Saturday, June 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'...आखिरकार वे मेरे पिता थे': जिस बेटी को 30 सालों तक खुद को भगवान...

‘…आखिरकार वे मेरे पिता थे’: जिस बेटी को 30 सालों तक खुद को भगवान बताने वाले वामपंथी ने कैद में रखा, उसी ने कॉमरेड बाला की मौत पर व्यक्त किया दुख

कॉमरेड बाला खुद को भगवान बताता था। उसने कैदियों पर तमाम पाबंदियाँ लगा दी थीं। किसी को एक दूसरे से बात करना और शोर करना भी मना था। वो अपने नियम अपने अनुसार जब चाहे तब बदल देता था।

अपनी महिला फॉलोअर को बंधक बनाकर रखने और उनके साथ रेप के दोषी वामपंथी नेता अरविंदन बालाकृष्णन उर्फ कॉमरेड बाला की 7 अप्रैल 2022 को 81 साल की उम्र में लंदन की जेल में मौत हो गई थी। इसको लेकर बाला की बेटी केटी मॉर्गन-डेविसने कहा कि भले वह अपने पिता की कैद में 30 साल तक रही, लेकिन वे उनके पिता थे। केटी ने कहा कि अपने पिता कॉमरेड बाला को लेकर उनकी मिली-जुली भावनाएँ हैं।

30 साल बाद 2013 में अपने पिता की कैद से निकली केटी ने कहा, “ईमानदारी से कहूँ तो मेरी भावनाएँ मिश्रित हैं। हर कोई जानता है कि वह सबसे अच्छे पिता नहीं थे, लेकिन आखिरकार वह मेरे पिता थे और मुझे खेद है कि सुधार का मौका मिलने से पहले उनका निधन हो गया।”

यूके के लीड्स विश्वविद्यालय में दर्शनशास्त्र और समाजशास्त्र की पढ़ाई कर रही 39 वर्षीय केटी ने अपने पिता को लेकर कहा, “उनका जन्म केरल के मयनाड में हुआ था। वह 8 साल की उम्र में अपनी माँ के साथ सिंगापुर में सैनिक के रूप में तैनात पिता से मिलने के लिए चले गए थे।

कॉमरेड बाला के पिता ब्रिटिश सेना में काम करते थे और सिंगापुर में तैनात थे। उनका नाम आर बालाकृष्णन था। बाला की माँ की नाम सरोजिनी था। उनका एक छोटा भाई भी है, जो सिंगापुर में ENT सर्जन है।

न्यू इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में केटी ने बताया कि उनकी माँ का नाम सियान डेविस है और कॉमरेड बाला की फॉलोअर थीं। बाला ने उनकी माँ को भी प्रताड़ित किया था और साल 1997 में रहस्यमयी परिस्थितियों में गिरने से उनकी मौत हो गई थी। बाला की एक पत्नी का नाम चंदा था। ये सब एक साथ ही रहते थे।

बता दें कि अरविंदन को अपने महिला फॉलोअर्स को कैद में रखने और उनके साथ रेप करने के आरोप में साल 2016 में लंदन की एक अदालत ने उन्हें 23 साल की सजा सुनवाई थी। जेल में रहने के दौरान ही उनकी मौत हो गई।

कॉमरेड बाला खुद को भगवान बताता था। उसने कैदियों पर तमाम पाबंदियाँ लगा दी थीं। किसी को एक दूसरे से बात करना और शोर करना भी मना था। वो अपने नियम अपने अनुसार जब चाहे तब बदल देता था। उसने घर से बाहर कदम न रखने की धमकी देते हुए कैदियों से चप्पे-चप्पे पर अपने जासूस होने की धमकी दी थी। इस धमकी में वो जैकी नाम के काल्पनिक रोबोट की भी बात करता था। कॉमरेड बाला कहता था कि जैकी किसी के गलती करने पर उसे मार डालेगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जाकिर और शाकिर ने रात के अंधेरे में जगन्नाथ मंदिर में फेंका गाय का कटा सिर: रतलाम में हंगामे के बाद पुलिस ने दबोचा,...

रतलाम के भगवान जगन्नाथ मंदिर में गाय का मांस फेंककर अपवित्र करने के आरोप में पुलिस ने जाकिर और शाकिर को गिरफ्तार किया है।

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -