Friday, July 12, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान खान की दिमागी हालत खराब… मेडिकल रिपोर्ट दिखाकर Pak के स्वास्थ्य मंत्री ने...

इमरान खान की दिमागी हालत खराब… मेडिकल रिपोर्ट दिखाकर Pak के स्वास्थ्य मंत्री ने पूर्व PM को ‘नशेड़ी’ बताया, बोले- पाँव का प्लास्टर ‘नौटंकी’

पाकिस्तान के स्वास्थ मंत्री अब्दुल कादिर ने इमरान खान पर फर्जी का प्लास्टर पैर में बाँधने का आरोप लगाया। साथ ही ये भी कहा कि मुल्क के वजीर-ए-आजम रह चुके इमरान खान की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।

पाकिस्तान में सत्ता के लिए आंतरिक घमासान अभी भी जारी है। शुक्रवार (26 मई 2023) को वहाँ के वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री अब्दुल कादिर पटेल ने अपने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को नशेड़ी घोषित कर दिया। उन्होंने अपने आरोपों के समर्थन में मेडिकल रिपोर्ट्स मौजूद होने का भी दावा किया। उन्होंने इमरान खान के पैर में फैक्चर आने के आरोपों का भी खंडन किया और उनके द्वारा कराए गए प्लास्टर को नाटक बताया। इसी दौरान इमरान खान की मानसिक स्थिति भी सही नहीं बताई गई।

कराची में मीडिया से बात करते हुए पाकिस्तानी स्वस्थ्य मंत्री अब्दुल कादिर ने बताया कि इमरान की गिरफ्तारी के बाद उनका सीनियर डॉक्टरों की देखरेख में मेडिकल करवाया गया था। इस मेडिकल रिपोर्ट को पूरी तरह से निष्पक्ष बताते हुए कादिर ने बताया कि इमरान खान बिना किसी फैक्चर के पिछले 5-6 महीने से प्लास्टर बंधवा कर घूम रहे थे। पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री ने मीडिया से ही सवाल कर लिया कि क्या चमड़े या माँस में लगी किसी भी चोट पर कोई प्लास्टर बँधवाता है वो भी 5-6 महीने तक लगातार ?

इमरान खान पर व्यंग करते हुए अब्दुल क़ादिर ने कहा कि छत का प्लास्टर उतर गया पर उनके पैर का नहीं। उन्होंने इमरान पर प्लास्टर की सियासत करने का आरोप लगाया। कराए गए मेडिकल की अगली रिपोर्ट का जिक्र करते हए अब्दुल कादिर ने इसे इमरान खान के मूत्र का सैम्पल बताया। उन्होंने कहा कि जब तक पूरी रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक वो उस पर कोई टिप्पणी तो नहीं करेंगे लेकिन प्रथम दृष्टया इमरान खान द्वारा शराब और कोकीन का इस्तेमाल किया जाना लग रहा है।

पाक के स्वास्थ्य मंत्री अब्दुल क़ादिर ने मेडिकल रिपोर्ट में तीसरा बिंदु इमरान खान के दिमागी हालत को ले कर बताया। उनका कहना था कि रिपोर्ट में इमरान खान की मानसिक हालत को अस्थिर बताया गया है। 5 सीनियर डाक्टरों की रिपोर्ट का हवाला देते हुए अब्दुल कादिर ने लोगों से कहा, “ये आपका वजीर ए आज़म” था।अब्दुल कादिर ने यह भी दावा किया कि उन्होंने इमरान की खराब दिमागी हालत को पहले ही पहचान लिया था और इस मुद्दे को वहाँ की असेम्बली में भी उठाया था। सलाह के तौर पर उन्होंने इमरान को दुर्लभ चीज बताते हुए म्यूजियम में रखने की माँग की।

पाकिस्तानी स्वास्थ्य मंत्री ने कुछ दिनों पहले वहाँ हुए बवाल को इमरान खान द्वारा प्रायोजित भी बताया। हालाँकि उन्होंने इशारों ही इशारों में पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट द्वारा इमरान खान के पक्ष में फैसला आने पर नाराजगी जताई। अब्दुल कादिर का कहना था कि ऐसा इंसाफ हुआ कि इमरान के पहले के जो गुनाह थे और बाद में भी वो जो करेंगे वो सब माफ़ कर दिए गए।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

उधर कॉन्ग्रेसी बक रहे गाली पर गाली, इधर राहुल गाँधी कह रहे – स्मृति ईरानी अभद्र पोस्ट मत करो: नेटीजन्स बोले – 98 चूहे...

सवाल हो रहा है कि अगर वाकई राहुल गाँधी को नैतिकता का इतना ज्ञान है तो फिर उन्होंने अपने समर्थकों के खिलाफ कभी कार्रवाई क्यों नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -