Wednesday, July 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयफिलिस्तीन के समर्थन में लंदन में सड़कों पर उतरी लाखों की मुस्लिम भीड़: भारत...

फिलिस्तीन के समर्थन में लंदन में सड़कों पर उतरी लाखों की मुस्लिम भीड़: भारत के केरल, कश्मीर और मुंबई में भी इजरायल के खिलाफ प्रदर्शन, जमकर हुई नारेबाजी

हूती आतंकियों ने भी हमास के पक्ष में इजरायल पर हमले शुरू कर दिए हैं। वहीं सउदी अरब और इरान जैसे एक दूसरे के धुर विरोधी देश भी इस मामले में दुश्मनी भूल कर फिलिस्तीन के साथ खड़े हो गए हैं।

इजरायल-हमास युद्ध अपने तीसरे सप्ताह में प्रवेश कर गया है। वहीं विश्व के कई देशों में इजरायल के विरोध और फिलिस्तीन के समर्थन में मुस्लिमों द्वारा लगातार प्रदर्शन किए जा रहे हैं। कहीं युद्ध विराम की माँग हो रही है तो कोई इजरायल को मिटाने का ही सपना देख रहा है।

इस बीच इजरायल द्वारा गाजा पर की जा रही बमबारी बंद करने की माँग को लेकर हजारों फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारियों ने शनिवार (21 अक्टूबर, 2023) को लंदन और अन्य शहरों में मार्च किया। साथ ही भारत में भी जम्मू कश्मीर के श्रीनगर, केरला और मुंबई में मुस्लिमों द्वारा प्रदर्शन किया गया। 

लंदन की सड़कों पर फिलिस्तीन के समर्थन में उतरी लाखों की मुस्लिम भीड़

पहले बात करते हैं लंदन की, जहाँ व्हाइटहॉल की ओर मार्च करने से पहले लंदन के हाइड पार्क के पास मार्बल आर्क में फिलिस्तीन के समर्थन में मार्च करने के लिए करीब एक लाख की भीड़ सड़कों पर उतरकर मध्य लंदन में घूमती रही। यह आँकड़ा वहाँ की मेट्रोपोलिटन पुलिस द्वारा दिया गया है जो भीड़ की भयावहता को भी दर्शाती है।

हाथों में फ़िलिस्तीनी झंडा लहराते हुए लंदन की सड़कों पर उतरी मुस्लिमों की यह भारी भीड़ गाजा पर इजरायली हमले को रोकने की माँग करती रही। भीड़ ने हमास द्वारा दक्षिणी इजरायल में आतंकी हमले के बाद  इजरायल द्वारा शुरू किए गए नाकाबंदी और हवाई हमलों को समाप्त करने का आह्वान किया।

जहाँ शुरू में यही समूह हमास के आतंकी हमले पर खुशियाँ मना रहे थे वहीं अब इजरायल द्वारा की जा रही कार्रवाई से बेचैन होकर हर दिन युद्ध विराम की माँग कर रहे हैं। हमास और इजरायल के बीच जारी इस युद्ध ने दुनिया भर में तनाव बढ़ा दिया है।  और पूरे विश्व में यहूदियों के लिए खतरा पैदा कर दिया है। फिर भी इजरायल हमास द्वारा अपने नागरिकों के मारे जाने और बंधकों को छुड़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। 

वहीं ब्रिटेन में मुस्लिम भीड़ द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शन ने यहूदी समुदाय की चिंता को बढ़ा दिया है। लंदन के मेट्रोपॉलिटन पुलिस बल का कहना है कि पिछले साल की तुलना में अक्टूबर में यहूदी विरोधी अपराधों की रिपोर्ट में 13 गुना वृद्धि देखी गई है। 

केरल के पलक्कड़ में भी फिलिस्तीन के समर्थन में मार्च 

केरल में भी फिलिस्तीन के समर्थन में मुस्लिम भीड़ द्वारा सड़क पर उतरकर मार्च किया गया। केरल के पल्लकड़ में इजरायल के विरोध और हमास के समर्थन में उतरी मुस्लिम भीड़ ने यहाँ गलती से इटली का झंडा उठा रखा था।  जिसका सोशल मीडिया एक्स पर मजाक भी उड़ाया गया। साथ ही इस बात पर चिंता भी व्यक्त की गई कि कैसे भारत में हजारों की संख्या में मुस्लिम भीड़ सड़कों पर उतरकर खुलेआम हमास और फिलिस्तीन का समर्थन कर रही है। 

केरल में इजरायल के विरोध और फिलिस्तीन के समर्थन में नारेबाजी भी की गई।

मुंबई में मुस्लिम नेताओं ने किया फिलिस्तीन के समर्थन में मार्च 

आज जम्मू कश्मीर के श्रीनगर से महबूबा मुफ़्ती द्वारा फिलिस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन करने की खबर आई। जिसमें उन्होंने इजरायल को जालिम बताते हुए युद्ध विराम की माँग की। उन्होंने विश्व के नेताओं से इजरायल को गाजा पर हमला करने से रोकने की भी अपील की। 

वहीं मुंबई से भी या खबर आई कि वहाँ भी मुस्लिमों द्वारा फिलिस्तीन के समर्थन में मार्च किया गया है। मुंबई में समाजवादी पार्टी के नेता अबू आजमी फिलिस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन का नेतृत्व किया। अबू आजमी ने राम मंदिर पर कमेंट किया और मस्जिद में अपनी आस्था पर जोर दिया। मुंबई में इजरायल के खिलाफ एक रिज्यूलेशन भी पास किया गया। वहीं आरएसएस के खिलाफ भी बयानबाजी की गई। 

गौरतलब है कि हूती आतंकियों ने भी हमास के पक्ष में इजरायल पर हमले शुरू कर दिए हैं। वहीं सउदी अरब और इरान जैसे एक दूसरे के धुर विरोधी देश भी इस मामले में दुश्मनी भूल कर फिलिस्तीन के साथ खड़े हो गए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -