Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'नौकरियाँ निकलते ही चाचा-भतीजा वसूली पर निकल जाते थे': CM योगी ने कहा- हार...

‘नौकरियाँ निकलते ही चाचा-भतीजा वसूली पर निकल जाते थे’: CM योगी ने कहा- हार के डर से विपक्षियों के कार्यालयों में अभी से भूत नाच रहे हैं

सीएम योगी ने कहा कि हार के डर से विपक्षी दल के नेता अभी से विदेश जाने की टिकट बुक करा रहे हैं। कोई लंदन की टिकट बुक करा है तो कोई विदेश में कहीं और की।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के प्रचार में आज 25 फ़रवरी (शुक्रवार) को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज का दौरा कर एक रोड शो में भी हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि सपा-बसपा के नेता हार के डर से विदेश बुकिंग करा लिए हैं। सीएम योगी ने बुलडोजर को विकास का प्रतीक और माफियाओं में डर का तरीका बताया। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियों के कार्यालयों में सन्नाटा पसरा हुआ है और वहाँ भूत नाच रहे हैं।

प्रयागराज के करछना में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “प्रयागराज भगवान राम और निषादराज की मिलन भूमि है, लेकिन कभी प्रयागराज के नाम से लोग डरने लगे थे। यहाँ माफिया पनप गए थे। बेटियाँ स्कूल नहीं जा पाती थीं। महोत्सव के नाम पर केवल सैफई महोत्सव होता था। उसमें न राग था, न रंग था, न भाव था और न भाषा थी। आज जब महोत्सव की बात होती है तो अयोध्या के दीपोत्सव, काशी की देव दीपावली, मथुरा-वृंदावन की होली और प्रयागराज के कुंभ की चर्चा होती है।”

सीएम योगी ने आगे कहा, “10 मार्च के बाद जब सरकार बनेगी, तब उज्ज्वला लाभार्थियों को फ्री में होली दीपवाली में सिलेंडर दिया जाएगा। 60 साल से अधिक उम्र की महिलाओं की उत्तर प्रदेश रोडवेज में फ्री में निशुल्क यात्रा होगी। आने वाले 5 साल में ऐसी व्यवस्था करनी है कि किसानों को ट्यूबेल का बिल ना भरना पड़े। बेटी के जन्म लेने से ग्रेजुएशन तक कन्या सुमंगला योजना में मिल रही राशि 15 हजार रुपए से बढ़ाकर 25 हजार रुपए करने जा रहे हैं। बेटी की शादी के लिए मिलने वाली 51 हजार रुपए की राशि को 1 लाख रुपए करने जा रहे हैं। अगले 5 साल में हर परिवार के कम से कम 1 परिवार को नौकरी, रोजगार या स्व-रोजगार से जोड़ने जा रहे हैं।”

सीएम आदित्यनाथ ने आगे कहा, “समाजवादी पार्टी ने विकास के नाम पर हर गाँव में कब्रिस्तान की बाउंड्री बनवाई है। समाजवादी पार्टी वालों ने मुझ से पूछा कि विकास के लिए पैसा कहाँ से आ रहा। मेरा जवाब था कि किसी माफिया की अवैध कमाई को जब्त करते हैं तो उसमें बुलडोजर की जरूरत होती है। छठे चरण में मेरे और सातवें चरण में मोदी के संसदीय क्षेत्र में चुनाव होना है। भाजपा 300 के पार होगी।”

प्रयागराज के हंडिया में सीएम योगी ने कहा, “सुरक्षा और विकास सबका, लेकिन तुष्टिकरण किसी का नहीं होगा। 2017 के पहले फ्री का राशन क्यों नहीं मिलता था। ये राशन और बिजली का पैसा 2017 से पहले सपा-बसपा के इत्र वाले मित्र के घर चला जाता था। इसलिए जो गरीब का अन्न हड़पते थे उन्हीं के लिए एक यंत्र बनाया है। वो यंत्र एक्सप्रेस-वे भी बनाता है और माफियाओं की छाती भी रौंदता है। उस यंत्र का नाम बुलडोजर है। इस यंत्र से समाजवादी पार्टी वाले बहुत डरते हैं। रूस और यूक्रेन के युद्ध के चलते विपक्ष वाले विदेश में कहाँ जाएँ ये तय ही नहीं कर पा रहे हैं।”

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, “सपा की सरकार जब थी तब कोई भी नौकरी निकलने पर चाचा भतीजा वसूली पर निकल पड़ते थे। हमारे नौजवानों का भविष्य खराब होता था, क्योंकि न्यायालय स्टे कर देता था। हम 10 मार्च के बाद युवाओं को 2 करोड़ टैबलेट देंगे। ऑनलाइन पढ़ाई के लिए पूरा डिजिटल खर्च सरकार उठाएगी। दूसरी तरफ माफियाओं को संरक्षण देने वाले लोग हैं। उनके लिए केवल ‘सबका साथ, केवल सैफई खानदान का विकास’ ही मायने रखता है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टीम से बाहर होने पर मोहम्मद शमी का वायरल वीडियो, कहा – किसी के बाप से कुछ नहीं लेता हूँ, बल्कि देता हूँ

"मुझे मौका दोगे तभी तो मैं अपनी स्किल दिखाऊँगा, जब आप हाथ में गेंद दोगे। मैं सवाल नहीं पूछता। जिसे मेरी ज़रूरत है, वो मुझे मौका देगा।"

थूक लगी रोटी सोनू सूद को कबूल है, कबूल है, कबूल है! खुद की तुलना भगवान राम से, खाने में थूकने वाले उनके लिए...

“हमारे श्री राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाए थे तो मैं क्यों नहीं खा सकता। बस मानवता बरकरार रहनी चाहिए। जय श्री राम।” - सोनू सूद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -