Saturday, June 25, 2022
Homeरिपोर्टThe Accidental PM: लुधियाना से कोलकाता तक कई जगह कॉन्ग्रेस का हिंसक प्रदर्शन

The Accidental PM: लुधियाना से कोलकाता तक कई जगह कॉन्ग्रेस का हिंसक प्रदर्शन

कोलकाता के एक मल्टीप्लेक्स में कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता अपनी पार्टी के झंडों के साथ पहुँचे और उन्होंने सिनेमाघर के परदे को फाड़ दिया

अनुपम खेर अभिनीत फ़िल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ शुक्रवार (जनवरी 11, 2018) को सिनेमाघरों में रिलीज़ हो गई। फ़िल्म को दर्शकों का अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला है। फ़िल्म ने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा किए जा रहे तमाम विरोध प्रदर्शनों के बावज़ूद पहले ही दिन बॉक्स ऑफ़िस पर तीन करोड़ रुपए से भी अधिक की कमाई की। वीकेंड्स पर इसकी कमाई में और उछाल आने की सम्भावना है।

वहीं ख़बरों के अनुसार लुधियाना और दिल्ली से लेकर मध्य प्रदेश तक जगह-जगह कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा हिंसक विरोध प्रदर्शन किए गए। इस कारण कुछ सिनेमाघरों को मज़बूरन फ़िल्म का प्रदर्शन भी रोकना पड़ा। कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने सेंट्रल कोलकाता के क्वेस्ट मॉल में स्थित आईनॉक्स मल्टीप्लेक्स में घुसकर भारी तोड़-फोड़ की और सिनेमाघर की संपत्ति को नुकसान पहुँचाया। शाम के क़रीब आठ बजे कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता अपनी पार्टी के झंडों के साथ मल्टीप्लेक्स में पहुँचे और उन्होंने सिनेमाघर के परदे को फाड़ दिया। इस कारण तय समय पर फ़िल्म का प्रदर्शन नहीं किया जा सका।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता यहीं नहीं रुके। उन्होंने फ़िल्म देखने आए दर्शकों को भी डराया-धमकाया और उन्हें ऑडिटोरियम से बाहर जाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि वो कहीं भी इस फ़िल्म की स्क्रीनिंग नहीं होने देंगे क्योंकि इसमें कॉन्ग्रेस पार्टी के सीनियर नेताओं के प्रति अपमानजनक कंटेंट है। समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक़ उपद्रवियों का नेतृत्व कर रहे कॉन्ग्रेस नेता राकेश सिंह ने कहा;

“फिल्म हमारे वरिष्ठ नेताओं जैसे सोनिया गांधी, राहुल गांधी और मनमोहन सिंह के प्रति अपमान है। हमने यहाँ स्क्रीनिंग रोक दी है। हम फ़िल्म को कहीं भी प्रदर्शित नहीं होने देंगे।”

IANS के मुताबिक़ उपद्रवी ‘राहुल गाँधी ज़िंदाबाद’ और ‘कॉन्ग्रेस पार्टी ज़िंदाबाद’ जैसे नारे भी लगा रहे थे। INOX के प्रवक्ता ने बताया कि मल्टीप्लेक्स के संचालकों को बाद में पुलिस की मदद लेनी पड़ी, जिसके बाद फ़िल्म का प्रदर्शन फिर से शुरू कराया जा सका।

लुधियाना में भी यूथ कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कॉन्ग्रेस भवन से लेकर जेएमडी मॉल तक प्रदर्शन किया। पंजाब कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक सिनेमाघर को घेर कर अभिनेता अनुपम खेर का पुतला भी दहन किया। मध्य प्रदेश में जबलपुर के समदड़िया मॉल में भी फ़िल्म के प्रदर्शन को लेकर कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा जम कर हंगामा किया गया। इसी तरह इंदौर में भी कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने हंगामा खड़ा किया, जिस कारण वहाँ सुरक्षा व्यवस्था बढ़ानी पड़ी।

अनुपम खेर ने कॉन्ग्रेस की ऐसी हिंसक नीति का विरोध ट्विटर पर एक वीडियो जारी करके किया। उन्होंने पुलिस व प्रशासन से ऐसे लोगों के साथ सख्ती से निपटने का अनुरोध किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द्रौपदी राष्ट्रपति तो पांडव और कौरव कौन हैं?’: राम गोपाल वर्मा के ओछे कमेंट पर हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की शिकायत, बीजेपी नेता की...

पुलिस द्वारा एससी / एसटी अधिनियम लागू किया जाना चाहिए और निर्देशक को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पुलिस ने कहा कि कानूनी राय के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

बागी विधायक मंगेश कुडालकर के ऑफिस में शिवसैनिकों ने की तोड़फोड़, शिंदे के पोस्टर पर भी पोती कालिख: संजय राउत की धमकी का दिखने...

शिवसेना के बागी गुट के विधायक मंगेश कुडालकर के ऑफिस में हमला। अहमदनगर और नासिक में एकनाथ शिंदे के पोस्टर पर भी पोती कालिख।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,159FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe