शादी समारोह का है और अब ये वीडियो सिर्फ उन्हें बदनाम करने के लिए शेयर किया जा रहा है।

इस वीडियो में सूट-बूट में नजर आ रहे खजराना के नाहरशाहवली दरगाह के सदर, अरब अली पटेल पहले बार डांसर को गले लगाया और बाद में उसकी कमर में हाथ डालकर नाचते नजर आ रहे हैं। अरब अली पटेल कॉन्ग्रेस नेता अंसार पटेल के भाई बताए जा रह हैं। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अंसार पटेल ने ही कॉन्ग्रेस के राज में विधायक सज्जन वर्मा के जरिए अरब अली को दरगाह का सदर नियुक्त करवाया था।

बताया जा रहा है कि शहरकाजी डॉ इशरत अली ने इस वीडियो की प्रमाणिकता पर सवाल उठाते हुए कहा है कि किसी भी धार्मिक स्थल पर पर अच्छी मानसिकता के लोग ही होने चाहिए।

इशरत अली ने कहा कि ऐसी प्रकृति के लोगों को किसी भी धार्मिक दरगाह का सदर बनने की अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि पता नहीं कैसे ऐसे लोगों को ऐसी गरिमामयी जिम्मेदारियाँ मिल जाती हैं। उन्होंने कहा कि वो अरब अली को पद से हटाने के सम्बन्ध में कलेक्टर मनीष सिंह से भी बात करेंगे।

दरअसल, प्राचीन नाहरशाह वली की दरगाह पर हर साल श्रद्धालु जाकर चादर चढ़ाते हैं। इस वीडियो पर जिला हज कमेटी के पूर्व अध्यक्ष फारुक राइन ने भी आपत्ति जताई और कहा कि इस घटना के बाद वक्फ बोर्ड को सदर को बर्खास्त करने के लिए पत्र लिखेंगे। वीडियो को आप इस यूट्यूब लिंक पर भी देख सकते हैं –

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe