Wednesday, July 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयचीन में तेजी से फैल रहा Corona Virus: कुल 450 मामले, भारत ने सभी...

चीन में तेजी से फैल रहा Corona Virus: कुल 450 मामले, भारत ने सभी एयरपोर्ट पर जारी किया अलर्ट

चीन में इस वायरस से जुड़े अब तक कुल 450 मामले सामने आ चुके हैं, इतना ही नहीं इनमें से 198 मामले अकेले वुहान शहर से सामने आए हैं, लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि इसको लेकर अभी तक कई सारी जानकारियाँ सामने नहीं आ सकी हैं। यही कारण है कि......

चीन में अचानक से फैला कोरोना वायरस अब तक नौ लोगों की जान ले चुका है। इतनी ही नहीं पड़ोसी देश चीन में इससे जुड़े अब तक 450 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। इससे पहले ही चीन ने अपने देश में अलर्ट जारी कर दिया, लेकिन इस वायरस से घबराए भारत सहित अन्य कई देशों ने भी अपने यहाँ अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं भारत द्वारा जारी किए गए अलर्ट के बाद से सभी एयरपोर्ट्स पर चीन से आने वाले सभी यात्रियों की गहनता से जाँच की जा रही है।

कोरोना वायरस चीन से निकलकर एशिया के दूसरे देशों में पाँव पसार रहा है। अब तक इस वायरस के तीन मामले जापान और थाइलैंड और एक मामला दक्षिण कोरिया में सामने आ चुका है। आस्‍ट्रेलिया में भी चीन से लौटे एक शख्‍स की गहन जाँच की जा रही है। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को लेकर कई देशों ने चीन की यात्रा करने वाले लोगों को अलर्ट जारी किया है।

इस वायरस से चीन में अब तक नौ लोगों की मौतें हो चुकी हैं। इनमें से तीन मौतें अकेले चीन के वुहान शहर में ही हुई हैं। चीन में इस वायरस से जुड़े अब तक कुल 450 मामले सामने आ चुके हैं, इतना ही नहीं इनमें से 198 मामले अकेले वुहान शहर से सामने आए हैं, लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि इसको लेकर अभी तक कई सारी जानकारियाँ सामने नहीं आ सकी हैं। यही कारण है कि जिस तेजी से वायरस लोगों में फैल रहा है, उसी तेजी से यह ख़बर देश दुनियाँ में वायरल हो रही है।

इसी को ध्यान में रखते हुए चीन ने पहले ही अपने यहाँ अलर्ट घोषित कर दिया है, जिसके बाद इसे गंंभीरता से लेते हुए भारत ने भी अपने सभी एयरपोर्ट पर अलर्ट जारी कर दिया है और इसी के चलते चीन से आने वाले सभी यात्रियों की गहनता से जाँच की जा रही है। वहीं इस वायरस के चलते जापान, थाईलैंड और दक्षिण कोरिया में तीन लोगों की मौत हो चुकी है। इससे घबराए भारत ने भी अपने सभी एयरपोर्ट्स को अलर्ट जारी कर दिया है।

अभी तक इस वायरस के फैसले के पीछे चीन में मौजूद सीफूड मार्केट और पशुओं को माना जा रहा है। डब्‍ल्‍यूएचओ ने आशंका व्‍यक्‍त की है कि इस वायरस के फैलने का कारण पशु भी हो सकते हैं। साथ ही इसे लेकर एक जानकारी यह भी सामने आ रही है कि यह किसी भी संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आने से भी फैलता है।

इससे भी गंभीर बात यह कि अभी तक सीधे तौर पर कोरोना वायरस पर अटैक करने वाली कोई वैक्सीन मार्केट में नहीं आई है। लेकिन इसके लक्षणों के आधार पर ही डॉक्टर्स इसके इलाज में दूसरी जरूरी दवाईयों का उपयोग कर रहे हैं। साथ ही साथ इसकी वैक्सीन तैयार करने पर भी काम चल रहा है। आपको बता दें कि इसका सबसे पहला मामला चीन के वुहान शहर में सामने आया था, जिसके चलते वर्ष 2002 और 2003 में चीन और हांगकांग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई थी।

भारत सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की तरफ से कोरोना वायरस से बचने के उपाय जारी किए गए हैं। जब तक कोरोना वायरस का प्रकोप शांत नहीं हो जाता, जितना हो सके सी-फूड से दूर रहें, कहीं भी बाहर से आने या कुछ भी खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह साफ करें। सिर्फ पानी से नहीं बल्कि साबुन या हैंडवॉश से धोएँ, अपने साथ हैंड सेनिटाइजर हमेशा रखें। जहाँ पानी से हाथ धोने की व्यवस्था ना हो, वहाँ इसका इस्तेमाल करें, पब्लिक ट्रांसपोर्ट का यूज करने के बाद हाथ साफ किए बिना उन्हें अपने चेहरे और मुँह पर ना लगाएँ, बीमार लोगों की देखभाल के दौरान अपनी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखें। अपनी नाक और मुँह को कवर करके रखें। उनके इस्तेमाल किए हुए बर्तन और कपड़ों का उपयोग करने से बचें।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -