Friday, May 20, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'ईसाई इस कायनात के सबसे घटिया काफिर, आपको इस देश से उनका सफाया करना...

‘ईसाई इस कायनात के सबसे घटिया काफिर, आपको इस देश से उनका सफाया करना होगा’

"ईसाई पैगंबर पर यकीन नहीं करते। वो पूरी दुनिया के सबसे घटिया काफिर हैं। आपको खुद को उनसे किसी भी कीमत पर दूर रखना चाहिए। आपको उनका इस देश से सफाया करना होगा।"

पाकिस्तान में कट्टरपंथ अब खुलकर अल्पसंख्यकों के ख़िलाफ़ जहर उगलता नजर आ रहा है। सोशल मीडिया पर इस समय एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में एक मौलवी ईसाइयों को दुनिया का सबसे गंदा काफिर बता रहा है। इस वीडियो को वॉयस ऑफ पाकिस्तान माइनॉरिटी के पेज पर शेयर किया गया है।

वीडियो में मौलवी को कहते हुए सुना जा सकता है:

“ईसाई कायनात के सबसे घटिया काफिर होते हैं। हम लोगों को चाहिए कि हम इन्हें अपने आपसे बिलकुल दूर कर दें। ये जो स्कूल खरीद रहे हैं, जगह खरीद रहे हैं और अपने सेंटर बना रहे हैं, अस्पताल बना रहे हैं। इस मुल्क में भी इन लोगों को रहने का हक नहीं है। इस मुल्क से इन्हें बाहर करो ताकि ये वहीं ट्रंप के पास चले जाएँ और उनकी जूतिया पॉलिश करें। इधर पाकिस्तान में इन लोगों का कोई काम नहीं है।”

इस वीडियो को पाकिस्तान के सामाजिक कार्यकर्ता और लेखक राहत ऑस्टिन ने भी शेयर किया है। उन्होंने मौलवी के भाषण के मुख्य अंशों पर ध्यान केंद्रित करवाते हुए लिखा, “ईसाई पैगंबर पर यकीन नहीं करते। वो पूरी दुनिया के सबसे घटिया काफिर हैं। आपको खुद को उनसे किसी भी कीमत पर दूर रखना चाहिए। उन्हें पाकिस्तान में रहने का कोई अधिकार नहीं है। आपको उनका इस देश से सफाया करना होगा।”

यहाँ बता दें कि इस मौलवी के अलावा इंटरनेट पर पाकिस्तान से आई एक अन्य वीडियो भी वायरल हो रही है। जो वहाँ की बहुसंख्यक आबादी के पाखंड की पोल खोलती है। दरअसल, कुछ समय पहले पाकिस्तान का एक युवक इस्लामाबाद में मंदिर बनने की बात पर अपने बच्चों से हिंदुओं को धमकी दिलाते हुए नजर आया था और बच्चा कह रहा था कि अगर मंदिर बना तो वो हिंदुओं को चुन-चुन कर मारेगा।

मगर, अब वही व्यक्ति एक दूसरी वीडियो में जनता से माफी माँग रहा है। वीडियो में उसे कहते सुना जा सकता है कि लोगों को उसकी वीडियो पसंद नहीं आई और कई लोग आहत भी हुए इसलिए अब वह ऐसे विषय पर कभी वीडियो नहीं बनाएगा। उसने इस वीडियो में हिंदू बिरादरी के लोगों से, अपने पाकिस्तानी भाइयों से और इमरान सरकार से माफी माँगी है। अपने वीडियो में उसने कहा है कि अब वो सियासत पर वीडियो नहीं बनाएगा बल्कि सिर्फ़ कॉमेडी वीडियो बनाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस पर प्रशांत किशोर का डायरेक्ट वार: चिंतन शिविर पर उठाए सवाल, कहा- गुजरात-हिमाचल में भी होगी हार

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कॉन्ग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि इस चिंतन शिविर से पार्टी में कुछ बदलाव नहीं आने वाला है।

औरंगजेब मंदिर विध्वंस का चैंपियन, जमीन आज भी देवता के नाम: सुप्रीम कोर्ट को बताया क्यों ज्ञानवापी हिंदुओं का, कैसे लागू नहीं होता वर्शिप...

सुप्रीम कोर्ट में जवाबी याचिका में हिंदू पक्ष ने ज्ञानवापी मामले में कहा कि औरंगजेब ने मंदिर ध्वस्त कर भूमि को किसी को सौंपा नहीं था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,460FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe