Tuesday, June 25, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपहले गैंगरेप किया, फिर सिर में गोली मारी, उसके बाद स्तन काटकर खेलने लगे...

पहले गैंगरेप किया, फिर सिर में गोली मारी, उसके बाद स्तन काटकर खेलने लगे इस्लामी आतंकी: इजरायल पर हमास के हमले की क्रूर कहानी महिला ने बताई

इस्लामी आतंकी संगठन हमास के आतंकियों ने 7 अक्टूबर 2023 को इजरायल पर हमला कर दिया था। इस हमले में उसने दर्जनों महिलाओं के साथ गैंगरेप किया और उनकी हत्या कर दी थी। इजरायल की पुलिस को इस तरह के कई साक्ष्य मिले हैं। इसी हमले में बची एक महिला ने एक अन्य महिला के साथ गैंगरेप करते हुए हमास आतंकियों को देखा था।

इस्लामी आतंकी संगठन हमास द्वारा 7 अक्टूबर 2023 को इजरायल पर किए गए हमले में बचे लोग अब सामने आकर आपबीती सुना रहे हैं। ऐसी कई महिलाओं ने सामने आकर आतंकियों की बर्बरता को बताया है। ऐसी ही एक और महिला सामने आई है। उसकी कहानी रोंगटे खड़ी करने वाले हैं।

हमास के हमले में खुद को बचाने में कामयाब रही इस इजरायली महिला ने पुलिस की 433 लाहव क्राइम यूनिट के सामने रेइम इलाके में हुए नरसंहार की आँखों देखी बताई। महिला ने बताया कि उसने एक अन्य महिला का गैंगरेप देखा। गैंगरेप के बाद आतंकियों ने उसके सिर में गोली मारकर हत्या कर दी।

इस युवा महिला ने बताया, “मैं छुपने की कोशिश कर रही थी। मैंने देखा कि हमास का एक आतंकी एक महिला का रेप कर रहा है। वह महिला पहले जिन्दा थी और उसके शरीर के पिछले हिस्से से खून निकल रहा था। आतंकियों ने सेना की वर्दी पहन रखी थी।”

महिला ने आगे बताया, “वे (हमास आतंकी) उसके ऊपर झुका हुआ था। वे पीछे से उसके बालों को पकड़कर खींच रहे थे। मुझे महसूस हुआ कि वे लोग किसी महिला का गैंगरेप कर रहे थे। मैंने देखा कि एक के जाने के बाद दूसरा उसका बलात्कार करने आ रहा है।” बाद में उनमें से एक आतंकी ने महिला के सिर में गोली मार दी।

एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर एक इजरायली लेखक ने प्रत्यक्षदर्शी के हवाले से कहा कि हमास के आतंकवादियों में से एक ने बलात्कार करते समय युवती के सिर में गोली मार दी। “उसने अपनी पैंट भी नहीं उठाई। उन्होंने उसके स्तन काट दिए और उसके साथ खेला।” हेन मैज़िग ने प्रत्यक्षदर्शी के हवाले से कुछ सूत्रों से मिली जानकारी के बारे में यह बात कही।

ये कहानी उन दर्जनों महिलाओं की कहानी में से एक है, जिनके साथ हमास के आतंकियों ने क्रूरता की और उन्हें गोली मार दी थी। इजरायली पुलिस को ऐसी कई महिलाओं के शव मिले हैं, जिनके शरीर पर क्रूरता के निशान साफ तौर पर देखे गए। उनके शरीर को क्षत-विक्षत कर दिया गया था।

इजरायल की पुलिस के अलावा एक स्वयंसेवी संस्था ‘जाका’ (ZAKA) ने बलात्कारियों और हत्यारों को पहचानने में पुलिस की सहायता कर रहे हैं। यह समूह हमास के हमले के बाद से शवों को इकट्ठा कर रहा है। इसको मिले कई महिलाओं के शवों पर क्रूरता के निशान थे। पुलिस ने इन हत्या और बलात्कार की कुछ घटनाओं के अपराधियों को पहचानने में भी सफलता पाई है।

हमास के आतंकियों ने 7 अक्टूबर के हमले में 1,400 से अधिक लोगों को मार दिया था। हमास के आतंकियों ने इन हत्याओं की वीडियो भी बनाई थी। यह जानकारी सामने आई है कि इजरायल की पुलिस 50,000 वीडियो स्कैन कर रही है, ताकि आतंकियों और बलात्कारियों को पहचाना जा सके।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

‘जिन्होंने इमरजेंसी लगाई वे संविधान के लिए न दिखाएँ प्यार’: कॉन्ग्रेस को PM मोदी ने दिखाया आईना, आपातकाल की 50वीं बरसी पर देश मना...

इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही लोगों को याद दिलाया कि कैसे उस समय लोगों से उनके अधिकार छीने गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -