Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिकोई भी पलायन नहीं कर रहा है, अब जब हम सत्ता में हैं, कौन...

कोई भी पलायन नहीं कर रहा है, अब जब हम सत्ता में हैं, कौन पलायन करेगा: योगी आदित्यनाथ

NaMo ऐप पर मिली शिक़ायत को प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) को भेज दिया गया, जिसके बाद इस मामले पर रिपोर्ट माँगी गई। मेरठ के बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने स्थिति को गंभीर बताते हुए कहा कि वह सीएम से इस बारे में बात करेंगे।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में हिन्दू परिवारों के पलायन की ख़बरों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माइग्रेशन एंगल को ख़ारिज कर दिया और कहा कि व्यक्तिगत विवादों के कुछ मामले हो सकते हैं, लेकिन माइग्रेशन की ख़बर झूठी है।

आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए, सीएम योगी ने कहा, “कोई भी पलायन नहीं कर रहा है, अब जब हम सत्ता में हैं, कौन पलायन करेगा?”

दरअसल, NaMo ऐप पर एक भाजपा नेता द्वारा हाल ही में दावा किया गया था कि मेरठ के प्रहलाद नगर से कम से कम 125 हिन्दू परिवारों ने इलाक़े में मुस्लिम महिलाओं द्वारा हिन्दू महिलाओं के उत्पीड़न के कारण पलायन किया है। इस क्षेत्र में मुस्लिम बहुसंख्यक हैं जबकि हिंदू परिवारों की संख्या 425 के आसपास है।

NaMo ऐप पर मिली शिक़ायत को प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) को भेज दिया गया, जिसके बाद इस मामले पर रिपोर्ट माँगी गई। मेरठ के बीजेपी सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने स्थिति को गंभीर बताते हुए कहा कि वह सीएम से इस बारे में बात करेंगे। विश्व हिंदू महासभा द्वारा पत्र लिखकर मेरठ में हिन्दुओं के लिए सुरक्षा की माँग की गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,104FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe