Saturday, October 23, 2021
Homeराजनीति'मेरे सिर पर लात मारिए दीदी, पर मैं आपको बंगाल के विकास को लात...

‘मेरे सिर पर लात मारिए दीदी, पर मैं आपको बंगाल के विकास को लात नहीं मारने दूँगा’: बाँकुड़ा व रामपाड़ा में PM ने कहा- 2 मई, दीदी गई

"मैं आपको अब बंगाल के विकास को लात नहीं मारने दूँगा। मैं आपको बंगाल के सपनों को लात नहीं मारने दूँगा। तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति ने आपको क्या बना दिया है। आपने अपना ये असली चेहरा 10 साल पहले दिखा दिया होता तो बंगाल में कभी आपकी सरकार नहीं बनती। ये हिंसा, ये अत्याचार, ये उत्पीड़न ही करना था तो फिर माँ-माटी-मानुष की बात क्यों की आपने?"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (मार्च 21, 2021) को पश्चिम बंगाल के बाँकुड़ा में एक विशाल रैली को सम्बोधित किया। अगले 10 दिनों में राज्य में उनकी 4 और रैलियाँ होनी हैं। इससे पहले उन्होंने खड़गपुर में रैली को सम्बोधित किया था। वहीं आज असम के बोकाखाट में उन्होंने एक जनसभा को सम्बोधित किया। पीएम मोदी ने कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में इस साल अपनी पहली चुनावी रैली का आगाज़ किया था।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने याद किया कि जब वो लोकसभा चुनाव के समय लोगों का आशीर्वाद माँगने आए थे, तो यहाँ दीदी ने उन्हें रोकने के लिए क्या-क्या किया था। पीएम मोदी ने याद किया कि तब रैली ग्राउंड तक आने वाले सारे रास्ते बंद करवा दिए थे, टेंट हाउस से कुर्सियाँ तक न मिलें इसके लिए पुलिस को लगाया था। उन्होंने कहा कि बाँकुरा की ये तस्वीर साक्षी है कि बंगाल के लोगों ने ठान लिया है- 2 मई, दीदी गई।

पीएम मोदी ने ‘आशोल पॉरिबोर्तोन’ की बात करते हुए कहा कि ये बंगाल के गौरव को बढ़ाने के लिए और बंगाल में एक ऐसी सरकार लाने के लिए है, जो गरीबों की सेवा करे, उनकी तकलीफें दूर करें, बंगाल में एक ऐसी सरकार लाने के लिए जो सरकारी योजनाओं का पैसा गरीब तक पहुँचाए, बंगाल में एक ऐसी सरकार लाने के लिए जो तोलाबाजों, सिंडिकेट वालों को जेल भेजे, भ्रष्टाचारियों पर सख्त कार्रवाई करे।

प्रधानमंत्री ने वादा किया कि यही ‘आशोल परिवर्तन’ बंगाल में BJP लाकर दिखाएगी। उन्होंने कहा कि आज जब वो बाँकुड़ा आए हैं, तो यहाँ रामपाड़ा के बहनों और भाइयों को भी विशेष तौर पर राम राम कहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि रामपाड़ा की चर्चा आजकल पूरे देश में है और रामपाड़ा में आप राम पुकारेंगे तो हर घर से राम निकलेगा। उन्होंने कहा कि बंगाल में दीदी के लोग दीवार पर तस्वीरें बना रहे हैं और तस्वीरों में दीदी मेरे सिर पर अपना पैर मार रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन तस्वीरों में ममता बनर्जी मेरे सिर के साथ फुटबॉल खेल रही हैं। उन्होंने सवाल दागा कि आप बंगाल के संस्कार और यहाँ की महान परंपरा का अपमान क्यों कर रही हो दीदी? ये बंगाल तो देश को दिशा देने वाला है। उन्होंने ममता को सम्बोधित करते हुए कहा कि अगर आप चाहती हैं तो आप अपना पैर मेरे सर पर रख सकती हैं, मुझे लात मार सकती हैं। लेकिन दीदी मेरी दूसरी बात भी कान खोलकर सुन लें।

पीएम मोदी ने कहा, “मैं आपको अब बंगाल के विकास को लात नहीं मारने दूँगा। मैं आपको बंगाल के सपनों को लात नहीं मारने दूँगा। तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति ने आपको क्या बना दिया है। आपने अपना ये असली चेहरा 10 साल पहले दिखा दिया होता तो बंगाल में कभी आपकी सरकार नहीं बनती। ये हिंसा, ये अत्याचार, ये उत्पीड़न ही करना था तो फिर माँ-माटी-मानुष की बात क्यों की आपने?”

पीएम मोदी ने तंज कसा कि वो जितना दीदी से आपके सवाल पूछते हैं, उतना वो उन पर गुस्सा करती हैं। बकौल पीएम मोदी, अब तो कह रही हैं कि उनको मेरा चेहरा भी पसंद नहीं है। अरे दीदी, लोकतंत्र में चेहरा नहीं, जनता की सेवा, जनता के लिए किया गया काम कसौटी पर होता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि दीदी और उनकी सरकार ने 10 साल के दौरान पश्चिम बंगाल में क्या खेला किया, ये पूरा क्षेत्र इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है।

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि स्वर्गीय अजीत मूर्मू जैसे हमारे अनेक आदिवासी साथी तृणमूल के ‘खेला’ के कारण शहीद हो गए। उन्होंने आगे कहा कि यहाँ का किसान साल में सिर्फ एक फसल लेने के लिए मजबूर है और सिंचाई व्यवस्थाएँ जर्जर क्यों हैं, परियोजनाएँ लटकी क्यों हैं दीदी? उन्होंने पूछा कि युवा परेशान हैं, चाकरी, उद्योग, निवेश कहाँ है दीदी? आपने 10 साल में सिर्फ खोखली घोषणाएँ की हैं, जमीन पर काम कहाँ है दीदी?

पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार हर घर पाइप से जल पहुँचाने के लिए अभियान चला रही है, जिसके लिए सैकड़ों करोड़ रुपए बंगाल सरकार को दिए गए हैं लेकिन यहाँ की बहनें-बेटियाँ, बूंद-बूंद पानी के लिए परेशान हैं। प्रधानमंत्री ने पूछा कि नल कहाँ है दीदी, जल कहाँ है दीदी, यहाँ खेतों में पानी क्यों नहीं है दीदी? पीएम ने वादा किया कि बंगाल में आपको भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्थाएँ मिलें, इसके लिए भाजपा सरकार जरूरी है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “बंगाल में विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता देने के लिए भाजपा सरकार जरूरी है। आपके कॉलेज, यूनिवर्सिटिज की आधुनिकता बढ़े, इसके लिए भाजपा सरकार जरूरी है। उन्होंने आरोप लगाया कि आयुष्मान भारत, पीएम किसान सम्मान निधि, डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांस्फर से जुड़ी योजनाओं में स्कैम नहीं कर सकते थे, इसलिए इनको लागू करने से ही इनकार कर दिया। साथ ही कहा कि दीदी अभी से EVM की रट लगा रही है, लेकिन 10 साल इसी EVM से सत्ता में रहीं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

परमवीर सूबेदार जोगिंदर सिंह: जो बिना हथियार 200 चीनी सैनिकों से लड़े… पापा से प्यार इतना कि बलिदान पर बेटी का भी निधन

15 साल की उम्र में ब्रिटिश इंडियन आर्मी को ज्वॉइन कर लिया था सूबेदार जोगिंदर सिंह ने और सिख रेजीमेंट की पहली बटालियन का हिस्सा बन गए थे।

आर्यन को गिरफ्तार करने वाले NCB अधिकारी की छवि खराब करने को बॉलीवुड वेबसाइट चला रहे भ्रामक खबर, पत्नी ने Koimoi को लताड़ा

एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े की पत्नी क्रांति रेडकर वानखेड़े के खिलाफ बॉलीवुड वेबसाइट कोईमोई ने भ्रामक खबर छापी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,988FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe