Friday, October 7, 2022
Homeविविध विषयअन्य#India_Strikes_Back पाकिस्तानियों ने अपनी आर्मी और सरकार को जमकर लताड़ा, ट्विटर पर गाली-गलौच भी

#India_Strikes_Back पाकिस्तानियों ने अपनी आर्मी और सरकार को जमकर लताड़ा, ट्विटर पर गाली-गलौच भी

किसी ने 9 बजे सुबह इमरान खान पर तंज करते हुए ट्वीट किया कि उठ जाइए तो किसी ने गंदी-गंदी गालियाँ देकर भड़ास निकाली।

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को भारत ने चौतरफा घेरा। आर्थिक से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर तक और सामरिक से लेकर रसद सप्लाई तक। यह घेराव इतना ‘कष्टदायक’ था कि पाक पीएम इमरान को शांति के लिए याचना मोड में आना पड़ा। जो भी रही-सही कसर थी, उसे 26 फरवरी को पूरा कर दिया गया – पाक में घुस कर, भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों द्वारा लगभग 300 आतंकियों को मार कर।

इसकी प्रतिक्रिया हुई। पाकिस्तानी सरकार द्वारा और वहाँ की जनता से भी। जहाँ पाक सेना ने ‘कुछ भी नहीं हुआ, भारतीय वायु सेना के जहाज जल्दी भाग गए’ बोलकर अपनी इमेज बचाई, वहीं पाकिस्तानी नागरिकों ने अपनी सरकार और आर्मी की जमकर क्लास लगाई।

आपको बता दें कि भारतीय वायुसेना ने क़रीब 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल करते हुए PoK में मौजूद आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया। भारतीय वायुसेना ने 1000 किलोग्राम वजन वाले बम गिरा कर पाकिस्तानी ज़मीन पर स्थित कई आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया। भारत के विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी कि नियंत्रण रेखा के पार बालाकोट में स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर भारत ने हवाई हमला कर उसे पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर में नमाज गंगा-जमुनी तहजीब, कर्नाटक के बीदर में पारंपरिक दशहरा पूजा मस्जिद-मुस्लिमों पर हमला: इस्लामी प्रलाप कब तक भोगते रहेंगे हिंदू

कर्नाटक के बीदर में दशहरा पूजा की जो परिपाटी निजाम काल से चल रही है, उस पर इस्लामी प्रलाप चल रहा है। इसके दबाव में पुलिस ने 9 हिंदुओं पर एफआईआर की है।

राजस्थान में छाया बिजली संकट: 23 थर्मल स्टेशनों में से 11 बंद, प्रदेश में बचा है सिर्फ 4 दिन का कोयला

राजस्थान में बिजली संकट का खतरा बढ़ता जा रहा है। कोयले की आपूर्ति न होने के कारण प्रदेश में 23 थर्मल स्टेशनों में से 11 ने बिजली उत्पादन करना बंद कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
226,757FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe