Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयसैकड़ों लड़कियों के 5500 पॉर्न वीडियो, ड्रग्स-सेक्स पार्टियाँ... इस्लामिया यूनिवर्सिटी की छात्राओं-महिला कर्मचारियों ...

सैकड़ों लड़कियों के 5500 पॉर्न वीडियो, ड्रग्स-सेक्स पार्टियाँ… इस्लामिया यूनिवर्सिटी की छात्राओं-महिला कर्मचारियों का इस्तेमाल कर रहा था गिरोह

एजाज शाह के 2 फोन से 5500 पॉर्न वीडियो मिले हैं, जो यूनिवर्सिटी की लड़कियों के ही हैं। मोबाइल फोनों को जब्त कर लिया गया है।

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के बहावलपुर स्थित इस्लामिया यूनिवर्सिटी की सैकड़ों छात्राओं के 5500 पॉर्न वीडियो सामने आए हैं, जिसके बाद इलाके में बवाल खड़ा हो गया है। पंजाब प्रांत के कार्यवाहक मुख्यमंत्री सैयद मोहसिन रज़ा नकवी ने इसका संज्ञान लिया है और पुलिस इस पॉर्न वीडियो स्कैंडल को दबाने में जुट गई है। यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर ऑफ फाइनेंस डॉ अबुज़र, चीफ सिक्योरिटी ऑफिसर सैयद एजाज शाह और ट्रांसपोर्ट ऑफिसर अल्ताफ को गिरफ्तार किया गया है।

हालाँकि, संस्थान के प्रशासन का कहना है कि ये सब यूनिवर्सिटी के खिलाफ साजिश के तहत किया जा रहा है। एजाज शाह के पास से न सिर्फ सैकड़ों लड़कियों के अश्लील वीडियो मिले हैं, बल्कि 8 गम ‘आइस ड्रग’ भी बरामद किया गया है। बताया जा रहा है कि यूनिवर्सिटी में 113 ऐसे छात्र-छात्राएँ हैं, जो ड्रग की आदी हो चुके हैं। पुलिस का कहना है कि उनका निशाना यूनिवर्सिटी नहीं है, बल्कि ड्रग्स तस्करों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

एजाज शाह पिछले 7 वर्षों से इस पद पर है। बताया जा रहा है कि शराब पीने के बाद वो कार में एक लड़की को लेकर जा रहा था, लेकिन पुलिस को देखते ही उसने रॉन्ग साइड में गाड़ी लेकर भागना शुरू कर दिया। पुलिस ने जाँच की तो पाया कि उसकी कार से कई ड्रग्स बरामद हुए। पूछताछ में पता चला कि वो यूनिवर्सिटी की लड़की को उसके घर छोड़ने जा रहा था। पुलिस ने लड़की के अभिभावकों को बुला कर उसे सौंप दिया।

एजाज शाह के 2 फोन से 5500 पॉर्न वीडियो मिले हैं, जो यूनिवर्सिटी की लड़कियों के ही हैं। मोबाइल फोनों को जब्त कर लिया गया है। खुलासा हुआ है कि लड़कियों को मार्क्स देने के बदले उनसे नंगी होकर वीडियो बनाने और उसे भेजने के लिए कहा जाता है। यूनिवर्सिटी में किसी पद पर भर्ती के लिए भी ऐसा किया जाता था। पुलिस का कहना है कि शिक्षकों का एक पूरा समूह ड्रग्स की खरीद-बिक्री और लड़कियों के यौन उत्पीड़न में शामिल था।

इतना ही नहीं, यूनिवर्सिटी की छात्राओं को डांस और सेक्स पार्टी का हिस्सा बनने के लिए भी मजबूर किया जाता था। बड़ी मात्रा में चरस भी बरामद हुआ है। कैम्पस के भीतर ही छात्राओं और कॉलेज की महिला कर्मचारियों के साथ अश्लील पार्टियाँ होती थीं। इस मामले की जाँच के लिए एक उच्च-स्तरीय समिति बनाई गई है। साउथ पंजाब का शिक्षा विभाग इसकी जाँच करेगा। 3 दिन में जाँच रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

पुरी के जगन्नाथ मंदिर का 46 साल बाद खुला रत्न भंडार: 7 अलमारी-संदूकों में भरे मिले सोने-चाँदी, जानिए कहाँ से आए इतने रत्न एवं...

ओडिशा के पुरी स्थित महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर के भीतरी रत्न भंडार में रखा खजाना गुरुवार (18 जुलाई) को महाराजा गजपति की निगरानी में निकाल गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -