Saturday, July 2, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयबच्चियों का रेप करो, सॉरी बोलो, गुनाह माफ: ब्रिटेन ने छोड़ दिए 870+ यौन...

बच्चियों का रेप करो, सॉरी बोलो, गुनाह माफ: ब्रिटेन ने छोड़ दिए 870+ यौन अपराधी, काफिरों से बलात्कार करने वाले ग्रूमिंग गैंग को भी फायदा

ब्रिटेन में ये सब कम्युनिटी रेजोल्यूशन के तहत हो रहा है जो कि एक नया पुलिस प्रोग्राम है और उसमें सिर्फ निम्न स्तर के अपराधों में माफी का प्रावधान है। मगर पुलिस इसका प्रयोग बलात्कारियों कको छोड़ने के लिए कर रही है।

ब्रिटेन में नाबालिग बच्चियों के लिए खतरा बनकर घूमती ग्रूमिंग गैंग पिछले कुछ समय से लगातार चर्चा में रही है। गैंिग का शिकार पीड़िताओं ने खुद बता रखा है कि कैसे ये गैंग उनका यौन शोषण करती है और फिर उन्हें सेक्स के धंधे में धकेलती है। इतने संगीन इल्जाम के बावजूद क्या आप जानते हैं कि ब्रिटेन पुलिस इस ग्रूमिंग गैंग के विरुद्ध सख्त नहीं है। वहाँ कई मामलों में ये देखा गया है कि अगर बच्चों का यौन शोषण करने वालों ने या ग्रूमिंग गैंग ने बच्चे से रेप आरोप में माफी माँग ली तो उन्हें छोड़ दिया जाएगा।

सामने आई जानकारी के मुताबिक, अब तक कम से कम 870 पीडोफाइल्स और ग्रूमिंग गैंग के सदस्य हैं जिनके ऊपर ब्रिटेन में बच्ची से बलात्कार का आरोप लगा, लेकिन जब कार्रवाई की माँग हुई तो उन्होंने पीड़िताओं से माफी माँग ली और उन्हें बिन किसी मुकदमे के छोड़ दिया गया। उनके नाम कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड भी नहीं है। 

ब्रिटेन पुलिस की कार्रवाई पर यह चौंकाने वाला दावा मिरर रिपोर्ट में हुआ था जिसके बाद कई सवाल उठने लगे। अब लोग इस न्यूज की क्लिप को शेयर कर बता रहे हैं कि कैसे ये सब ब्रिटेन में ये सब कम्युनिटी रेजोल्यूशन के तहत हो रहा है जो कि एक नया पुलिस प्रोग्राम है और उसमें सिर्फ निम्न स्तर के अपराधों में माफी का प्रावधान है। मगर पुलिस इसका प्रयोग बलात्कारियों को छोड़ने के लिए कर रही है।

मिरर रिपोर्ट में अनुसार,  साउथ यॉर्कशायर पुलिस ने कम से कम 78 सेक्स क्राइम को इस नीति के तहत हैंडल किया। वहीं डरहम, शेशियर, नॉटिंगमशियर में इसे 13 से कम उम्र वाली लड़कियों के रेप मामलों में यूज किया गया। इसी तरह अन्य शहरों की पुलिस ने भी सेक्स क्राइम से निपटने के लिए इसका प्रयोग किया। ऐसे मामलों को देख नारीवादियों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने गुस्सा जाहिर कर कहा कि पीड़िताओं को न कोई इंसाफ मिल रहा है और न ही कोई सुरक्षा। अपराधी सिर्फ माफी माँग कर छोड़ दिए जाते हैं।

इस कानून का गलत इस्तेमाल देख अरशद हुसैन द्वारा सताई गई पीड़िता ने अपना गुस्सा जाहिर किया। पीड़िता ने कहा कि ये अन्याय है। आखिर क्यों सेक्स आरोपितों से सॉरी सुनकर छोड़ा जा रहा है और उन्हें अपराधी नहीं बनाया जा रहा।

ब्रिटेन की ग्रूमिंग गैंग

बता देें कि ब्रिटेन के ग्रूमिंग गैंग द्वारा यौन शोषण किए जाने के कई मामले उजागर हो चुके हैं। कुछ समय पहले एक रिपोर्ट आई थी जब पुलिस ने इन मामलों की जाँच के लिए 150 जगह छापेमारी करके 34 लोगों को पकड़ा था । वहीं एक खबर आई थी जिसमें बताया गया था कि 40 साल में ब्रिटेन में कम से कम 5 लाख गैर-मुस्लिमों से समुदाय विशेष के लोगों ने रेप किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe