Friday, July 30, 2021
Homeराजनीति'बाप की संपत्ति नहीं है कि आग लगा दोगे, हम तुम्हें लाठियों से मारेंगे,...

‘बाप की संपत्ति नहीं है कि आग लगा दोगे, हम तुम्हें लाठियों से मारेंगे, गोली मारेंगे और जेल में डाल देंगे’

“दीदी (ममता बनर्जी) की पुलिस ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वाले लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की क्योंकि वह उनके वोटर्स हैं। यूपी, असम और कर्नाटक की हमारी सरकारों ने ऐसे लोगों को कुत्तों की तरह गोलियाँ मारी है।”

पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने रविवार (जनवरी 12, 2019) को विवादित बयान देते हुए कहा कि सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वाले लोगों को उत्तर प्रदेश की तरह गोली मार दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जो लोग भी सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुँचाएँगे, उन पर गोलियों और लाठियों से हमला किया जाएगा और फिर जेल में बंद कर दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि उत्तर प्रदेश, असम और पश्चिम बंगाल में बीजेपी सरकार ने इन प्रदर्शनकारियों की पिटाई करके बिलकुल सही काम किया है।

पश्चिम बंगाल के नादिया जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिलीप घोष ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर राज्य में CAA को लेकर विरोध के दौरान रेलवे संपत्ति और सार्वजनिक परिवहनों को नष्ट करने वालों पर लाठीचार्ज नहीं करने पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि क्या ये आग लगाने वालों के बाप की संपत्ति है। ये करतादातों के पैसों से बनी सरकारी संपत्ति को कैसे नष्ट कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक की सरकारों ने ऐसे राष्ट्र विरोधी तत्वों पर गोली चलाकर बिलकुल ठीक काम किया।

बंगाल भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “दीदी (ममता बनर्जी) की पुलिस ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वाले लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की क्योंकि वह उनके वोटर्स हैं। यूपी, असम और कर्नाटक की हमारी सरकारों ने ऐसे लोगों को कुत्तों की तरह गोलियाँ मारी है।” वहीं घुसपैठियों को लेकर उन्होंने कहा, “तुम यहाँ आते हो, हमारा खाना खाते हो, यहाँ रहते हो और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाते हो। क्या यह तुम्हारी जमींदारी है? हम तुम्हें लाठियों से मारेंगे, गोली मारेंगे और तुम्हें जेल में डाल देंगे।”

उन्होंने बंगाली हिंदुओं के हितों से खिलवाड़ करने वाले, उनको नुकसान पहुँचाने वालों की पहचान करने का आह्वान किया। भाजपा नेता ने दावा किया कि भारत में दो करोड़ मुस्लिम घुसपैठिए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि अकेले पश्चिम बंगाल में एक करोड़ घुसपैठिए हैं और ममता बनर्जी उन्हें बचाने की कोशिश कर रही हैं।

बता दें कि पिछले दिनों देश के दूसरों हिस्सों के साथ-साथ बंगाल में भी नागरिकता संशोधन कानून और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजनशिप (NRC) के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन हुए थे। इस दौरान बंगाल में कई ट्रेनों में आग लगा दी गई थी। इसके अलावा कई अन्य जगहों पर भी तोड़-फोड़ और आगजनी की गई थी। 

भारत बंद के दौरान बंगाल में रेल पटरी को उड़ाने की साजिश, बसों पर पथराव: देखें Video

CAA विरोध के नाम पर अब बंगाल को जलाएगा PFI, ममता के सांसद अबू ताहिर भी होंगे साथ!

बंगाल में लगातार तीसरे दिन हिंसा: अकरा रेलवे स्टेशन पर दंगाइयों का उत्पात, टॉयलेट में छिप कर्मचारियों ने बचाई जान

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,052FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe