Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिबंगाल: BJP नेता कबीर बोस की कार पर हमला, 100 से ज्यादा TMC नेताओं...

बंगाल: BJP नेता कबीर बोस की कार पर हमला, 100 से ज्यादा TMC नेताओं ने घेरा हुआ है घर, सुरक्षाकर्मी को भी पीटा गया

स्थानीय सांसद कल्याण बनर्जी भी इस बीच टीएमसी समर्थकों के साथ मौके पर पहुँचे। उन्होंने कबीर के आवास के बाहर नारेबाजी की। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने भाजपा नेता को ‘गुंडा’ कहा, जिन्हें स्वयं राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुंडागर्दी के लिए भेजा है।

पश्चिम बंगाल में ममता सरकार की पुलिस ने भाजपा से जुड़े लोगों के ख़िलाफ़ अपनी कार्रवाई जारी कर रखी हुई है। सोमवार (दिसंबर 7, 2020) को राज्यसभा सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने बताया कि भाजपा प्रवक्ता कबीर शंकर बोस को उनके घर में हाउस अरेस्ट कर लिया गया और टीएमसी के कार्यकर्ता उन्हें घर से बाहर निकलने नहीं दे रहे।

स्वप्नदास गुप्ता ने अपने ट्वीट में लिखा,

“पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रवक्ता और वकील कबीर शंकर बोस को उनके सेरामपोर के फ्लैट में बंद करके रखा गया है। टीएमसी पुलिस के साथ मिल कर किसी को घर में उनके घुसने या बाहर निकलने से रोक रही है। उनकी कार को क्षतिग्रस्त कर दिया गया है। क्या कानून व्यवस्था बंगाल में पूरी तरह समाप्त हो चुकी है।”

इसके अलावा ऑपइंडिया से बात करते हुए कबीर शंकर ने स्वयं अपनी स्थिति बताई। उन्होंने कहा कि लगभग 100 से ज्यादा टीएमसी कार्यकर्ता  उनके घर के बाहर खड़े हैं और उन्हें अंदर बंद किया हुआ है। वह कहते हैं, “पुलिस बिलकुल मेरे घर के बाहर है। उन्होंने मेरी आवाजाही बंद कर दी है। किसी को अंदर आने नहीं दिया जा रहा है। वह मुझे खाना और दवाई भी नहीं लेने दे रहे। यहाँ कुछ भी हो सकता है। मुझे नहीं पता ये क्या चल रहा है। कल्याण बनर्जी हमसे डर गए हैं।”

TMC के गुंडों ने तोड़ी भाजपा प्रवक्ता कबीर की गाड़ी, सुरक्षाकर्मी को भी मारा

बता दें कि डीएनएन न्यूज ने भाजपा नेता के सुरक्षाकर्मियों से टीएमसी की झड़प की वीडियो साझा की है। ये वीडियो उस समय की है जब भाजपा नेता कबीर शंकर बोस अपनी कार को निकाल रहे थे। इस वीडियो में हम देख सकते हैं कि दो समूह आपस में लड़ रहे हैं और धक्कामुक्की कर रहे हैं। वीडियो में हम भाजपा नेता की कार को क्षतिग्रस्त हुए भी देख सकते हैं और कार के शीशों को भी टूटा हुआ साफ देख सकते हैं।

कबीर कहते हैं,

“जब मैं अपने घर से बाहर निकला तो मैंने कई टीएमसी कार्यकर्ताओं और स्थानीयों को घर के बाहर बैरीकेडिंग किए देखा। टीएमसी पार्षद पप्पू सिंह जो वहाँ मौजूद थे उन्होंने मुझे आगे जाने से रोका। मेरे सुरक्षाकर्मियों ने उनसे विनती की कि हमें बाहर जाना है, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। जब टीएमसी के लोगों ने मेरे आदमी पर हमला किया तो उसे आत्मरक्षा में जवाब देना पड़ा। मेरी कार और मेरे सुरक्षाकर्मी पर हमला हुआ। ऐसे हिंसक हमले भाजपा को नहीं रोक सकते। ”

स्थानीय सांसद कल्याण बनर्जी भी इस बीच टीएमसी समर्थकों के साथ मौके पर पहुँचे। उन्होंने कबीर के आवास के बाहर नारेबाजी की। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने भाजपा नेता को ‘गुंडा’ कहा, जिन्हें स्वयं राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुंडागर्दी के लिए भेजा है।

कल्याण बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा, “मैं जगदीप धनखड़ को बताना चाहता हूँ कि वो सेरामपोर में शांति नहीं भंग कर सकते हैं। ये सब उनका प्लान था। उनके संबंध अपराधियों से हैं।” पूरी झड़प पर सफाई पेश करते हुए कल्याण बनर्जी ने पास खड़ी महिला पर इशारा करते हुए कहा कि भाजपा नेता और उनके सुरक्षाकर्मी ने उसे प्रताड़ित किया। इतना ही नहीं बनर्जी ने अमित शाह को दंगाई भी कहा।

याद दिला दें कि इससे पहले शनिवार (दिसंबर 5, 2020) को भाजपा की रैली पर टीएमसी के गुंडों ने हमला किया था। एक वीडियो सामने आई थी जिसमें हवा में धुआँ उड़ता दिखा था। भाजपा राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले आम हो गए हैं और ऐसे अटैक ममता बनर्जी की ओर से करवाए जाते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,571FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe